PICS: हरिद्वार के एथल गांव में गुलदार के घुसने से अफरा-तफरी, बमुश्किल कमरे में किया कैद; दो ग्रामीण जख्मी

पथरी क्षेत्र के ऐथल गांव में एक गुलदार घुस आने से अफरातफरी मच गई। ग्रामीणों के शोर मचाने पर गुलदार एक घर में घुस गया। परिवार ने हिम्मत दिखाते हुए गुलदार को कमरे में बंद कर दिया। इस दौरान गुलदार ने दो युवकों पर हमला भी किया।

Raksha PanthriSat, 27 Nov 2021 11:33 AM (IST)
हरिद्वार के एथल गांव में गुलदार के घुसने से अफरा-तफरी, बमुश्किल एक कमरे में किया गया कैद।

जागरण संवाददाता, हरिद्वार : पथरी क्षेत्र के ऐथल गांव में एक गुलदार घुस आने से अफरातफरी मच गई। ग्रामीणों के शोर मचाने पर गुलदार एक घर में घुस गया। परिवार ने हिम्मत दिखाते हुए गुलदार को कमरे में बंद कर दिया। इस दौरान गुलदार ने दो युवकों पर हमला भी किया। जिससे उन्हें मामूली चोट आई हैं। जिसके बाद वन विभाग की टीम ने कई घंटे की मशक्कत के बाद गुलदार को पकड़ा और चिडिय़ापुर रेस्क्यू सेंटर भेज दिया।

हरिद्वार में रिहायशी इलाकों में जंगली जानवरों के आने का सिलसिला जारी है। पथरी क्षेत्र के ऐथल गांव में शनिवार सुबह एक गुलदार घुस आया। पशुशाला के ऊपर गुलदार बैठा देख ग्रामीणों ने शोर मचाया तो गुलदार ग्रामीण मजाहिर हसन के घर में घुस गया।

अचानक घर में गुलदार को देख परिवार वालों के पैरों तले जमीन खिसक गई। उन्होंने खुद को बचाते हुए गुलदार को घर से बाहर निकालने का प्रयास किया। गुलदार ने शाहनवाज व गुलजार पर हमला कर दिया। इस दौरान दोनों को हल्की चोट आई हैं। ग्रामीणों ने हिम्मत दिखाते हुए कमरे का दरवाजा बंद कर गुलदार को कैद कर दिया। वन प्रभाग की टीम ने लगभग चार घंटे तक रेस्क्यू किया और दरवाजे को पिंजरे के मुंह के बराबर काटते हुए गुलदार को कड़ी मशक्कत के बाद पिंजरे में कैद कर लिया। उसे चिडिय़ापुर रेस्क्यू सेंटर भेज दिया गया।

वन क्षेत्राधिकारी दिनेश नौडियाल ने बताया कि गुलदार की उम्र लगभग चार वर्ष है। माना जा रहा है कि रास्ता भटककर गुलदार आबादी क्षेत्र में पहुंचा है। गुलदार को रेस्क्यू करने वाली टीम में उप वनक्षेत्राधिकारी राजेश कुमार, अजय ध्यानी, वन दारोगा गौतम कुमार, अरविंद कुमार, गजेंद्र कुमार, रामनाथ, वन सिपाही विशाल कुमार, भोला, सतन सिंह, बिल्लू पांडे और आरती शामिल रहे।

दहशत में कटी ग्रामीणों की रात

 गुलदार गांव में घुस आने से ग्रामीणों में दहशत बनी हुई है। दरअसल, शुक्रवार रात में कुछ ग्रामीणों ने गुलदार को एक पशुशाला की छत पर बैठे देखा था। ग्रामीणों ने शोर मचाया तो वह आसपास ही छिप गया। ग्रामीणों का कहना है कि रात में वह गांव के पास खेतों में नजर आया। उन्हें गुलदार की आवाज भी सुनाई देती रही। जिससे उनकी पूरी रात गुलदार के खौफ में कटी। शनिवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे गुलदार मजाहिर हसन के घर में घुस गया। घर में गुलदार बंद होने की सूचना पर ग्रामीणों का जमावड़ा लगा रहा। पास के गांव से भी लोग गुलदार देखने के लिए ऐथल पहुंचे। कुछ युवा अपने मोबाइल में गुलदार की तस्वीर और वीडियो लेते रहे।

यह भी पढें- रायवाला में मालगाड़ी की चपेट में आने से शिशु हाथी की मौत, मोतीचूर से कांसरो तक बेहद संवेदनशील है क्षेत्र

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.