मतपेटियों से निकला प्रत्याशियों का भाग्य

जागरण टीम, विकासनगर: त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव-2019 की मतगणना के दौरान मतपेटियों से प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होना शुरू हो गया है। खबर लिखे जाने तक विकासनगर व सहसपुर में पांच-पांच व चकराता और कालसी में छह राउंड तक की मतगणना पूरी हो चुकी थी। कालसी ब्लॉक की मतगणना में प्रधान के 18, बीडीसी के 10, विकासनगर में प्रधान के 15, बीडीसी के पांच, सहसपुर में प्रधान के 17, बीडीसी के छह, चकराता में प्रधान के 38, बीडीसी के 13 नतीजे आ चुके थे।

बता दें कि मतदान के बाद जौनसार-बावर व पछवादून के चकराता, कालसी, विकासनगर व सहसपुर चारों ब्लॉक में ग्राम प्रधान, बीडीसी, ग्राम पंचायत सदस्य व क्षेत्र पंचायत सदस्य पद के 2719 प्रत्याशियों का भाग्य मतपेटियों में बंद हो गया था। सोमवार को सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त के बीच चारों ब्लाकों में सुबह आठ बजे मतगणना शुरू हो गई थी। मतगणना स्थलों पर सिर्फ पास वालों को ही जाने दिया गया, लेकिन मतगणना स्थलों के बाहर समर्थकों की भारी भीड़ रही।

--------------------------

सीडीओ ने किया मतगणना स्थल का निरीक्षण

विकासनगर: सोमवार को मुख्य विकास अधिकारी जीएस रावत के नेतृत्व में अधिकारियों ने सहसपुर और विकासनगर के पंचायत चुनाव सामान्य निर्वाचन -2019 के मतगणना स्थलों का निरीक्षण किया गया। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी ने पंचायत चुनाव की मतगणना की समुचित व्यवस्था को देखते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा- निर्देश दिए। उन्होंने मतगणना की सभी प्रक्रिया को नियमानुसार, पारदर्शिता और ध्यानपूर्वक संपादित करने के भी निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व वीर सिंह बुद्धियाल, एसपी देहात पदमेंद्र डोभाल, जिला विकास अधिकारी प्रदीप पांडे आदि मौजूद रहे।

--------------------------

चकराता में सबसे पहले निकला चातरा का नतीजा

त्यूणी: चकराता ब्लॉक में सबसे पहले चातरा का परिणाम निकला। राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशन में सोमवार सुबह चकराता ब्लॉक के मतगणना केंद्र में वोटों की गिनती शुरू हुई। मतगणना के दौरान किसी प्रकार की कोई गड़बड़ी ना हो इसके लिए स्थानीय पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा के लिहाज से मतगणना केंद्र के अंदर व बाहर सीसीटीवी कैमरे लगाए थे। पहले राउंड की मतगणना के बाद पंचायत चुनाव के नतीजे आते ही सबसे पहले ग्राम पंचायत चातरा से प्रधान पद पर हरिश्चंद्र राजगुरु ने जीत हासिल की है। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी रामगोपाल नौटियाल को 37 वोटों से हराया। जबकि चातरा पंचायत से जीत का दावा करने वाली मनीषा उर्फ गुड़िया की जमानत जब्त हो गई। जीत की खुशी में निर्वाचित ग्रामप्रधान और बीडीसी मेंबर के समर्थकों ने छावनी बाजार में ढोल नगाड़े के साथ विजय जुलूस निकाला और मिठाइयां बांटी।

-------------------------

गलती से बन गया हारे प्रत्याशी का प्रमाणपत्र

कालसी: क्षेत्र पंचायत हस्टी की मतगणना पहले चक्र में ही पूरी हो गई थी, लेकिन गलती से प्रमाण पत्र हारे हुए प्रत्याशी का ही बन गया, लेकिन जब अधिकारियों को पता लगा कि जीती हुई प्रत्याशी कोई और ही है तो उन्होंने वह प्रमाण पत्र किसी को नहीं दिया। जीती हुई प्रत्याशी कृष्णा थी, लेकिन गलती से हारी हुई प्रत्याशी अनिता का प्रमाण पत्र बन गया। गलती पकड़ में आने पर अधिकारियों ने दोबारा मेल की और सायं चार बजे फिर कृष्णा का प्रमाण पत्र बन पाया। आरओ कालसी अधिकारी एसके बर्णवाल का कहना है कि कर्मचारियों द्वारा त्रुटि हो गई थी, जिसको ठीक करवा लिया गया।

----------------------

मामूली वोटों से जीते प्रत्याशी

विकासनगर: मतगणना में बामनधार से प्रधान सोनू व चंदोऊ से सरिता मात्र दो वोट से विजयी बनी। जबकि ग्राम पंचायत टिमरा से कालसी ब्लॉक के 111 ग्राम पंचायत प्रधानों में महेंद्र दास सबसे कम उम्र का प्रधान बना, जिसने मात्र तीन मतों से जीत हासिल की।

-----------------------

किन प्रत्याशियों का निकल रहा भाग्य

विकासनगर: चकराता ब्लॉक में बीडीसी की 40, जिलापंचायत की छह और वार्ड मेंबर की 834 पद हैं। जिसमें 50 प्रधान व 11 बीडीसी मेंबर निर्विरोध बने थे, इसके अलावा यहां अन्य सीटों पर चुनाव में प्रधान पद के लिए 153, बीडीसी के लिए 66, जिलापंचायत सदस्य के लिए तेरह व वार्ड मेंबर के लिए 59 प्रत्याशियों ने भाग्य आजमाया था। कालसी ब्लॉक में प्रधान की कुल 111 सीटें, बीडीसी की 40, जिलापंचायत की पांच व वार्ड मेंबर की 793 सीटें हैं। जिसमें 60 प्रधान व दस बीडीसी मेंबर निर्विरोध चुने गए थे। यहां प्रधान पद के लिए 122, बीडीसी के लिए 67, जिलापंचायत सदस्य के लिए बारह व वार्ड मेंबर के लिए 64 प्रत्याशियों ने चुनाव लड़ा। पछवादून के विकासनगर ब्लॉक में प्रधान की कुल 53 सीटें, बीडीसी की 40, जिपं सदस्य की सात व वार्ड मेंबर की 569 सीटें है। यहां प्रधान पद के लिए 293, बीडीसी के लिए 210 जिपं सदस्य के लिए 25 व वार्ड मेंबर के लिए 623 प्रत्याशी चुनावी समर में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। सहसपुर ब्लॉक में प्रधान की कुल 50 सीटें, बीडीसी की 40, जिपं सदस्य की पांच व वार्ड मेंबर की 496 सीटें निर्धारित है। यहां प्रधान पद के लिए 230, बीडीसी के लिए 183, जिपं के लिए बीस व वार्ड मेंबर के लिए 513 प्रत्याशियों ने चुनाव लड़ा। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के चलते चुनावी समर में कूदे करीब 2719 प्रत्याशियों की किस्मत मतपेटियों में बंद है। जिसका फैसला मतगणना में हो रहा है।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.