top menutop menutop menu

पुलिस के एक आला अधिकारी ने हवालात में छात्र को पीटा

पुलिस के एक आला अधिकारी ने हवालात में छात्र को पीटा
Publish Date:Wed, 12 Aug 2020 09:12 AM (IST) Author: Sunil Negi

देहरादून, जेएनएन। पुलिस के एक आला अधिकारी पर एक छात्र ने चौकी की हवालात में बंद कर पीटने का आरोप लगाया है। छात्र का यह भी आरोप है कि अधिकारी ने जलती सिगरेट से उसकी कलाई भी दागी। उसने पुलिस महानिदेशक (अपराध एवं कानून व्यवस्था) अशोक कुमार और डीआइजी अरुण मोहन जोशी से मामले की शिकायत की। डीआइजी ने एसपी सिटी श्वेता चौबे को जांच सौंपी है। इधर, इन आरोपों के बाबत संबंधित पुलिस अधिकारी का कहना है कि छात्र ने उनकी बेटी के साथ बदतमीजी की थी। पहचान के लिए उसे चौकी बुलाया गया था, उसके बाद चेतावनी देकर उसे छोड़ दिया गया।

विजय पार्क निवासी एक छात्र ने पुलिस महानिदेशक को सौंपे शिकायती पत्र में बताया कि संबंधित पुलिस अधिकारी ने सोमवार को उसे बिंदाल चौकी बुलाया। आरोप लगाया कि यहां हवालात में ले जाकर नग्न किया गया और पीटा गया। शोर मचाने पर उसके मुंह में कपड़ा ठूंसा दिया। इस दौरान चौकी के चार सिपाहियों ने उसके हाथ-पांव पकड़ रहे। छात्र ने यह भी आरोप लगाया कि इसके बाद पुलिस अधिकारी ने उसे धमकी दी कि इस बारे में किसी को बताया तो वह उसे जेल भिजवा देंगे।

इस संबंध में संपर्क करने पर पुलिस महानिदेशक (अपराध एवं कानून व्यवस्था) अशोक कुमार ने छात्र की शिकायत मिलने की पुष्टि की। बताया कि मामले की जांच की जा रही है। इधर, देहरादून के पुलिस कप्तान डीआइजी अरुण मोहन जोशी ने कहा कि मामला उनके संज्ञान में आया है। उन्होंने बताया कि पुलिस अधिकारी ने भी छात्र पर गंभीर आरोप लगाते हुए उसकी लिखित शिकायत की है। समूचे प्रकरण की एसपी सिटी जांच कर रही हैं। उनकी रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। चौकी में हुए इस घटनाक्रम के संबंध में कैंट के थानेदार संजय मिश्रा का कहना है कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। चौकी पर जिस वक्त का यह घटनाक्रम बताया जा रहा है, तब वह क्षेत्र में गश्त पर थे।

यह भी पढ़ें: पौड़ी के यमकेश्वर में किशोरी से दुष्कर्म, आरोपित चढ़ा पुलिस के हत्थे

छात्र बालिग या नाबालिग

छात्र की उम्र को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई। वह 11वीं में पढ़ता है। हालांकि, पुलिस अधिकारी उसके बालिग होने की बात कर रहे हैं, लेकिन इसके प्रमाण किसी ने नहीं दिए। अस्पताल के मेडिकल में उसकी उम्र 18 साल दर्ज है, उसके पिता भी यही बता रहे हैं, लेकिन उन्होंने जन्म तिथि का कोई साक्ष्य नहीं दिया।

मानवाधिकार आयोग में भी करेंगे शिकायत

छात्र ने राजकीय संयुक्त चिकित्सालय प्रेमनगर अपना मेडिकल कराया। उसके पिता ने पुलिस को दी शिकायत में कहा कि उनका परिवार दहशत में है। उन्होंने जानमाल का खतरा होने की आशंका भी जताई। बताया कि बुधवार को वह मानवाधिकार आयोग में भी शिकायत करेंगे।

यह भी पढ़ें: फेसबुक पर किया अश्लील पोस्ट, पुलिस ने एक व्‍यक्ति को किया गिरफ्तार

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.