Uttarakhand Assembly Session: परिसर में नहीं आ सकेंगे विधायकों के सहयोगी और सुरक्षाकर्मी, सत्र की कार्यवाही का किया जाएगा वेबकास्ट

Uttarakhand Assembly Winter Session 2021 नौ दिसंबर से आरंभ होने वाले शीतकालीन सत्र में विधायकों के सहयोगी व सुरक्षा कर्मियों को विधानसभा परिसर में आने की अनुमति नहीं होगी। विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने उच्चाधिकारियों के साथ बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में यह जानकारी दी।

Raksha PanthriWed, 08 Dec 2021 08:35 AM (IST)
परिसर में नहीं आ सकेंगे विधायकों के सहयोगी और सुरक्षाकर्मी।

राज्य ब्यूरो, देहरादून। Uttarakhand Assembly Winter Session 2021 विधानसभा के नौ दिसंबर से आरंभ होने वाले शीतकालीन सत्र में विधायकों के सहयोगी व सुरक्षा कर्मियों को विधानसभा परिसर में आने की अनुमति नहीं होगी। विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने मंगलवार को विधानसभा में सत्र के दौरान की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर उच्चाधिकारियों के साथ बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सत्र के दौरान केवल विधानसभा अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, नेता सदन, नेता प्रतिपक्ष व मंत्रियों के वाहनों को परिसर में प्रवेश की अनुमति होगी। पूर्व विधायकों से भी परिसर में आने से बचने का आग्रह किया गया है। गैर सरकारी व्यक्तियों को परिसर में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने बताया कि सत्र की कार्यवाही को वेबकास्ट भी किया जाएगा।

मुख्य द्वार से सदन तक सैनिटाइजेशन की व्यवस्था

विधानसभा अध्यक्ष ने बताया कि सत्र के दौरान कोविड गाइडलाइन का कड़ाई से अनुपालन कराया जाएगा। इस कड़ी में विधानसभा के मुख्य प्रवेश द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। मुख्य द्वार से लेकर सदन तक सभी को सैनिटाइज कराने की व्यवस्था होगी। उन्होंने बताया कि सत्र के दौरान आवश्यक चिकित्सा दल, दवाओं की व्यवस्था करने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिए गए हैं।

व्यवस्था चाक-चौबंद रखने के निर्देश

विधानसभा अध्यक्ष ने सत्र के दौरान सुरक्षा व्यवस्था को लेकर उच्चाधिकारियों के साथ हुई बैठक में विभिन्न विषयों पर चर्चा की। उन्होंने विधानसभा सचिवालय और पुलिस के अधिकारियों को सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रखने को कहा। साथ ही आवश्यक व्यवस्था जल्द पूरी करने पर जोर दिया। बैठक में विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान, मुख्य सचिव एसएस संधु, अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी व आनंद बद्र्धन, डीएम आर राजेश कुमार, सीएमओ मनोज उप्रेती, एसएसपी जन्मेजय खंडूड़ी, विधानसभा के प्रभारी सचिव मुकेश सिंघल आदि उपस्थित थे।

कार्यमंत्रणा समिति व दलीय नेताओं की बैठकें आज

विधानसभा की कार्यमंत्रणा समिति की बुधवार को विधानसभा में बैठक होगी, जिसमें सत्र के लिए बिजनेस तय किया जाएगा। इसके साथ ही विधानसभा अध्यक्ष अग्रवाल की अध्यक्षता में दलीय नेताओं की बैठक भी होगी।

विधायकों ने लगाए 250 सवाल

विधानसभा के इस अंतिम सत्र के लिए विधायकों ने अब तक 250 सवाल लगाए हैं। यह सिलसिला अभी जारी है।

पंवार व कैड़ा बतौर विधायक कार्यवाही में लेंगे हिस्सा

भाजपा में शामिल हुए निर्दलीय विधायक प्रीतम सिंह पंवार व राम सिंह कैड़ा भी शीतकालीन सत्र में बतौर विधायक भाग लेंगे। विधानसभा अध्यक्ष अग्रवाल के मुताबिक दोनों विधायकों की सदस्यता रद करने के सिलसिले में याचिकाएं आई हैं, मगर ये त्रुटिपूर्ण हैं। फिर अभी इस बारे में कोई निर्णय नहीं हुआ है। ऐसे में पंवार व कैड़ा बतौर विधायक सदन की कार्यवाही में भाग ले सकते हैं। गौरतलब है कि पूर्व में कांग्रेस विधायक राजकुमार भाजपा में शामिल हो गए थे, जबकि कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य व उनके पुत्र विधायक संजीव आर्य ने भाजपा छोड़कर कांग्रेस में घर वापसी कर ली थी। तीनों ने ही विधानसभा की सदस्यता से पूर्व में त्यागपत्र दे दिया था। इसके अलावा विधानसभा की गंगोत्री व हल्द्वानी सीटें रिक्त चल रही हैं। ऐसे में 70 सदस्यीय विधानसभा में इस मर्तबा पांच विधायक कम रहेंगे।

यह भी पढ़े- Uttarakhand Election: अखिलेश का उत्तराखंड में चुनावी दौरा इसी महीने, बदले तेवर के साथ मैदन में उतर रही सपा

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.