बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ सड़क पर उतरी शिवसेना, फूंका सरकार का पुतला

बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ सड़क पर उतरी शिवसेना।

बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर शिव सेना भी सड़कों पर आ गई है। कार्यकर्ताओं ने सरकार के प्रति आक्रोश जाहिर कर पुतला फूंका। साथ ही पेट्रोल और डीजल के दामों में की गई वृद्धि वापस लेने की मांग की।

Raksha PanthriSat, 27 Feb 2021 05:28 PM (IST)

जागरण संवाददाता, देहरादून। बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर शिव सेना भी सड़कों पर आ गई है। कार्यकर्ताओं ने सरकार के प्रति आक्रोश जाहिर कर पुतला फूंका। साथ ही पेट्रोल और डीजल के दामों में की गई वृद्धि वापस लेने की मांग की।

शनिवार को शिवसेना कार्यकर्ता गोविंदगढ़ स्थित कार्यालय पर एकत्रित हुए। यहां से बड़ी संख्या में रैली के रूप में गोविंदगढ़ चौक पहुंचे, जहां उन्होंने नारेबाजी करते हुए केंद्र सरकार का पुतला जलाया। इस दौरान शिवसेना प्रदेश प्रमुख गौरव कुमार ने कहा कि आज केंद्र सरकार कुछ पूंजीपतियों की सरकार बन गई है, जो उन्हीं के इशारों पर काम कर रही है। महंगाई और बेरोजगारी ने समाज के हर वर्ग की कमर तोड़ दी है, लेकिन केंद्र सरकार आंखें मूंदे बैठी है। युवा नेता पंकज तायल ने कहा कि पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस समेत जरूरी सामान के दाम आज आसमान छू रहे हैं और आम जनमानस केंद्र की गूंगी-बहरी सरकार से त्रस्त है। 

पार्टी के पदाधिकारी राकेश बंसल ने कहा कि इस अहंकारी और पूंजीपतियों की सरकार को जनता आने वाले चुनाव में सबक सिखाएगी। इस अवसर पर शिवम गोयल, वासु परविंदा, मनजीत भट्ट, रोहित बेदी, निशा मेहरा, कृष्णा देवी, शीला सिंह, रेखा मित्तल, हरीश रावत, हर्ष सिंघल, पुलकित परविंदा, संजीव मैठाणी, मनोज गुप्ता आदि उपस्थित थे।

विकास प्राधिकरण के खिलाफ आंदोलन करेगी कांग्रेस

लक्सर में विकास प्राधिकरण के खिलाफ कांग्रेस ने मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेसियां ने बसेडी गांव में बैठक आयोजित कर विकास प्राधिकरण के खिलाफ मुहिम में ग्रामीणों को लामबंद करने की कवायद शुरू कर दी। बैठक में अलग-अलग गांवों से व्यक्ति पहुंचे। इस मौके पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष धर्मपाल ङ्क्षसह ने कहा कि प्रदेश में एक साथ विकास प्राधिकरणों को लागू किया गया था। लेकिन, केवल पहाड़ी जनपदों में विकास प्राधिकरण समाप्त करना दुर्भाग्यपूर्ण है। सरकार विकास प्राधिकरणों की जटिलताओं को नाकामी को मानती है, ऐसे में केवल मैदानी जनपदों को क्यों प्राधिकरण से मुक्त नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लक्सर में किसी भी कीमत पर विकास प्राधिकरण को समाप्त कराया जाएगा।

इस अवसर पर कांग्रेस सेवादल के प्रदेश अध्यक्ष राजेश रस्तोगी, चौधरी अजब सिंह, धर्मवीर सिंह छबीला, चौधरी साधु ङ्क्षसह नगला, मोहम्मद उस्मान, मगन सैनी, डॉ, इरशा, राकेश सिंह, मोहित कुमार, लोकेश कुमार, राजेंद्र धीमान, डॉ. मोनू आदि बडी संख्या में व्यक्ति मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- ऋषिकेश में नगर व्यापार महासंघ का गठन, बनाई गई 11 सदस्यीय संचालन समिति

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.