गृह मंत्री अमित शाह से कोटद्वार में केंद्रीय विद्यालय खोलने का किया अनुरोध

बीते रोज नई दिल्‍ली में कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की है। इस दौरान कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने केंद्रीय गृह मंत्री से कोटद्वार में केंद्रीय विद्यालय खोलने का अनुरोध किया है।

Sunil NegiFri, 24 Sep 2021 03:06 PM (IST)
गृह मंत्री अमित शाह से कोटद्वार में केंद्रीय विद्यालय खोलने का किया अनुरोध।

राज्य ब्यूरो, देहरादून। कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात कर कोटद्वार में केंद्रीय विद्यालय खोलने का अनुरोध किया। उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री से उत्तराखंड की भौगोलिक परिस्थिति के मद्देनजर आपदा मद से और अधिक धनराशि उपलब्ध कराने का भी अनुरोध किया।

गुरुवार को कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में बादल फटने, भूस्खलन की घटनाएं हो रही हैं। इससे जन-धन की भारी हानि हो रही है। आपदा राहत कार्यों के लिए तत्काल धनराशि की आवश्यकता होती है। इसकी प्रतिपूर्ति के लिए भारत सरकार से आपदा मद में अधिक धनराशि उपलब्ध कराया जाना आवश्यक है। इस दौरान उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री से कोटद्वार में केंद्रीय विद्यालय की स्थापना करने का भी अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि कोटद्वार में केंद्रीय विद्यालय खुलवाने के लिए जिलाधिकारी पौड़ी द्वारा भूमि व आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करा दी गई हैं। इस पर केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि वह इस संबंध में शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से अनुरोध करेंगे।

इसके अलावा कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने केंद्रीय गृह मंत्री से कोटद्वार में मेडिकल कालेज की स्थापना करने का भी अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि कोटद्वार में मेडिकल कालेज बनाने के लिए जमीन काफी पहले चयनित कर ली गई थी लेकिन आर्थिक संसाधनों की कमी के कारण मेडिकल कालेज नहीं बन पा रहा है। उन्होंने कालेज की स्थापना के लिए आवश्यक धनराशि केंद्र सरकार से उपलब्ध कराने का अनुरोध किया।

------------------------- 

5150 व्यक्तियों को उद्योग विभाग देगा स्वरोजगार

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अंतर्गत सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्योग विभाग के माध्यम से स्वरोजगार के लक्ष्य को 3000 से बढ़ाकर 5150 किया गया है। औद्योगिक विकास सचिव राधिका झा ने जिलेवार संशोधित लक्ष्य के आदेश जारी किए। औद्योगिक विकास सचिव राधिका झा ने बताया कि राज्य के युवाओं, कोविड-19 की वजह से वापसी करने वाले प्रवासियों को रोजगार देने पर सरकार का जोर है। कुशल, अकुशल दस्तकारों, हस्तशिल्पियों व शिक्षित ग्रामीणों के लिए उद्योग विभाग को लक्ष्य दिया गया था। जिलेवार यह लक्ष्य अब संशोधित किया गया है। उन्होंने बताया कि संशोधित लक्ष्य के मुताबिक अल्मोड़ा, चम्पावत, नैनीताल, पिथौरागढ़, चमोली, पौड़ी, उत्तरकाशी व टिहरी में 425-425 व्यक्तियों को स्वरोजगार से जोड़ा जाएगा। इसीतरह बागेश्वर, ऊधमसिंहनगर, देहरादून, हरिद्वार व रुद्रप्रयाग जिलों में 340-340 व्यक्तियों को स्वरोजगार दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें:-देहरादून के हर्रावाला रेलवे स्टेशन का 170 करोड़ रुपये से किया जाएगा कायाकल्प

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.