Uttarakhand Election 2022: कांग्रेस की प्रदेश स्क्रीनिंग कमेटी के अध्‍यक्ष बोले, टिकट में महिलाओं और युवाओं की दावेदारी पर होगा विचार

Uttarakhand Assembly Elections 2022 कांग्रेस की प्रदेश स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष अविनाश पांडेय ने 2022 के विधानसभा चुनाव में महिलाओं और युवाओं की टिकट पर ज्यादा दावेदारी पर विचार करने के संकेत दिए। जिन विधानसभा क्षेत्रों में महिलाएं सशक्त दावेदार होंगी उन्हें मौका दिया जाएगा।

Raksha PanthriWed, 24 Nov 2021 10:14 AM (IST)
कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक जारी, तय होगा टिकट का फार्मूला।

राज्य ब्यूरो, देहरादून। Uttarakhand Assembly Elections 2022 कांग्रेस की प्रदेश स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष अविनाश पांडेय ने 2022 के विधानसभा चुनाव में महिलाओं और युवाओं की टिकट पर ज्यादा दावेदारी पर विचार करने के संकेत दिए। जिन विधानसभा क्षेत्रों में महिलाएं सशक्त दावेदार होंगी, उन्हें मौका दिया जाएगा। टिकट को लेकर पार्टी में आम राय बनाने में कामयाब रहने वाले युवा भी टिकट के हकदार होंगे। उन्होंने कहा कि कमेटी आने वाले दिनों में दोनों मंडलों गढ़वाल और कुमाऊं का दौरा कर टिकट के दावेदारों के साथ ही पार्टी की जिला इकाइयों से भी मुलाकात करेगी।

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में अविनाश पांडेय ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में युवाओं, महिलाओं के सशक्तीकरण पर पार्टी का जोर रहेगा। टिकट वितरण में उनके दावों को महत्व दिया जाएगा। चुनाव में टिकट वितरण की प्रक्रिया शुरू होने से पहले ब्लाक कांग्रेस कमेटी, जिला कांग्रेस कमेटी के माध्यम से प्राप्त आवेदनों पर प्रदेश चुनाव समिति के विचार करने के बाद स्क्रीनिंग कमेटी आगे कार्यवाही करेगी। स्क्रीनिंग कमेटी टिकट को लेकर अपनी संस्तुति केंद्रीय चुनाव समिति को देगी। केंद्रीय चुनाव समिति में मंथन के बाद टिकट को लेकर पार्टी हाईकमान का निर्णय अंतिम होगा।

दावेदारी परखने को छह माह से चल रहा सर्वे

उन्होंने कहा कि पार्टी में प्रत्याशियों के चयन की चरणबद्ध प्रक्रिया है। इसमें स्क्रीनिंग कमेटी अपनी निर्धारित भूमिका निभाएगी। बुधवार को कमेटी ने अलग-अलग पांच बैठकों में भाग लिया। टिकट की दावेदारी का फार्मूला भी सुझाया गया। विधानसभा सीटों पर प्रत्याशियों के चयन में सोच-समझकर निर्णय होगा। इस बारे में छह माह पहले से ही विभिन्न सर्वे, सामाजिक समीकरणों, दावेदारों की सक्रियता का अध्ययन शुरू किया जा चुका है।

टिकट जल्द तय करने पर होगा विचार

उन्होंने कहा कि सर्वे रिपोर्ट, पर्यवेक्षकों की रिपोर्ट, कमेटी की संस्तुति, दावेदार की पार्टी के प्रति निष्ठा, चुनावी गतिविधियों में सक्रियता टिकट तय करने का पैमाना होगा। पर्यवेक्षक भी आगामी दिनों में अपनी रिपोर्ट सौंपने जा रहे हैं। पांडेय ने कहा कि कोशिश की जा रही है कि टिकट जल्द तय किए जाएं, ताकि प्रत्याशियों को चुनाव प्रचार के लिए अधिक समय मिल सके।

सामूहिक नेतृत्व में लड़ेंगे चुनाव

अविनाश पांडेय ने कहा कि पार्टी विधानसभा चुनाव सामूहिक नेतृत्व में लड़ेगी। इक्का-दुक्का अपवाद छोड़ दिए जाएं तो कांग्रेस में किसी चेहरे विशेष को आगे करने की परंपरा नहीं रही है। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश में बदलाव की हवा तेज हो रही है। राज्य की जनता कांग्रेस को मौका देने जा रही है। इस अवसर पर प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव, प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह, स्क्रीनिंग कमेटी के सदस्य डा अजोय कुमार व वीरेंद्र सिंह राठौर, प्रदेश सह प्रभारी राजेश धर्माणी व दीपिका पांडेय सिंह मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- एक बार फिर चर्चा में कैबिनेट मंत्री हरक, जानें- क्यों बोले इस्तेमाल हो चुके बारूद से नहीं होती धमाके की उम्मीद

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.