नाली निर्माण का मलबा सड़क पर, गड्ढे भी छोड़े खुले; अव्यवस्था पर चढ़ा डीएम का पारा

रायपुर रोड पर सर्वे चौक से चूना भट्टा तक सड़क चौड़ीकरण का काम बीते कुछ माह से चल रहा है। यहां नाली निर्माण के चलते सड़क के एक बड़े हिस्से पर खोदाई की जा रही है। शनिवार को जिलाधिकारी डा. आर राजेश कुमार चौड़ीकरण कार्य का हाल देखने निकल पड़े।

Sumit KumarSun, 25 Jul 2021 03:42 PM (IST)
जिलाधिकारी डा. आर राजेश कुमार चौड़ीकरण कार्य का हाल देखने निकल पड़े।

जागरण संवाददाता, देहरादून: रायपुर रोड पर सर्वे चौक से चूना भट्टा तक सड़क चौड़ीकरण का काम बीते कुछ माह से चल रहा है। यहां नाली निर्माण के चलते सड़क के एक बड़े हिस्से पर खोदाई की जा रही है। शनिवार को जिलाधिकारी डा. आर राजेश कुमार चौड़ीकरण कार्य का हाल देखने निकल पड़े। यहां पसरी अव्यवस्था पर उनका पारा चढ़ गया। नाली निर्माण का मलबा जहां-तहां पसरा ïथा और इससे यातायात में व्यवधान पैदा हो रहा था। जिलाधिकारी ने अव्यवस्था दूर कर 15 दिन के भीतर निर्माण पूरा करने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी डॉ. आर राजेश ने इस बात पर गहरी नाराजगी व्यक्त की कि नाली निर्माण के दौरान मलबे का उचित ढंग से निस्तारण करने की जगह उसे सड़क पर ही क्यों डंप किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि महज 750 मीटर के भाग पर इतनी लापरवाही अधिकारियों की अनदेखी बताती है। इसके अलावा सड़क पर जगह-जगह बने गड्ढों पर भी उन्होंने लोनिवि प्रांतीय खंड के अधिकारियों को फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि इस तरह की अव्यवस्था से कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। यदि विभागीय लापरवाही के चलते हादसा होता है तो जिम्मेदार व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा। सुरक्षा मानकों के साथ किसी भी तरह का समझौता बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। एक स्थल पर पेयजल के पाइप रखे हुए थे। इस पर जिलाधिकारी ने जल संस्थान के अधिकारियों से दूरभाष पर बात कर जल्द पेयजल संयोजन कर वहां रखे पाइप का उपयोग करने को कहा।

यह भी पढ़ें- Sawan Kanwar Yatra 2021: कांवड़ यात्रियों के लिए बार्डर सील, पुलिस बल तैनात; बिना नेगेटिव रिपोर्ट के भी पहुंच रहे

दूसरी तरफ आयुध निर्माणी से आगे सड़क किनारे चोक नालियों पर भी नाराजगी जाहिर की गई। उन्होंने कहा कि बारिश में डेंगू के खतरे को देखते हुए भी पानी का जमाव न किया जाए। निरीक्षण के दौरान उपजिलाधिकारी सदर गोपालराम बिनवाल, अधिशासी अभियंता डीसी नौटियाल, लोनिवि अस्थाई खंड के अधिशासी अभियंता विपुल सैनी, तहसीलदार दयाराम आदि उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: छह दिन बाद भी दीपक रावत ने नहीं संभाला एमडी पदभार, बदली जा सकती है तैनाती

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.