Dehradun Crime News: देहरादून में पत्नी और युवक का हत्यारोपी पति प्रेमिका के साथ गिरफ्तार

सेलाकुई पुलिस ने पत्नी व पत्नी के प्रेमी को मौत के घाट उतारने वाले आरोपित और उसकी प्रेमिका को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित पति ने 16 नवंबर को अपनी पत्नी की हत्या कर दी थी यह जानकारी एसएससी जनमेजय खंडूरी ने दी।

Sunil NegiMon, 06 Dec 2021 07:22 PM (IST)
देहरादून में पत्नी और युवक का हत्यारोपी पति प्रेमिका के साथ गिरफ्तार।

जागरण संवाददाता, देहरादून। पत्नी के किसी और के साथ अवैध संबंधों के चलते पति ने अपनी प्रेमिका के साथ पहले अपनी पत्नी और बाद में पत्नी के प्रेमी को मौत के घाट उतार दिया। आरोपित ने 16 नवंबर को अपनी पत्नी की हत्या कर दी थी, लेकिन 20 दिनों बाद भी इसकी कानों कान खबर नहीं हुई। आरोपित ने जब पत्नी के प्रेमी को मारा तब दोनों हत्याओं संबंधी पर्दाफाश किया। पुलिस ने आरोपित पति व उसकी प्रेमिका को गिरफ्तार कर लिया है। पत्नी का शव अभी बरामद नहीं हो पाया है।

पुलिस कार्यालय में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जन्मेजय खंडूड़ी ने बताया कि सेलाकुई निवासी आलम मूल निवासी ग्राम अम्हेडा हलदौर बिजनौर यूपी ने अपने भांजे अरमान की गुमशुदगी संबंधी रिपोर्ट दो दिसंबर को सेलाकुई थाने में दर्ज कराई थी। सेलाकुई थाना पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज करते हुए उसकी तलाश शुरू कर दी। गुमशुदा के मोबाइल फोन की लोकेशन व काल डिटेल रिकार्ड (सीडीआर) हासिल कर सीसीटीवी फुटेज खंगालने शुरू किए गए। अरमान की अंतिम लोकेशन टर्नर रोड क्लेमेनटाउन क्षेत्र की आई। गुमशुदा की सीडीआर में अंतिम काल संदिग्ध पाया गया जिसकी जानकारी हासिल की गई तो व्यक्ति ने बताया कि वह शंकरपुर सहसपुर में किराए के मकान पर रहता है। दो दिसंबर को सेलाकुई से एक युवक उसे देहरादून की आइएसबीटी छोडऩे आया था, जिसे वह जानता नहीं है। व्यक्ति ने खुद को लखीमपुर खीरी में होना बताया।

पुलिस जब व्यक्ति के बताए पते शंकरपुर सहसपुर पहुंची तो पता लगा कि व्यक्ति ने दो दिसंबर को कमरा खाली किया था। व्यक्ति के नंबर की लोकेशन निकाली गई तो उसकी लोकेशन टर्नर रोड क्षेत्र में आई। फोन की लोकेशन के आधार पर पुलिस ने मुशीर अली निवासी ग्राम मूढा सवामामपुर जिला लखीमपुर खीरी यूपी को टर्नर रोड क्लेमेनटाउन से गिरफ्तार कर लिया।

पत्नी बीमार थी इसलिए कर ली दूसरी शादी

पूछताछ में आरोपित ने बताया कि वह शंकरपुर सहसपुर में करीब डेढ़ वर्ष से कपड़े की दुकान चलाता था और वहीं किराए के मकान पर रहता था। कुछ समय पहले उसकी पत्नी सर्फूनिशा को सड़क दुर्घटना में चोट लग गई थी, जिसके कारण वह मानसिक रूप से परेशान चल रही थी। उसके तीन बच्चे भी हैं। इसी दौरान उसकी जान पहचान बबली बानों निवासी मोहल्ला बेगम बाग लखीमपुरखीरी यूपी से हुई और दोनों ने शादी कर ली। मुशीर अपनी पहली पत्नी सर्फूनिशा, दूसरी पत्नी बबली बेगम व बच्चों के साथ शंकरपुर में किराए के मकान पर रहने लगा। जब वह दुकान पर काम करने के लिए जाता था तो इसी दौरान उसके घर के आसपास प्रेशर कुकर ठीक करने वाला युवक अरमान आता जाता रहता था। अरमान की पहचान बबली बानो से हो गई और दोनों के बीच प्रेम प्रसंग होने लगा। घर पर झगड़ा होने के चलते मुशीर की पहली पत्नी सर्फूनिशा बच्चों सहित अपने मायके चली गई।

बबली बानो को ठिकाने लगाने को ऐसे रची साजिश

मुशीर ने बबली बानो को ठिकाने लगाने के लिए बबली बानो की दोस्त किरण साहनी निवासी बिंदाल पुल से दोस्ती की। 12 नवंबर को आरोपित ने शंकरपुर से कमरा खाली कर दिया और मुस्लिम कालोनी गली नंबर 2 टर्नर रोड में किराए पर कमरा लिया। बबली बानो के साथ किरण साहनी भी कमरे में आने लगी और मुशीर व किरण साहनी के बीच प्रेम प्रसंग होने लगा। बबली बानो के अरमान के साथ अवैध संबंध होने के चलते मुशीर बबली को ठिकाने लगाना चाह रहा था। 16 नवंबर को जब मुशीर, बबली बानो व किरण तीनों कमरे में थे तो उन्होंने योजना के तहत बबली बानो की गला घोंटकर हत्या कर दी और शव कार में डालकर पिरान कलियार रोड के किनारे झाडिय़ों में फेंक दिया। इस दौरान दोनों ने मिलकर बबली की हत्या का वीडियो भी बनाया।

बबली के बारे में पूछताछ कर रहे अरमान को भी रास्ते से हटाया

कुछ दिनों तक जब बबली का कहीं पता नहीं लगा तो उसका प्रेमी अरमान उसके बारे में मुशीर व किरण से पूछताछ करने लगा। दो दिसंबर को मुशीर ने अरमान को फोन किया और मिलने के टर्नर रोड पर बुलाया। अरमान किरण के साथ बात कर रहा था कि इसी दौरान मुशीर ने अरमान के सिर पर ईंट से वार किया जिससे वह जमीन पर गिर गया। इसके बाद दोनों ने चादर से अरमान का गला घोंटा और शव को एक प्लास्टिक के कट्टे में डालकर रायवाला स्थित पुराने पुल के नीचे फेंक दिया। रायवाला पुलिस ने रविवार को मृतक का शव बरामद किया। जांच पड़ताल के बाद पुलिस ने आरोपित मुशीर अली व उसकी प्रेमिका किरण साहनी को रविवार रात को गिरफ्तार कर लिया।

शव बरामदगी के लिए पीसीआर लेगी पुलिस

दोहरे हत्याकांड में पुलिस ने मृतक अरमान का शव तो बरामद कर लिया है, लेकिन अब तक बबली बानो का शव बरामद नहीं हो पाया है। पुलिस ने कोर्ट में पुलिस कस्टडी रिमांड (पीसीआर) के अप्लीकेशन लगा दी है। कोर्ट से अनुमति मिलने के बाद पुलिस शव बरामदगी के लिए आरोपितों को पिरान कलियार लेकर जाएगी।

यह भी पढ़ें:- हरिद्वार: दवा लेने के बहाने घुसे थे बुजुर्ग दंपत्ति के घर, आंखों में में मिर्च झोंक लूट; 48 घंटे में पुलिस ने किया गिरफ्तार

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.