Housing Project Fraud: मानवाधिकार आयोग ने शिकायत पर दो हफ्ते में मांगी रिपोर्ट, जानें- पूरा मामला

मानवाधिकार आयोग ने शिकायत पर दो हफ्ते में मांगी रिपोर्ट।

मसूरी रोड पर खाला गांव में हाउसिंग प्रोजेक्ट के नाम पर हुई धोखाधड़ी के मामले में आरोपित पक्ष ने मानवाधिकार आयोग से शिकायत की है। आयोग ने शिकायत का संज्ञान लेते हुए पुलिस महानिरीक्षक को दो सप्ताह के भीतर आख्या प्रस्तुत करने के आदेश दिए हैं।

Publish Date:Sat, 05 Dec 2020 11:46 AM (IST) Author: Raksha Panthari

जागरण संवाददाता, देहरादून। मसूरी रोड पर खाला गांव में हाउसिंग प्रोजेक्ट के नाम पर हुई धोखाधड़ी के मामले में आरोपित पक्ष ने मानवाधिकार आयोग से शिकायत की है। आयोग ने शिकायत का संज्ञान लेते हुए पुलिस महानिरीक्षक को दो सप्ताह के भीतर आख्या प्रस्तुत करने के आदेश दिए हैं।

आयोग की ओर से पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल को भेजे गए नोटिस में कहा गया है कि आयोग को आकाश कश्यप की ओर से शिकायत प्राप्त हुई है। जिसमें उन्होंने पुलिस पर उनकी शिकायत न सुनने और अब तक कोई उचित कार्रवाई न करने का आरोप लगाया है। ऐसे में आयोग ने 17 दिसंबर आख्या तलब की है। साथ ही आदेश के अपेक्षानुरूप कार्रवाई न होने पर उन्होंने यथोचित आदेश जारी करने की बात कही है।

यह है पूरा मामला 

बीते सप्ताह शिकायतकर्ता नवीन राव, मैनेजिंग डायरेक्टर डेलमॉस एविएशन प्राइवेट लिमिटेड, नई दिल्ली ने राहुल मेहता, अजय चुग (पार्टनर प्रोफैशियो डेवलपर्स एंड रियलिटी एलएलपी), आकाश कश्यप, प्रेम कश्यप, किरण कश्यप, राशि कश्यप निवासी ओक हिल स्टेट बगराल गांव मसूरी डायवर्जन, बांके बिहारी शर्मा, रितु शर्मा, प्रतीक शर्मा, अनीस शर्मा निवासी 78 राधा पैलेस राजपुर रोड देहरादून, हरीश जुल्का, निमित्त जैन मास आर्किटेक्ट और उनके सहयोगी, पंकज सिंह के विरुद्ध थाना राजपुर पर एक तहरीर दी। नवीन राव के मुताबिक, उक्त व्यक्तियों ने खाला गांव राजपुर में एक हाउसिंग प्रोजेक्ट में पूंजी निवेश करने के लिए प्लान प्रस्तुत किया, जिसमें उनसे 22.5 करोड़ रुपये इन्वेस्ट करने के लिए कहा गया।

बताया कि इसके एवज में 65 करोड़ रुपये प्राप्त होने की बात कही गई। आरोपितों ने धोखाधड़ी करते हुए नवीन राव से 14 करोड़ का भुगतान प्रोजेक्ट में कराया गया, लेकिन प्रोजेक्ट शुरू नहीं किया गया। सीओ डालनवाला की ओर से जांच किए जाने के बाद इस मामले में 13 लोग के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

धोखाधड़ी का आरोप लगाने वाले एनआरआइ नवीन राव ने मुख्यमंत्री को पत्र लिख मामले में निष्पक्ष जांच और दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने 25 पेज के पत्र में मामले की विस्तृत जानकारी के साथ शिकायत की है। उन्होंने कहा है कि धोखाधड़ी के आरोपित पुलिस पर राजनीतिक दबाव बना रहे हैं और कार्रवाई को प्रभावित करने का प्रयास कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: रुड़की से ढाई करोड़ की नकली दवाएं बरामद, यूपी समेत इन आठ राज्यों में आपूर्ति की बात आई सामने

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.