देहरादून में पति-पत्नी मिलकर चला रहे थे आनलाइन रैकेट, सात लोग गिरफ्तार

एसओजी ने राजधानी के जाखन क्षेत्र में देह व्‍यापार के रैकेट का पर्दाफाश किया है। रैकेट आनलाइन चलाया जा रहा था। आनलाइन माध्यम से ही लड़कियां देहरादून बुलाई जाती थीं और ग्राहकों से मोटी रकम वसूली जाती थी। रैकेट को पति-पत्नी मिलकर चला रहे थे।

Sunil NegiMon, 14 Jun 2021 10:34 AM (IST)
एसओजी ने राजधानी के जाखन क्षेत्र में देह व्‍यापार के रैकेट का पर्दाफाश किया है।

जागरण संवाददाता, देहरादून। एसओजी ने राजधानी के जाखन क्षेत्र में देह व्‍यापार के रैकेट का पर्दाफाश किया है। रैकेट आनलाइन चलाया जा रहा था। आनलाइन माध्यम से ही लड़कियां देहरादून बुलाई जाती थीं और ग्राहकों से मोटी रकम वसूली जाती थी। रैकेट को पति-पत्नी मिलकर चला रहे थे। पुलिस ने मामले में एक विदेशी महिला सहित चार पुरुष व तीन महिलाओं को गिरफ्तार किया है।

एसपी सिटी सरिता डोबाल ने बताया कि शिकायत मिली थी कि राजपुर थाना क्षेत्र के जाखन में एक होटल में रैकेट चल रहा है। सूचना पर एसओजी प्रभारी इंस्पेक्टर ऐश्वर्य पाल ने रविवार शाम को टीम के साथ छापेमारी करते हुए चार पुरुष व तीन महिलाओं को देह व्यापार के आरोप में गिरफ्तार किया। आरोपितों में सैफ खान निवासी एमडीडीए कालोनी केदारपुरम नेहरू कालोनी देहरादून, मनोज सिंघल निवासी बजरिया मोहल्ला बादलपुर गाजियाबाद, राहुल शर्मा निवासी पंचशील कालोनी गाजियाबाद, मयंक गर्ग निवासी इसरा मोहल्ला गंगोह सहारनपुर उप्र व तीन महिलाएं शामिल हैं।

पूछताछ के दौरान एक महिला ने बताया कि वह, उसका पति व देवर दिल्ली और गाजियाबाद की लड़कियों से संपर्क कर उन्हें देह व्यापार के लिए देहरादून बुलाते थे। उसका देवर मयूर गर्ग आनलाइन ग्राहकों से संपर्क करता था। ग्राहकों के बताए पते पर टैक्सी के माध्यम से लड़कियों को भेजा जाता था। पुलिस मयूर गर्ग की तलाश कर रही है।

-------------- 

मादक पदार्थों की तस्करी में महिला गिरफ्तार

कोतवाली विकासनगर पुलिस ने मादक पदार्थों की तस्करी में एक महिला को गिरफ्तार किया है। आरोपित महिला के दो पुत्र पहले ही एनडीपीएस मामले में जेल भेजे गए थे। पुलिस ने महिला से छह ग्राम स्मैक व 15 हजार रुपये की नगदी बरामद की है। मादक पदार्थों की तस्करी पर अंकुश को डाकपत्थर चौकी इंचार्ज हिमानी चौधरी के नेतृत्व में पुलिस टीम क्षेत्र में चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान बस स्टैंड डाकपत्थर से जीवनगढ़ की ओर जाने वाले रास्ते पर जाती एक महिला पर पुलिस को शक हुआ।

चौकी प्रभारी हिमानी ने महिला की तलाशी ली तो उसके पास से स्मैक व नगदी बरामद हुई। पुलिस पूछताछ में आरोपित ने अपनी पहचान शमशीदा पत्नी सलीम निवासी जीवनगढ़ के रूप में बताई है। पुलिस ने जब जांच की तो पाया कि आरोपित महिला के दो पुत्र इंतजार उर्फ जादू व कौसर भी मादक पदार्थों की तस्करी करने के जुर्म में जेल जा चुके हैं, जो वर्तमान में जमानत पर रिहा हैं, उन पर पुलिस की सतर्क दृष्टि होने के चलते महिला ने स्मैक की सप्लाई शुरू कर दी थी। महिला ने पुलिस पूछताछ में बताया कि उस पर कोई शक नहीं करेगा, इसलिए उसने स्मैक सप्लाई करने का काम किया। पुलिस ने आरोपित महिला के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज किया।

यह भी पढ़ें-Power Bank App Case: आरोपितों की 17 कंपनियों के लाइसेंस निरस्त कराने में जुटी पुलिस

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.