ट्रांस हिमालय के लिए पहला महिला साइकिलिंग अभियान, मुख्यमंत्री ने दिखाई हरी झंडी

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने हरी झंडी दिखाकर प्रथम महिला ट्रांस हिमालय साइक्लिंग अभियान दल को किया रवाना।

अखंड हिमालय स्वच्छ हिमालय कर्तव्य गंगा और महिला सशक्तीकरण के मकसद से प्रथम महिला ट्रांस हिमालय साइकिलिंग अभियान की अगुआई उत्तराखंड की श्रुति व बिहार की सबिता महतो करेंगी। देहरादून में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अभियान दल को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

Publish Date:Wed, 27 Jan 2021 09:31 PM (IST) Author: Sunil Negi

राज्य ब्यूरो, देहरादून। अखंड हिमालय, स्वच्छ हिमालय, कर्तव्य गंगा और महिला सशक्तीकरण के मकसद से प्रथम महिला ट्रांस हिमालय साइकिलिंग अभियान की अगुआई उत्तराखंड की श्रुति व बिहार की सबिता महतो करेंगी। देहरादून में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अभियान दल को हरी झंडी दिखाकर बाघा बार्डर के लिए रवाना किया। यह अभियान दल 80 दिन में आठ राज्यों व नेपाल से होते हुए पांच हजार किलोमीटर का सफर तय करेगा। अभियान की औपचारिक शुरुआत दो फरवरी को बाघा बार्डर से होगी।

मुख्यमंत्री आवास में बुधवार को आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रावत ने श्रुति रावत को इस अभियान के लिए डेढ़ लाख रुपये की राशि का चेक भी भेंट किया। बताया गया कि प्रथम महिला ट्रांस हिमालय साइकिलिंग अभियान की शुरुआत दो फरवरी को बाघा बार्डर से होगी। इसके बाद पंजाब, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम से नेपाल होते हुए अरूणाचल प्रदेश में यह अभियान संपन्न होगा। इस मौके पर पर्वतारोही अवधेश भट्ट भी मौजूद थे।

इससे पहले, उत्तरकाशी के काशी विश्वनाथ मंदिर में श्रुति रावत व सबिता महतो की अगुआई वाले अभियान दल ने पूजा अर्चना की। श्रुति उत्तरकाशी के गोरसाली गांव की रहने वाली है, जबकि प्रसिद्ध साइक्लिस्ट सबिता छपरा (बिहार) की हैं। 26-वर्षीय सबिता ने उच्च हिमालयी ट्रैक पर कई बार साइकिल यात्रा की है। इसमें डोडीताल, दरबा टाप, सीमा टाप, गंगोत्री, यमुनोत्री व नेलांग ट्रैक शामिल हैं।

उत्तरकाशी से अभियान दल को रवाना करते हुए पूर्व विधायक विजयपाल सजवाण ने कहा कि उच्च हिमालयी क्षेत्र में साइकिल अभियान को लेकर सबिता व श्रुति का जोश और जज्बा जिला एवं राज्य की बेटियों को प्रेरणा प्रदान करेगा। जिला पंचायत अध्यक्ष दीपक बिजल्वाण ने कहा कि साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने को ऐसे अभियान महत्वपूर्ण हैं। इससे भविष्य में राष्ट्रीय स्तर के साइक्लिंग अभियान की राह भी प्रशस्त होगी। इस मौके पर जिला पंचायत सदस्य प्रदीप कैंतुरा व मनीष राणा, पर्यटन विकास अधिकारी प्रकाश खत्री, पर्यावरण प्रेमी प्रताप पोखरियाल, प्रताप सिंह बिष्ट, काशी विश्वनाथ मंदिर के महंत अजय पुरी, भागीरथी मंडल के अध्यक्ष अजीत पाल और कर्तव्य फाउंडेशन की टीम मौजूद रही।

यह भी पढ़ें-मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दी सड़कों के लिए वित्तीय मंजूरी

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.