उत्तराखंड में देश के अंतिम गांव नीति माणा से नेपाल सीमा तक प्रार्थना सभाएं

कोरोना में मारे गए नागरिकों को श्रद्धांजलि देने और संक्रमितों की स्वास्थ्य लाभ की कामना के लिए उत्तराखंड में चीन सीमा से सटे देश के अंतिम गांव नीति माणा से नेपाल सीमा से लगते पिथौरागढ़ जिले के सुदूरवर्ती गांवों तक के बाशिंदों ने भागीदारी की।

Sunil NegiMon, 14 Jun 2021 12:08 PM (IST)
कोरोना महामारी में जीवन गंवाने वालों की आत्मा की शांति के लिए हुई सर्व धर्म प्रार्थना।

जागरण संवाददाता, देहरादून। कोरोना महामारी में जान गंवाने वालों की आत्मशांति के लिए ‘दैनिक जागरण’ के आह्वान पर सर्वधर्म प्रार्थना सभा में सोमवार को समाज के हर धर्म, हर वर्ग, हर समुदाय ने श्रद्धासुमन अर्पित किए। चारधाम से देश के अंतिम गांव माणा तक, अस्कोट से आराकोट तक, तराई से चीन-नेपाल सीमा तक, मसूरी से नैनीताल तक, मंदिर-मस्जिद से चर्च-गुरुद्वारों तक, हरकी पैड़ी हरिद्वार से त्रिवेणी घाट ऋषिकेश तक हर धर्म, हर वर्ग व हर समुदाय से जुड़े व्यक्तियों ने सुबह ठीक 11 बजे दो मिनट का मौन रखकर दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना की। साथ ही कोरोना मरीजों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ और देश-दुनिया से कोरोना के खात्मे के लिए कामना की। इस दौरान उत्तराखंड के तमाम शहर, कस्बे व बजार में दो मिनट के लिए जीवन थम सा गया।

उत्तराखंड में जान गंवाने वालों की संख्या सात हजार हो गई है। न केवल स्वजन, बल्कि मित्र-परिचित व संबंधी तक अपनों के बिछड़ने की पीड़ा झेल रहे हैं। विडंबना देखिए कि महामारी के चलते हम न तो मृतकों के प्रति संवेदना व्यक्त करने जा सके, न अस्पतालों में भर्ती अपनों को हौसला ही दे पा रहे हैं। जनमानस की इसी पीड़ा को समझते हुए ‘दैनिक जागरण’ ने उत्तराखंड में सर्वधर्म प्रार्थना आयोजित की थी। इसी कड़ी में बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री धाम समेत सभी मंदिर, मस्जिद, चर्च व गुरुद्वारों में कोरोना से जान गंवाने वालों की आत्म शांति के लिए प्रार्थना की गई।

सर्व धर्म प्रार्थना की घड़ी आई तो पूरा दून एक पल के लिए ठहर सा गया। जो जहां था, उसने वहीं पर कोरोना महामारी में जान गंवाने वालों को श्रद्धांजलि दी और अस्पतालों में भर्ती व्यक्तियों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की। सुबह 11 बजते ही सर्व धर्म प्रार्थना के रूप में कहीं दो मिनट का मौन धारण किया गया, कहीं श्रद्धांजलि अर्पित की गई, तो कहीं हवन किया गया।

गांधी पार्क में आयोजित सर्व धर्म सभा में महापौर सुनील उनियाल गामा, विधायक खजान दास, जिलाधिकारी डा. आशीष श्रीवास्तव व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. योगेंद्र सिंह रावत, ब्रिगेडियर केजी बहल (रिटा.), पूर्व मंत्री हीरा सिंह बिष्ट, डीएवी पीजी कालेज के प्राचार्य डा.अजय सक्सेना, भाजपा प्रदेश कोषाध्यक्ष पुनीत मित्तल, इंडियन इंस्ट्रीज एसोसिएशन आफ उत्तराखंड के चेयरमैन राकेश भाटिया, दून उद्योग व्यापार मंडल के महामंत्री सुनील मैसोन, श्री टपकेश्वर महादेव मंदिर एवं जंगमेश्वर शिवालय के श्री 108 महंत कृष्णा गिरी महाराज, शहर मुफ्ती सलीम अहमद, गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा आढ़त बाजार के हेड ग्रंथी शमशेर सिंह, चर्च प्रभारी सेंट थॉमस चर्च राजपुर रोड एवं डीन ऑफ देहरादून पादरी एए प्लोमर, लोक कलाकार पूनम सती आदि की उपस्थिति में सभी धर्मगुरुओं ने प्रार्थना की।

वहीं, पुलिस मुख्यालय से लेकर, पुलिस लाइन, डीआइजी गढ़वाल रेंज कार्यालय, विभिन्न पुलिस थानों व जिला कारागार में भी प्रार्थना कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई। नगर निगम कार्यालय में नगर आयुक्त विनय शंकर पांडे की मौजूदगी में तमाम सफाई नायकों ने प्रार्थना की।

दून की विभिन्न कॉलोनियों के प्रतिनिधियों ने दून रेजीडेंट्स वेलफेयर फ्रंट के बैनर तले रेसकोर्स में सर्व धर्म प्रार्थना का आयोजन किया। तमाम सरकारी कार्यालयों, राजनीतिक-सामाजिक, धार्मिक व कर्मचारी संगठनों के कार्यालयों में भी प्रार्थना की गई।

दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल से लेकर विभिन्न अन्य अस्पताल व वहां के चिकित्सा कार्मिक भी प्रार्थना में आगे रहे। उत्तर रेलवे का मुरादाबाद मंडल भी सीधे तौर पर जागरण की पहल से जुड़ा रहा और देहरादून रेलवे स्टेशन भी सर्व धर्म प्रार्थना का हिस्सा बना।

उत्तरांचल उत्थान परिषद के केंद्रीय कार्यालय समेत अन्य कार्यालयों में सर्व धर्म प्रार्थना की गई। प्रेम बुड़ाकोटी के नेतृत्व में परिषद के केंद्रीय अध्यक्ष जयमल सिंह नेगी, महामंत्री राम प्रकाश पैन्यूली, डीएन उनियाल, आनंदा सिंह रावत, डॉ. डीएन जोशी, नरोत्तम सिंह नेगी, वाईएन कोठियाल आदि ने सर्व धर्म प्रार्थना में प्रतिभाग किया।

कुछ प्रमुख प्रतिष्ठान व संगठन, जो रहे सर्व धर्म प्रार्थना का हिस्सा: वन मुख्यालय, ऊर्जा के तीनों निग (ऊर्जा निगम, उत्तराखंड जलविद्युत निगम, उत्तराखंड पारेषण निगम), उत्तराखंड विद्युत अधिकारी-कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा, देहरादून चिड़ियाघर, प्रभागीय वनाधिकारी कार्यालय, उद्यान निदेशालय, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद, राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा, पेयजल निगम के विभिन्न खंड कार्यालय, भाजयुमो महानगर कार्यालय, भाजपा, अभाविप, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी व सपा कार्यालय, मंडी समिति, ग्राफिक एरा विश्वविद्यालय, श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय, दून विश्वविद्यालय, उत्तरांचल विश्वविद्यालय, दून उद्योग व्यापार मंडल (धामावाला में), दून वैली महानगर उद्योग व्यापार मंडल (पलटन बाजार में), दून व्यापार प्रकोष्ठ (डिस्पेंसरी रोड में), रोडवेज कर्मचारी संगठन (आइएसबीटी में), राज्य आंदोलनकारियों (शहीद स्मारक में), जिला पूर्ति अधिकारी कार्यालय, दून इंटरनेशनल स्कूल, एशियन स्कूल, गोरखा मिलिट्री इंटर कॉलेज, राजकीय शिक्षक संघ, प्रदेशीय जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ, प्राथमिक शिक्षक संघ, उत्तराखंड महिला मंच के सरस्वती विहार स्थित कार्यालय, उत्तराखंड आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय, टपकेश्वर मंदिर वैष्णो देवी गुफा, पृथ्वीनाथ महादेव मंदिर, गुरुद्वारा गुरू सिंह सभा, कालिका माता मंदिर में हवन-यज्ञ, आजाद कालोनी मदरसा, गोर्खाली सुधार सभा, नवग्रह शनि मंदिर, ईष्टदेव सेवा समिति, जंगम शिवालय पलटन बाजार, पटेलनगर श्याम सुंदर मंदिर आदि।

दैनिक जागरण के सर्व धर्म प्रार्थना सभा के तहत रुड़की के साकेत स्थित दुर्गा चौक मंदिर में कोरोना मृतकों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए हवन करते पुरोहित कल्याण ट्रस्ट रुड़की के पदाधिकारी।

देशभर में कोरोना महामारी में जान गंवाने वालों को श्रद्धांजलि देने को दैनिक जागरण की पहल पर सर्व धर्म प्रार्थना कार्यक्रम के तहत दिवंगत व्यक्तियों को श्रद्धांजलि अर्पित करते उच्च शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ धन सिंह रावत।

रुड़की में मदरसा इमदादुल इस्लाम मे दैनिक जागरण के आह्वान पर कोरोना महामारी में जो लोग इस दुनिया को छोड़कर चले गए है उनकी मगफिरत के लिए दुआ की गई। साथ जो बीमार है उनकी शिफा के लिए मुफ़्ती रियासत अली ने दुआ कराई।

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.