दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

ऋषिकेश : राजकीय चिकित्सालय को पांच वेंटिलेटर देगा श्री भरत मंदिर परिवार

राजकीय चिकित्सालय को पांच वेंटिलेटर देगा श्री भरत मंदिर परिवार।

वैश्विक महामारी कोरोना से जंग लड़ रहे गंभीर रोगियों के लिए राहत भरी खबर यह है कि एसपीएस राजकीय चिकित्सालय को श्री भरत मंदिर परिवार पांच वेंटिलेटर उपलब्ध कराएगा। चिकित्सालय प्रशासन के साथ हुई बैठक में महंत वत्सल प्रपन्नाचार्य महाराज ने यह जानकारी दी।

Sunil NegiTue, 11 May 2021 02:09 PM (IST)

जागरण संवाददाता, ऋषिकेश। वैश्विक महामारी कोरोना से जंग लड़ रहे गंभीर रोगियों के लिए राहत भरी खबर यह है कि एसपीएस राजकीय चिकित्सालय को श्री भरत मंदिर परिवार पांच वेंटिलेटर उपलब्ध कराएगा। नगर निगम महापौर की पहल पर चिकित्सालय प्रशासन के साथ हुई बैठक में महंत वत्सल प्रपन्नाचार्य महाराज ने यह जानकारी दी।

ऋषिकेश के सरकारी अस्पताल में वेंटिलेटर की सुविधा को लेकर तमाम अड़चनें दूर कर ली गई हैं। सप्ताह भर के भीतर पांच वैंटिलेटर ऋषिकेश राजकीय चिकित्सालय को मिल जाएंगे। श्री भरत मंदिर परिवार की ओर से बनाए गये ऋषिकेश कोविड फाउंडेशन के माध्यम से वेंटीलेटर की व्यवस्था की जायेगी।नगर निगम महापौर अनीता ममगाईं ने बताया कि राजकीय चिकित्सालय में सभी व्यवस्थाएं पर्याप्त है, लेकिन यहां गंभीर रोगियों के लिए वेंटिलेटर की व्यवस्था नहीं है। 

इसको लेकर श्री भरत मंदिर स्कूल सोसायटी के सचिव हर्षवर्धन शर्मा से उनकी बातचीत हुई। इसके बाद श्री भरत मंदिर के महंत वत्सल प्रपन्नाचार्य महाराज ने इस पर अपनी सहमति जताई। उन्होंने कहा कि ऋषिकेश कोविड फाउंडेशन राजकीय चिकित्सालय में पांच वेंटिलेटर की व्यवस्था कराएगा। इस संबंध में महापौर और श्री भरत मंदिर परिवार के सदस्यों की राजकीय चिकित्सालय में प्रभारी सीएमएस डॉ. एमपी सिंह से वार्ता हुई।

बैठक में राजकीय चिकित्सालय को मिलने वाले वैंटिलेटर को ऑपरेट करने के लिए राजकीय चिकित्सालय और से नियुक्त किए गए लैब टेक्नीशियन की सैलरी फाउंडेशन के माध्यम से देने की घोषणा की गई। इस दौरान वरुण शर्मा, डॉ. उत्तम खरोला, पंकज शर्मा मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें-लड़खड़ाती सांसों का सहारा बने गुरुद्वारा, कोरोना संक्रमितों तक पहुंचाए 205 ऑक्सीजन सिलिंडर

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.