रुड़की: छात्र का शव सड़क पर रखकर ग्रामीणों ने चार घंटे तक लगाया जाम, गोली मारकर की गई थी हत्या

लहबोली निवासी छात्र मनजीत के हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कांग्रेसी नेता आदित्य राना और परवेज के नेतृत्व में शव को देवबंद मार्ग पर रखकर जाम लगा दिया गया। साथ ही सड़क पर बुग्गियां भी लगा दी गई।

Raksha PanthriSun, 24 Oct 2021 11:20 AM (IST)
रुड़की: छात्र की हत्या के आरोपित की गिरफ्तारी को देवबंद मार्ग पर शव रख लगाया जाम।

संवाद सहयोगी, मंगलौर : लहबोली गांव के छात्र का शव सड़क पर रखकर आक्रोशित ग्रामीणों ने चार घंटे जाम लगाये रखा। ग्रामीण हत्यारोपितों की तुरंत गिरफ्तारी, मृतक के स्वजन की आर्थिक मदद समेत कई मांगे पूरी करने की जिद पर अड़े रहे। पुलिस अधिकारियों ने किसी तरह से ग्रामीणों को समझाकर जाम खुलवाया। जिसके बाद शव का अंतिम संस्कार कराया गया।

लबहोली गांव निवासी अशोक का बेटा राज ङ्क्षसह उर्फ मंजीत मखदूमपुर गांव स्थित इंटर कालेज में कक्षा 11वीं का छात्र था। शुक्रवार की सुबह छात्र घर से स्कूल गया था, लेकिन इसके बाद वापस नहीं आया था। शनिवार की शाम लापता छात्र का शव मखदूमपुर गांव के जंगल में मिला था। छात्र के सिर और सीने पर दो गोली मारी गई थी। छात्र की हत्या की सूचना मिलने के बाद ग्रामीणों ने लहबोली गांव में आधा घंटे जाम लगाया था। पुलिस अधिकारियों ने 24 घंटे में हत्यारोपितों की गिरफ्तारी का आश्वासन देकर जाम खुलवा दिया था। रविवार सुबह जैसे ही छात्र का शव गांव में पहुंचा तो ग्रामीण आक्रोशित हो गए।

पूर्व दायित्वधारी आदित्य राणा के नेतृत्व में ग्रामीणों ने सुबह नौ बजे घर के बाहर मंगलौर-देवबंद मार्ग पर ट्रैक्टर ट्राली और अन्य वाहन खड़े कर शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। ग्रामीण सड़क पर ही धरना देकर बैठ गए। जाम लगाने की सूचना पर एसपी देहात प्रमेंद्र डोबाल, सीओ पंकज गैरोला, प्रभारी निरीक्षक प्रवीण ङ्क्षसह कोश्यारी मौके पर पहुंचे। पुलिस अधिकारियों ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन, ग्रामीण हत्यारोपितों की गिरफ्तारी समेत पांच मांगों पर अड़े रहे। इस दौरान करीब छह दौर की वार्ता चलती रही। करीब चार घंटे तक जाम लगा रहा। दोपहर करीब एक बजे एसपी देहात प्रमेंद्र डोबाल ने उनकी मांगों को पूरा करने का आश्वासन देकर जाम खुलवाया। जिसके बाद ही मामला शांत हुआ। जाम के चलते वाहनों की लंबी लाइन लगी रही। इस दौरान किसान यूनियन और भीम आर्मी और सहारनपुर के कश्यप समाज के पदाधिकारियों के अलावा उदलहेड़ी गांव के पूर्व प्रधान सूर्यवीर मलिक भी धरना स्थल पर पहुंचे थे।

50 लाख मुआवजा मांगा

ग्रामीणों ने मृतक के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी व गांव में पट्टे की भूमि दिए जाने की मांग की। साथ ही मृतक के स्वजन को आर्थिक मदद के तौर पर 50 लाख मुआवजा देने की भी मांग की। ग्रामीणों ने कहा कि छात्र की हत्या करने वाले आरोपितों की तुरंत गिरफ्तारी की जाए।

शेरपुर गांव के युवक पर जताया शक

मृतक छात्र के स्वजन ने शेरपुर गांव के एक युवक पर हत्या का शक जताया है। मंगलौर कोतवाली पुलिस को दी गई तहरीर में मृतक छात्र के पिता अशोक ने बताया कि शेरपुर गांव का एक लड़का उनके बेटे को घर से बुलाकर ले गया था। पुलिस ने इसकी जांच शुरू की है।

अज्ञात पर मुकदमा

मंगलौर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक प्रवीण ङ्क्षसह कोश्यारी ने बताया कि पुलिस ने अशोक कुमार की तहरीर पर अज्ञात आरोपितों पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस आरोपितों को शीघ्र गिरफ्तार करेगी।

यह भी पढ़ें- हरिद्वार: घर से दूध लेने निकली मासूम को बहलाकर जंगल में ले गया युवक, किया दुष्कर्म; गिरफ्तार

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.