पटेलनगर में श्रीमद्भागवत कथा के तीसरे दिन भजनों पर झूमे भक्‍त

अग्रवाल समाज देहरादून की ओर से महाराजा अग्रसेन के जन्मोत्सव के अवसर पर आयोजित श्रीमद्भागवत कथा में कर्मों के महत्व पर प्रकाश डाला गया। इस मौके पर राधे राधे जपो चले आएंगे बिहारी... सांवरिया ले चल... काली कमली वाला मेरा यार है... आदि भजनों पर भक्त भी झूम उठे।

Sumit KumarSun, 26 Sep 2021 06:56 PM (IST)
महाराजा अग्रसेन के जन्मोत्सव के अवसर पर आयोजित श्रीमद्भागवत कथा में कर्मों के महत्व पर प्रकाश डाला गया।

जागरण संवाददाता, देहरादून: अग्रवाल समाज देहरादून की ओर से महाराजा अग्रसेन के जन्मोत्सव के अवसर पर आयोजित श्रीमद्भागवत कथा में कर्मों के महत्व पर प्रकाश डाला गया। रविवार को पटेलनगर स्थित एक पैलेस में आयोजित कार्यक्रम में श्रीमद्भागवत कथा और महाराजा अग्रसेन की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए व्यास सुभाष जोशी ने कहा कि श्रीमद्भागवत कथा हमें अच्छे कर्मों का ज्ञान देती है।

उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति स्त्री की और अपनी संस्कृति की रक्षा करता है, वही जीवन में ऊंचा उठता है और बलवान होता है। उन्होंने सभी से प्रकृति की रक्षा करने और अधिक से अधिक पौधे लगाने का आह्वान किया। इस मौके पर राधे राधे जपो, चले आएंगे बिहारी..., सांवरिया ले चल..., काली कमली वाला मेरा यार है... आदि भजनों पर भक्त भी झूम उठे।

रक्तदान शिविर का हुआ आयोजन

कथा स्थल पर नव्या फाउंडेशन और जीवन फाउंडेशन ने अग्रवाल समाज के सहयोग से रक्तदान शिविर का आयोजन किया। इसमें 50 यूनिट रक्त एकत्र किया गया। इस मौके पर उपमा अग्रवाल, कमलेश अग्रवाल, फतेह चंद गर्ग, सुनील कुमार अग्रवाल, सतीश कंसल, नवीन सिंघल, एडवोकेट विजय गुप्ता आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- कोरोनाकाल में अनाथ लड़कियों के विवाह का खर्च उठाएगा अग्रवाल समाज, पढ़‍िए पूरी खबर

माता पिता देवतुल्य हैं, इसलिए आदर करना हमारा परम कर्तव्य

विश्व जागृति मिशन के अपर तुनवाला आनंद देव लोक आश्रम में आचार्य कुलदीप पांडे के पावन सानिध्य में सत्संग का आयोजन किया गया। वीडियो प्रोजेक्टर से प्रवचन करते हुए संत सुधांशु महाराज ने कहा माता पिता देवतुल्य हैं, इसलिए उनका सदैव आदर करना हमारा परम कर्तव्य है। सुधांशु महाराज ने आह्वान किया कि हर वर्ष दो अक्टूबर को अपने अपने माता -पिता का पूजन वंदन कर उनको उपहार देकर सम्मानित करना चाहिए, ताकि भारतीय संस्कृति को विदेशी संस्कृति से रक्षा की जा सके। आचार्य कुलदीप पांडे ने कहा सतगुरु के ज्ञान से ही हमारी आध्यात्मिक यात्रा शुरू होती है। जिससे हमारा आत्म कल्याण होता है। इसलिए सदगुरु को विष्णु रूप खा गया है। आरती के पश्चात भंडारा वितरित किया गया।

कार्यक्रम में प्रधान सुधीर शर्मा, उप प्रधान अमर नाथ आहुजा, महामंत्री प्रेम भाटिया, प्रचार मंत्री भूपेंद्र चड्ढा, तेज कुमार, नरेश चंद्र शर्मा, मानसी शर्मा, हरीश भट्ट, जगदीश पोखरियाल, अश्वनी खुराना, आर डी सिंघल, सीमा सिंह, सुषमा भाटिया, रंजना खत्री, नीतू भट्ट, विजय खत्री, रमन आचार्य, उषा किरण, सुरेंद्र बागला, सतीश अहलूवालिया, सरदारी लाल मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- युवा कांग्रेस ने किया प्रदर्शन, कहा- लोक कलाकारों को बढ़े मानदेय के साथ मिले सम्मान

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.