देहरादून: सेवानिवृत्त डिप्टी कमिश्नर से ठगे तीन करोड़ 65 लाख, ठगों ने ऐसे लिया था झांसे में

प्रेमनगर में हास्टल दिलाने के नाम पर नौ व्यक्तियों ने आबकारी और कराधान विभाग दिल्ली से सेवानिवृत्त डिप्टी कमिश्नर से तीन करोड़ 65 लाख रुपये की ठगी कर ली। प्रेमनगर थाना पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Raksha PanthriSun, 01 Aug 2021 11:10 AM (IST)
सेवानिवृत्त डिप्टी कमिश्नर से ठगे तीन करोड़ 65 लाख, ठगों ने ऐसे लिया था झांसे में।

जागरण संवाददाता, देहरादून। प्रेमनगर में हास्टल दिलाने के नाम पर नौ व्यक्तियों ने आबकारी और कराधान विभाग दिल्ली से सेवानिवृत्त डिप्टी कमिश्नर से तीन करोड़ 65 लाख रुपये की ठगी कर ली। प्रेमनगर थाना पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पुलिस के अनुसार शिकायतकर्ता विजय यादव निवासी रेल विहार गुरुग्राम हरियाणा ने बताया कि वह 2018 में सेवानिवृत्त हुए थे। इसके बाद उन्होंने देहरादून में कारोबार शुरू करने की योजना बनाई। मूल रूप से हरियाणा के रहने वाले राकेश त्यागी वर्तमान निवासी प्रेमनगर ने उन्हें प्रेमनगर कोल्हूपानी स्थित अपना जिया हास्टल खरीदने की सलाह दी। 14 अप्रैल 2019 को दोनों पक्षों के बीच सोनीपत हरियाणा में फाइनल समझौता होना निश्चित हुआ। इस दौरान तय हुआ कि राकेश त्यागी जिया होस्टल का भवन व जमीन सारे सामान के साथ तीन करोड़ 65 लाख रुपये में बेचेगा। इसी दिन पीड़ित ने आरोपित को 22 लाख रुपये अग्रिम भुगतान के रूप में दे दिए। कुछ दिन बाद पीड़ित को पता लगा कि होस्टल बिना नक्शा पास किए बना हुआ है और एमडीडीए ने होस्टल को ध्वस्त करने के लिए नोटिस चस्पा कर रखा है।

15 मई 2019 को जब पीड़ित आरोपित राकेश त्यागी को मिला तो राकेश ने विश्वास दिलाया कि नक्शा पास वह खुद करवाएगा। आरोपित ने नक्शा पास करवाने के लिए दो करोड़ रुपये मांगे। इसके बाद आरोपित ने 21 मई 2019 को होस्टल पर कब्जा विजय यादव को दे दिया। आरोपित ने 28 फरवरी 2020 को पीड़ित से 58 लाख 39 हजार रुपये अलग-अलग खर्चे के रूप में ले लिए। इसके बाद राकेश त्यागी ने जब और पैसे मांगे व रजिस्ट्री करने को कहा तो पीडि़त ने आरोपित को मेल भेजी कि शेष रकम तब दी जाएगी जब नक्शा पास हो जाएगा।

इसके बाद पीड़ित अपने वकील के साथ आरोपित के घर पहुंचा तो आरोपित ने फिर कहा कि जल्द नक्शा पास हो जाएगा। इसके बाद पीड़ित ने 25 लाख रुपये आरोपित के खाते में डाले। इस तरह विभिन्न किश्तों में आरोपित ने तीन करोड़ 65 लाख रुपये ठग लिए। 21 मई 2020 को आरोपित ने अपने साथियों के साथ मिलकर फर्जी दस्तावेज बनाकर होस्टल पर कब्जा कर लिया। 30 मई को आरोपित ने पीड़ित विजय यादव को अपने वकील से नोटिस भिजवा कि उन्होंने राकेश त्यागी को होस्टल पर कब्जा दे दिया है।

एसओ प्रेमनगर धनराज बिष्ट ने बताया कि आरोपित राकेश त्यागी उसके साथी राजेंद्र सिंह, करण सिंह, दीपक कुमार व विजय कुमार पांचों निवासी कोल्हूपानी विकासनगर प्रेमनगर व रामकुमार त्यागी निवासी ग्राम टिकोला जिला सोनीपत हरियाणा, राजबीर निवासी ग्राम गणेशपुर पोस्ट मवाना जिला मेरठ उत्तर प्रदेश, राम नरेश निवासी ग्राम टिकोला जिला सोनीपत हरियाणा, अवनीत निवासी मोहम्मदपुर कदीम गाजियाबाद उत्तर प्रदेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें- Dehradun Crime News: देहरादून में चोरी की पांच स्कूटी के साथ तीन आरोपित गिरफ्तार

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.