top menutop menutop menu

घरों में नमाज अदाकर मनाई ईद, कोरोना से मुक्ति को मांगी दुआ

जागरण संवाददाता, विकासनगर : कोरोना महामारी के चलते इस बार ईद का स्वरूप बदला हुआ नजर आया। लोगों ने अपने घरों में ही नमाज अदा कर कोरोना महामारी से बचाने व देश में अमन व चैन की दुआएं मांगी। ईद की नमाज अदा करते हुए भी शारीरिक दूरी का पालन किया गया।

सोमवार को कालसी, विकासनगर, डाकपत्थर, हरबर्टपुर, सहसपुर, सेलाकुई आदि क्षेत्रों में मुस्लिम समाज के परिवारों ने अपने घरों में ही शारीरिक दूरी का पालन करते हुए नमाज अदा की। ईद पर एक-दूसरे के घर जाकर गले लगकर मुबारकबाद देने के बजाए इस बार शारीरिक दूरी का पालन किया गया। लोगों ने फोन पर ऑडियो-वीडियो कॉल और सोशल मीडिया के जरिए एक-दूसरे को मुबारकबाद दी। जामा मस्जिद इंतजामिया कमेटी अध्यक्ष मुनीर अहमद के अनुसार सभी ने घरों में ही ईद की नमाज अदा कर कोरोना महामारी से बचाने के लिए और देशी व परिवार की खुशहाली के लिए दुआएं मांगी। सभी ने शारीरिक दूरी के मानकों का पूरी तरह से पालन किया।

कोरोना योद्धा पालिका के पर्यावरण मित्रों को किया सम्मानित

विकासनगर: ईद पर मुस्लिम समाज के लोगों ने कोरोना से जंग में योद्धा की भूमिका निभा रहे नगर पालिका के 25 पर्यावरण मित्रों को उपहार देकर सम्मानित किया। समाजसेवी हाजी गुलफाम अहमद ने कहा कि लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाने में नगर पालिका के कोरोना योद्धाओं की अहम भूमिका रही। नगर को साफ सुथरा रखने में नगर पालिका के पर्यावरण मित्रों ने अपनी जो जिम्मेदारी पूरी की, वह किसी से छिपी नहीं है। इस अवसर पर जामा मस्जिद इंतजामिया कमेटी अध्यक्ष मुनीर अहमद, कमेटी सचिव जमशेद अली, सलीम अहमद, जुबैर अहमद, मौहम्मद उमैर, मौहम्मद काशिफ, मौहम्मद अनस, मौहम्मद उसामा, सुलेमान, शमशाद, जावेद, हाजी अकरम आदि उपस्थित रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.