किराया न बढ़ाए जाने से परिवहन व्यवसायी नाराज, वाहनों का संचालन बंद करने की दी चेतावनी

आयुक्त को ज्ञापन भेज किराया निर्धारित न होने पर वाहनों का संचालन बंद करने की चेतावनी दी है।

राज्य सरकार ने परिवहन को लेकर नई एसओपी जारी की है। मगर नई एसओपी में किराया वृद्धि संबंधी आदेश न होने से परिवहन व्यवसायी नाराज हैं। परिवहन आयुक्त को ज्ञापन भेज किराया निर्धारित न होने पर वाहनों का संचालन बंद करने की चेतावनी दी है।

Sumit KumarSun, 18 Apr 2021 05:11 PM (IST)

जागरण संवाददाता, ऋषिकेश : उत्तराखंड में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने परिवहन को लेकर नई एसओपी जारी की है। मगर, नई एसओपी में किराया वृद्धि संबंधी आदेश न होने से परिवहन व्यवसायी नाराज हैं। व्यवसायियों ने परिवहन आयुक्त को ज्ञापन भेज किराया निर्धारित न होने पर वाहनों का संचालन बंद करने की चेतावनी दी है। 

शनिवार को यातायात और पर्यटन विकास सहकारी संघ के अध्यक्ष मनोज ध्यानी ने परिवहन आयुक्त को पत्र प्रेषित किया। उन्होंने बताया कि एक दिन पूर्व प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए नई एसओपी जारी की है। इसमें वाहनों में 50 प्रतिशत क्षमता तक यात्रियों को बैठाने के आदेश जारी किए गए हैं। लेकिन इस एसओपी में किराए को लेकर कोई नीति निर्धारित नहीं की गई है। पूर्व में जब एसओपी जारी हुई थी, उस समय वाहनों में 50 प्रतिशत यात्रियों को बिठाने का आदेश आया था और उसमें यात्रियों से दोगुना किराए लिए जाने के भी आदेश किए गए थे। जबकि इस बार की एसओपी में किराया निर्धारित नहीं किया गया है। इससे परिवहन कारोबारियों और यात्रियों में संशय बना हुआ है। ऐसे में वाहनों का संचालन करना मुश्किल होगा। उन्होंने जल्द किराया बढ़ाए जाने के आदेश भी जारी करने की मांग की। ऐसा न होने पर उन्होंने वाहनों का संचालन बंद करने की चेतावनी दी। 

यह भी पढ़ें- Uttarakhand Forest Fire: उत्तराखंड में जंगल की आग से भारी नुकसान, डेढ़ दर्जन मवेशी जिंदा जले 

सूर्य प्रकाश पुरोहित बने समन्वय समिति के अध्यक्ष 

उत्तराखंड विद्युत अधिकारी कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा गंगा वैली की बैठक में समन्वय समिति का गठन कर सूर्य प्रकाश पुरोहित को अध्यक्ष व विकास उपाध्याय को सचिव  चुना गया। 

चीला में हुई बैठक में अरुण बिष्ट, विकास चौहान, सईद मुर्तजा, बीरेंद्र ङ्क्षसह बोरा, यशपाल ङ्क्षसह बिष्ट को उपाध्यक्ष, विवेक कुमार, गजेंद्र कौशिक, कल्पना त्यागी को उपसचिव, विक्रम ङ्क्षसह को कोषाध्यक्ष, विकास कश्यप को सहकोषाध्यक्ष चुना गया। दिनेश बिष्ट, नरेंद्र बिष्ट,  दीपक जोशी, अतुल कांत शर्मा, इमरान, सोनी पाल, प्रवीण चौरसिया, निकिता गोयल, योगेश कुमार, संदीप कुमार, जियाउर्रहमान, अरङ्क्षवद बहुगुणा, बालम ङ्क्षसह रावत व देवेंद्र कुमार कार्यकारिणी सदस्य बनाए गए। अध्यक्ष सूर्यप्रकाश पुरोहित ने बताया कि लंबे समय से कर्मचारियों की समस्या का समाधान नहीं हो रहा है। आंदोलन की तैयारी के लिए समन्वय समिति का गठन किया गया है। 

यह भी पढ़ें- Right To Education: स्कूलों को देना होगा आरटीई के एडमिशन का शपथ पत्र

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.