देहरादून की नर्स कमला थापा को मरणोपरांत फ्लोरेंस नाइटेंगल अवार्ड से नवाजा गया

देहरादून की रहने वाली नर्स कमला थापा को मरणोपरांत फ्लोरेंस नाइटेंगल अवार्ड से नवाजा गया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वर्चुअल समारोह में कमला थापाके स्वजन को यह अवार्ड प्रदान किया। बता दें कि नर्स कमला थापा की मृत्यु बीते साल हो गई थी।

Sunil NegiFri, 17 Sep 2021 11:05 AM (IST)
देहरादून की नर्स कमला थापा को मरणोपरांत फ्लोरेंस नाइटेंगल अवार्ड से नवाजा गया।

जागरण संवाददाता, देहरादून। रायपुर की रहने वाली नर्स कमला थापा को मरणोपरांत प्रतिष्ठित फ्लोरेंस नाइटेंगल अवार्ड से नवाजा गया है। सेवाकाल के दौरान उनके सराहनीय कार्यों के लिए यह अवार्ड मिला। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने एक वर्चुअल समारोह में उनके स्वजन को यह अवार्ड प्रदान किया। नर्स कमला थापा की मृत्यु बीते साल हो गई थी। उनका बेटा दीपक थापा मर्चेंट नेवी में तैनात है, जबकि बेटी दीप्ति रौतेला नेहरू कालोनी में रहती हैं।

बतौर नर्स वह 27 साल तक दून अस्पताल में कार्यरत रहीं। उसके बाद दस साल मेला अस्पताल हरिद्वार में तैनात रहीं। 37 साल की लंबी सेवा के बाद वर्ष 2011 में वह सेवानिवृत्त हुईं। बताया जाता है कि अस्पताल में तैनात रहते हुए उन्होंने मरीजों की बहुत सेवा की। खासकर अस्पताल में आने वाले लावारिस व अनाथों की सेवा के लिए वह हमेशा तत्पर रहती थीं। उनकी सेवा के साथ ही आर्थिक रूप से मदद करने में भी वह कभी पीछे नहीं हटीं।

दून अस्पताल में उन्होंने अधिकांश ड्यूटी बर्न व टीबी वार्ड में की थी। सेवानिवृत्त होने के बाद भी मानव सेवा के लिए वह हमेशा तत्पर रहीं। पिछले साल कोरोना संक्रमण की चपेट में आने के बाद भी उन्होंने हिम्मत नहीं हारी। इस दौरान भी वह कोरोना के अन्य मरीजों का हौसला बढ़ाती रहीं। हालांकि, काफी दिन तक बीमार रहने के बाद वह जिंदगी की जंग हार गईं। उनके सेवा कार्यों के लिए उन्हें मरणोपरांत यह प्रतिष्ठित पुरस्कार मिला है।

उनकी बेटी दीप्ति रौतेला का कहना है कि मां बहुत मेहनती व गरीब-बेसहारा लोग की मदद करने वाली थी। उन्होंने अपने जीवन में बहुत अच्छे काम किए। जिसका फल उन्हें इस सम्मान के रूप में मिला है।

यह भी पढ़ें:- कोरोना योद्धा सम्मान के लिए चयन समिति 51 कोरोना योद्धा का किया चयन

-------------------------------- 

अभिनेता विक्रांत मैसी ने मसूरी में लगवाई वैक्सीन की पहली डोज

बालीवुड अभिनेता विक्रांत मैसी ने गुरुवार को उपजिला चिकित्सालय, लंढौर में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवाई। उन्होंने मसूरी वासियों से आग्रह किया कि अनिवार्य रूप से कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लें। राधिका आप्टे-विक्रांत मैसी स्टारर बालीवुड फिल्म की बीते लगभग तीन सप्ताह से मसूरी की विभिन्न लोकेशंस पर शूटिंग चल रही है। अभिनेता विक्रांत मैसी को डा. अभिनव ने वैक्सीन की डोज लगाई। अस्पताल में मौजूद मसूरी ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रजत अग्रवाल व महामंत्री जगजीत कुकरेजा ने विक्रांत मैसी से भेंट की और फारेंसिक फिल्म के लिए शुभकामनाएं दी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.