दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

उत्तराखंड: कोरोना वारियर में शामिल हैं ऊर्जा निगमों के कार्मिक

कोरोना वारियर में शामिल हैं ऊर्जा निगमों के कार्मिक।

ऊर्जा निगमों के विभिन्न कर्मचारी संगठनों की प्रमुख मांग निस्तारित कर दी गई है। ऊर्जा सचिव राधिका झा ने बताया कि ऊर्जा निगमों की सेवाएं अत्यावश्यक हैं। इनमें कार्यरत समस्त नियमित उपनल संविदा और आउटसोर्सिंग कार्मिक पहले से ही कोरोना वारियर के रूप में शामिल हैं।

Raksha PanthriSat, 15 May 2021 06:15 AM (IST)

राज्य ब्यूरो, देहरादून। ऊर्जा निगमों के विभिन्न कर्मचारी संगठनों की प्रमुख मांग निस्तारित कर दी गई है। ऊर्जा सचिव राधिका झा ने बताया कि ऊर्जा निगमों की सेवाएं अत्यावश्यक हैं। इनमें कार्यरत समस्त नियमित, उपनल, संविदा और आउटसोर्सिंग कार्मिक पहले से ही कोरोना वारियर के रूप में शामिल हैं। 

ऊर्जा निगमों के कर्मचारी संगठनों की ओर से बार-बार यह मांग उठाई जा रही है कि ऊर्जा निगमों की सेवाओं को अत्यावश्यक सेवाओं में शामिल कर उन्हें कोरोना वारियर घोषित किया जाना चाहिए। सचिव राधिका झा ने इस मांग का संज्ञान लेकर कर्मचारी संगठनों और उत्तराखंड विद्युत अधिकारी कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा के पदाधिकारियों से वार्ता की। उन्होंने इस संबंध में स्थिति स्पष्ट की। साथ ही यह भी कहा कि जिन कठिन परिस्थितियों में बिजली कार्मिक पूरे मनोयोग और तत्परता से कार्य कर रहे हैं, वह अत्यंत सराहनीय है। 

मिलेगी 10 लाख राहत राशि 

उन्होंने बताया कि नौ अप्रैल, 2020 को जारी शासनादेश के मुताबिक कोरोना वारियर के रूप में कार्य करते हुए किसी कार्मिक की दुर्भाग्यवश जीवन हानि होती है तो उनके स्वजन को 10 लाख रुपये की राहत राशि मिलेगी। उनकी ओर से इस संबंध में तीनों निगमों के प्रबंध निदेशकों को निर्देश दिए जा चुके हैं। कोई भी ऊर्जा कार्मिक अपने दायित्वों के निर्वहन के दौरान कोरोना संक्रमित हो जाते हैं अथवा दिवंगत हो जाते हैं तो उन्हें अथवा उनके स्वजन को राहत राशि अनुमन्य करने के अतिरिक्त यथासंभव अन्य सहायता भी दी जाए। 

टीकाकरण को करें कार्यवाही 

ऊर्जा सचिव ने कहा कि तीनों निगमों के कार्मिकों के लगातार संक्रमित होने के मद्देनजर प्रबंध निदेशकों को निगमों में प्रतिष्ठित चिकित्सकों का पैनल तैयार कर संबंधित कार्मिक को टेलीमेडिकेयर परामर्श सुविधा देने के निर्देश दिए गए हैं। कोरोना टीकाकरण के लिए पोर्टल पर पंजीकरण कर समय पर कार्मिकों का टीकाकरण कराने के निर्देश भी दिए गए हैं। जिला प्रशासन व चिकित्सा विभाग से संपर्क कर ऊर्जा निगमों के मुख्यालयों और जिला कार्यालयों पर टीकाकरण के लिए कैंप लगाने की कार्यवाही के लिए भी कहा गया है।

कर्मचारी संगठनों से वार्ता के निर्देश तीनों निगमों के प्रबंध निदेशक कर्मचारी संगठनों से प्राप्त मांगपत्रों पर विचार कर कर्मचारी संगठनों से वार्ता करेंगे। प्रबंधन स्तर की जायज मांगों पर कार्यवाही करने और शासन स्तर से संबंधित मांगे सचिव को भेजने के निर्देश भी दिए गए हैं, ताकि कर्मचारियों का मनोबल बना रहे।

यह भी पढ़ें- देहरादून कुछ दिन और सतर्क रहा तो घटने लगेगा कोरोना संक्रमण, पढ़ि‍ए पूरी खबर

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.