हरिद्वार बाईपास रोड को फोर लेन करने उतरी मशीनरी, नौ साल से अधर में लटकी थी परियोजना

Haridwar Bypass Road हरिद्वार बाईपास के चौड़ीकरण की राह अब आसान होने लगी है। करीब नौ साल से अधर में लटकी साढ़े तीन किलोमीटर (किमी) लंबी बाईपास रोड को फोर लेन करना नई कंपनी राकेश कंस्ट्रक्शन ने शुरू कर दिया है।

Raksha PanthriFri, 17 Sep 2021 02:23 PM (IST)
हरिद्वार बाईपास रोड को फोर लेन करने उतरी मशीनरी, नौ साल से अधर में लटकी थी परियोजना।

जागरण संवाददाता, देहरादून। Haridwar Bypass Road अजबपुर रेलवे ओवर ब्रिज और आइएसबीटी फ्लाईओवर के बीच बाटलनेक बन चुके हरिद्वार बाईपास के चौड़ीकरण की राह अब आसान होने लगी है। करीब नौ साल से अधर में लटकी साढ़े तीन किलोमीटर (किमी) लंबी बाईपास रोड को फोर लेन करना नई कंपनी राकेश कंस्ट्रक्शन ने शुरू कर दिया है। इससे पहले चौड़ीकरण के लिए सितंबर 2012 में अमृत डेवलपर्स के साथ राष्ट्रीय राजमार्ग खंड डोईवाला (तब रुड़की खंड) ने अनुबंध किया था। चौड़ीकरण में असफल होने पर यह काम अमृत डेवलपर्स से छीन लिया गया था।

बाईपास रोड के चौड़ीकरण को लेकर जागरण ने शुरू से ही जनपक्षीय पत्रकारिता की भूमिका निभाई है। चौड़ीकरण की रफ्तार धीमी पड़ने से लेकर इसके अधर में लटक जाने और फिर चौड़ीकरण की राह खुलने तक के सफर में जागरण ने प्रमुखता से खबरें प्रकाशित कीं। जब-जब अधिकारी ढीले पड़े, तब-तब जागरण ने उनको जिम्मेदारी की याद दिलाई। साथ ही लापरवाही के लिए सिस्टम को भी कठघरे में खड़ा किया। हाल ही में जागरण ने चयनित कंपनी के साथ अनुबंध करने के बाद भी काम न शुरू किए जाने पर 12 सितंबर के अंक में 'नौ साल खपा दिए, 12 करोड़ का काम 26 करोड़ पहुंचा' शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। खबरों के माध्यम से जनता के हक की आवाज उठाने का ही परिणाम रहा कि अब चौड़ीकरण की राह की सभी बाधाएं दूर हो गई हैं।

राजमार्ग खंड के सहायक अभियंता सुरेंद्र सिंह के मुताबिक राकेश कंस्ट्रक्शन कंपनी ने कारगी चौक से मोथरोवाला चौक के बीच रोड कटिंग वाले हिस्से पर समतलीकरण का कार्य शुरू कर दिया है। यहां पर लंबे समय से कूड़ा भी डंप किया जा रहा था और अब कूड़ा हटा दिया गया है। श्रमिकों के रहने के लिए फिलहाल टेंट स्थापित किए गए हैं और जल्द साइट आफिस व कुछ अस्थायी कमरे भी बनाए जाएंगे। ताकि चौड़ीकरण कार्य में किसी तरह की बाधा पैदा न हो। उन्होंने बताया कि एक सप्ताह में कार्य की रफ्तार तेज हो जाएगी और फिर चौड़ीकरण कार्य के तहत चार पुल का निर्माण भी शुरू करा दिया जाएगा।

परियोजना पर एक नजर

-लंबाई : आइएसबीटी फ्लाईओवर से अजबपुर रेलवे ओवर ब्रिज तक करीब 3.5 किलोमीटर

-लागत : 25.90 करोड़ रुपये

-कार्य : सड़क के अवशेष कार्यों को पूरा करते हुए फोर लेन में तब्दील करना

-डेडलाइन : मार्च 2023 तक

यह भी पढ़ें- Haridwar Bypass Road: नौ साल खपा दिए, 12 करोड़ का काम 26 करोड़ पर पहुंचा

सड़क की मरम्मत भी शुरू

चौड़ीकरण के इतर राजमार्ग खंड ने बाईपास रोड पर जगह-जगह हो रखे गड्ढों को भरना भी शुरू कर दिया है। जागरण ने बाईपास रोड की हालत को लेकर भी सवाल खड़े किए थे। लिहाजा, अब अधिकारियों ने मुख्य सड़क की मरम्मत भी शुरू कर दी है। अधिकारियों के मुताबिक सप्ताहभर में गड्ढे भर दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें- Jogiwala-Mussoorie Road: जोगीवाला-मसूरी मार्ग की भेंट चढ़ेंगे 2200 पेड़, पर्यावरणीय पहलुओं को लेकर अभी से होने लगा विरोध

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.