वादा भूली सरकार, धरने पर बैठा शहीद संदीप सिंह का परिवार; उक्रांद ने दिया धरने को समर्थन

पांच साल से नौकरी के लिए भटक रहे शहीद संदीप सिंह रावत के स्वजन ने रविवार को गांधी पार्क में धरना दिया। इस दौरान उक्रांद के कार्यकत्र्ताओं ने धरनास्थल पर पहुंचकर उन्हें अपना समर्थन दिया। उन्होंने इस मामले में सीएम आवास कूच करने की भी चेतावनी दी है।

Sumit KumarSun, 28 Nov 2021 08:51 PM (IST)
नौकरी के लिए भटक रहे शहीद संदीप सिंह रावत के स्वजन ने रविवार को गांधी पार्क में धरना दिया।

जागरण संवाददाता, देहरादून: पांच साल से नौकरी के लिए भटक रहे शहीद संदीप सिंह रावत के स्वजन ने रविवार को गांधी पार्क में धरना दिया। इस दौरान उक्रांद के कार्यकत्र्ताओं ने धरनास्थल पर पहुंचकर उन्हें अपना समर्थन दिया। उन्होंने इस मामले में सीएम आवास कूच करने की भी चेतावनी दी है।

शहीद की मां आशा देवी ने कहा कि राज्य सरकार शहीद के परिवार के साथ ऐसा करेगी, इसकी उम्मीद नहीं थी। परिवार को मजबूर होकर सड़क पर उतरना पड़ा है। उन्होंने कहा कि दुख होता है जब एक शहीद के परिवार को इस तरह से नौकरी के लिए भटकना पड़ता है। उन्होंने बताया कि सरकार ने उनके परिवार से किसी एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की बात कही थी। इस नौकरी के लिए परिवार पांच साल से भटक रहा है। उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय अध्यक्ष खेल प्रकोष्ठ विरेंद्र सिंह रावत व केंद्रीय अध्यक्ष महिला प्रकोष्ठ प्रमिला रावत ने कहा कि नवादा निवासी संदीप सिंह रावत अक्टूबर 2016 में जम्मू कश्मीर के तंगधार में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हुए थे। उनके परिवार को नौकरी के लिए चक्कर कटवाकर सरकार उनकी शहादत का अपमान कर रही है। शहीद के बड़े भाई दीपक सिंह रावत ने नौकरी नहीं मिलने तक आंदोलन जारी रखने की बात कही। इस दौरान मोहन काला, प्रकाश ढौंडियाल, राकेश सिंह, सूरज थापा, मेहरबान सिंह रावत, मीनाक्षी सेमवाल, सृष्टि उनियाल, रूपा यादव,प्रकाश देवी, इंदु देवी, साजन, सजना, तस्लीम, आमना, प्रियंका, आशा रावत आदि उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: चार और पांच दिसंबर को होगी संयुक्त परीक्षा, चयन आयोग ने जारी किए प्रवेश पत्र; ऐसे करें डाउनलोड

तीर्थ पुरोहितों ने मांगा अखाड़ा परिषद से समर्थन

चारधाम तीर्थ पुरोहित हक हकूकधारी महापंचायत ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष महंत रविंद्र पुरी से देवस्थानम बोर्ड मसले पर समर्थन मांगा है। महापंचायत के संयोजक सुरेश सेमवाल ने बताया कि बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के तीर्थ पुरोहितों ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष महंत रविंद्र पुरी से रविवार को हरिद्वार में मुलाकात की। बताया कि महंत रविंद्र पुरी ने आश्वासन दिया कि संत उनके साथ खड़े हैं। इस अवसर पर कपिल शुक्ला, संजय तिवारी, चंडी प्रसाद तिवारी, सोमेश सेमवाल आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में हर माह औसतन पांच व्यक्तियों की जान ले रहे वन्यजीव, नौ माह में 43 की मौत; 148 घायल

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.