उत्तराखंड में कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन के स्तन कैंसर जागरूकता कार्यक्रम को इजराइल ने सराहा

महिलाओं में स्तन कैंसर के प्रति जागरुकता एवं रोकथाम के लिए प्रयासरत संस्था कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन को अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता मिलना प्रारंभ हो गया है। भारत में इजराइल के दूतावास की ओर से उत्तराखंड में फाउंडेशन के कार्यों की सराहना की गई।

Sumit KumarSun, 24 Oct 2021 04:27 PM (IST)
स्तन कैंसर के प्रति जागरुकता को प्रयासरत संस्था कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता मिलना प्रारंभ हो गया।

जागरण संवाददाता, देहरादून : महिलाओं में स्तन कैंसर के प्रति जागरुकता एवं रोकथाम के लिए प्रयासरत संस्था कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन को अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता मिलना प्रारंभ हो गया है। भारत में इजराइल के दूतावास की ओर से उत्तराखंड में फाउंडेशन के कार्यों की सराहना की गई। साथ ही फाउंडेशन के साथ कार्य करने की मंशा जाहिर की गई।

अभी हाल ही में कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन की अध्यक्ष डा. सुमिता प्रभाकर को विशेष रूप से इजराइल दूतवास ने दिल्ली आमंत्रित किया। दूतावास में अंतरराष्ट्रीय स्तन कैंसर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में बीस देशों के राजनायिकों के साथ ही कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन की अध्यक्ष डा. सुमिता प्रभाकर ने शिरकत की। कार्यक्रम की शुरुआत में भारत में इजराइल के राजदूत की पत्नी ओरली गिलोन व उनकी सहयोगी डीसीएम रोनी येडिडिया क्लिएन ने संबोधित किया। उन्होंने कहा कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन जमीनी स्तर के कार्य कर रहा हैं जो सराहनीय प्रयास है। कैंसर जागरुकता के साथ रोकथाम और रोग के जल्दी निदान के लिए स्वास्थ्य शिविर लगाए जा रहे हैं। इन शिविरों में महिलाओं को अत्याधुनिक स्वास्थ सुविधा मिलने से आने वाले समय में भारत में स्तन कैंसर के मामलों में कमी आ सकती है। कार्यक्रम के दौरान कैन डा. सुमिता प्रभाकर ने फाउंडेशन की ओर से किए जा रहे कार्यों के बारे में विस्तृत जानकारी साझा की।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: जिलों को शिक्षक भर्ती शुरू करने के आदेश, जानिए किस जिले में हैं कितने पद

दून में नौ लोग मिले कोरोना संक्रमित

राजधानी दून में लंबे समय से पांच से कम व्यक्ति कोरोना संक्रमित मिल रहे थे। बीते 24 घंटे की जांच में यह संख्या अचानक से नौ पहुंच गई। हालांकि, प्रदेश में कुल 16 व्यक्ति ही कोरोना संक्रमित पाए गए और संक्रमण दर 0.13 फीसद रही।

राज्य सरकार के हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, चंपावत, पौड़ी, रुद्रप्रयाग, टिहरी, ऊधमसिंहनगर व उत्तरकाशी में कोरोना का एक भी नया मामला नहीं पाया गया। नैनीताल में तीन, हरिद्वार व पिथौरागढ़ में दो-दो व्यक्ति संक्रमित मिले। इतना जरूर है कि 12 हजार 367 व्यक्तियों की जांच के हिसाब से यह आंकड़ा ना के बराबर है। प्रदेश का रिकवरी रेट निरंतर 96 फीसद के पार बना है और एक्टिव केस 169 हैं।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: आपत्तियों के कारण नहीं हुआ किराया वृद्धि पर फैसला, नए सिरे से बनाई जाएगी समिति

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.