उत्‍तरकाशी: धरासू रेंज के दुदारका गांव में घर के पास खेल रहे बच्चे पर गुलदार का हमला, क्षेत्र में दहशत का माहौल

धरासू रेंज के अंतर्गत दुदारका गांव में रविवार सुबह घर के पास खेल रहे छह साल के बालक पर गुलदार ने हमला कर दिया। बच्चा चिल्लाया तो आसपास के ग्रामीण उसे गुलदार के चंगुल से छुड़ाने के लिए दौड़े। इसके बाद गुलदार बच्चे को छोड़कर जंगल की ओर भागा।

Sumit KumarSun, 28 Nov 2021 06:02 PM (IST)
दुदारका गांव में रविवार सुबह घर के पास खेल रहे छह साल के बालक पर गुलदार ने हमला कर दिया।

संवाद सूत्र, चिन्यालीसौड़: धरासू रेंज के अंतर्गत दुदारका गांव में रविवार सुबह घर के पास खेल रहे छह साल के बालक पर गुलदार ने हमला कर दिया। बच्चा चिल्लाया तो आसपास के ग्रामीण उसे गुलदार के चंगुल से छुड़ाने के लिए दौड़े। इसके बाद गुलदार बच्चे को छोड़कर जंगल की ओर भागा। स्वजन घायल बच्चे को लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चिन्यालीसौड़ पहुंचे। यहां बच्चे की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। इस घटना से क्षेत्र में दहशत का माहौल है। ग्रामीण खेतों में जाने में भी घबरा रहे हैं।

धरासू रेंज के अंतर्गत पट्टी भंडारस्यूं के लुदारका गांव में रविवार को छह वर्षीय अमन घर के निकट ही खेल रहा था। तभी गुलदार ने अमन पर हमला कर दिया है। अमन ने रोना और चिल्लाना शुरू किया तो आवाज सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे और शोच मचाने लगे। साथ ही पत्थर भी फेंकने लगे। इसके बाद गुलदार अमन को छोड़कर भाग निकाला। इस घटना से पहले गुलदार ब्रह्मखाल, कुमारकोट, तराकोट मोटर मार्ग पर कई दुपहिया वाहन चालकों पर हमला कर चुका है। साथ ही कई मवेशियों को भी निवाला बना चुका है। रेंज अधिकारी नागेंद्र रावत ने कहा कि वन विभाग की टीम नियमित रूप से गश्त कर रही है। वह खुद भी गश्त कर रहे हैं। कुछ स्थानों पर कैमरे लगा दिए गए हैं। गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरे की व्यवस्था भी की जाएगी। इसके लिए जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक से अनुमति के लिए पत्र भेजा हुआ है।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में हर माह औसतन पांच व्यक्तियों की जान ले रहे वन्यजीव, नौ माह में 43 की मौत; 148 घायल

भालू के हमले में युवक घायल

उत्तरकाशी: असीगंगा घाटी के ढासड़ा गांव में भालू ने एक युवक पर हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। युवक को ग्रामीणों ने जिला अस्पताल उत्तरकाशी में भर्ती किया, जहां उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है। असी गंगा घाटी के ढासड़ा गांव के पास खेतों में रविवार की दोपहर महावीर ङ्क्षसह बकरियों को चुगा रहा था। तभी झाडिय़ों में छिपे भालू ने महावीर पर हमला कर दिया। महावीर ने भालू पर लाठी और पत्थरों से वार किया और भालू को भगाने का प्रयास किया। लेकिन, भालू ने महावीर को गंभीर रूप से घायल किया। महावीर की चिल्लाने की आवाज सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे। इसके बाद भालू जंगल की ओर भागा। महावीर के पांव में गंभीर चोट आई है।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: चार और पांच दिसंबर को होगी संयुक्त परीक्षा, चयन आयोग ने जारी किए प्रवेश पत्र; ऐसे करें डाउनलोड

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.