Uttarakhand Weather Update: उत्तराखंड के चार जिलों में हो सकती है बारिश और ओलावृष्टि, बदरीनाथ हाईवे खोलने में जुटी टीम

Uttarakhand Weather Update: उत्तराखंड के चार जिलों में हो सकती है बारिश और ओलावृष्टि, बदरीनाथ हाईवे खोलने में जुटी टीम
Publish Date:Sun, 20 Sep 2020 07:44 AM (IST) Author: Raksha Panthari

देहरादून, जेएनएन। Uttarakhand Weather Update उत्तराखंड में मानसून सुस्त है। मानसून की बारिश कुछ जिलों में बौछारों तक सिमट गई है। मौसम विभाग ने रविवार को देहरादून समेत चार जिलों में हल्की बारिश की संभावना जताई है। जबकि, कुमाऊं में कहीं-कहीं ओलावृष्टि भी संभव है। बीते 20 दिन में उत्तराखंड में सामान्य से 70 फीसद कम बारिश हुई है। अगले कुछ दिन भी इसी प्रकार का मौसम बने रहने के आसार हैं। जबकि, मानसून अपने अंतिम चरण हैं। अगले सप्ताह तक मानसून की विदाई की संभावना जताई जा रही है।वहीं, बदरीनाथ हाईवे जिलासू के पास भूस्खलन से बाधित है। फिलहाल, इसे छोटे वाहनों के लिए खोला जा रहा है। 

शनिवार को कुमाऊं में नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में कहीं-कहीं हल्की बारिश हुई। जबकि, देहरादून में दिनभर धूप और बादलों की आंख-मिचौनी चलती रही। जिससे लोग उमस से हलकान रहे। प्रदेश के अधिकतर जिलों का तापमान सामान्य से तीन से चार डिग्री सेल्सियस अधिक चल रहा है। मुक्तेश्वर का अधिकतम तापमान सामान्य से छह डिग्री अधिक रिकॉर्ड किया गया। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक रविवार को देहरादून, पिथौरागढ़, बागेश्वर और नैनीताल में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। धारचूला और आसपास के कुछ इलाकों में ओलावृष्टि भी हो सकती है।

प्रमुख शहरों के तापमान

शहर, अधिकतम, न्यूनतम

देहरादून, 33.0, 23.9

मसूरी, 24.3, 15.5

टिहरी, 23.7, 17.2

उत्तरकाशी, 26.2, 17.8

हरिद्वार, 35.6, 25.3

जोशीमठ, 23.4, 15.6

पिथौरागढ़, 29.0, 17.6

अल्मोड़ा, 29.5, 18.1

मुक्तेश्वर, 26.0, 13.2

नैनीताल, 22.4, 17.3

चंपावत, 27.1, 17.6

ऊधमसिंह नगर, 33.8, 25.2

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Weather Update: उत्तराखंड में मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट, इन पांच जिलों में भारी बारिश के आसार

बदरीनाथ पुल का एक हिस्सा हुआ खोखला 

बदरीनाथ हाइवे पर रुद्रप्रयाग मुख्य बाजार में ऑल वेदर रोड़ के तहत पुनाड़ गदेरा पर निर्मित आरसीसी पुल के एक हिस्सा नीचे से खोखला हो गया है। पानी के कटाव के कारण धीरे-धीरे यह हिस्सा कट रहा है, जिससे भविष्य में पुल के को खतरा पैदा होने की संभावना बढ़ गई है। वहीं, पुल के निर्माण गुणवत्ता पर सवाल उठने लगे हैं। नगर के लोगों ने पुल की गुणवत्ता की जांच की मांग की है।

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Weather Update: मानसून के अगले सप्ताह विदा होने के आसार

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.