जल्द शुरू होगा देहरादून रेलवे स्टेशन का विस्तारीकरण कार्य, पढ़िए पूरी खबर

उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने कहा कि गुरुवार को राज्‍य में विभिन्न रेलवे स्टेशनों के विस्तारीकरण की संभावना देखी। इस दौरान महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने कहा कि देहरादून रेलवे स्टेशन के विस्तारीकरण का कार्य जल्द शुरू होगा।

Sunil NegiFri, 24 Sep 2021 12:43 PM (IST)
गुरुवार को देहरादून रेलवे स्टेशन का निरीक्षण करने पहुंचे रेलवे के अधिकारी।

जागरण संवाददाता, देहरादून। उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने कहा कि देहरादून रेलवे स्टेशन के विस्तारीकरण का कार्य जल्द शुरू हो जाएगा। यह काम रेलवे की कार्यदायी संस्था रेल भूमि विकास प्राधिकरण (आरएलडीए) ने एमडीडीए को सौंपा है। एमडीडीए ने इस कार्य के लिए कंसलटेंट की नियुक्ति का प्रस्ताव दिया है। गुरुवार को उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक ने उत्तराखंड में विभिन्न रेलवे स्टेशनों के विस्तारीकरण की संभावना देखी। उन्होंने देहरादून रेलवे स्टेशन के साथ देहरादून-मोतीचूर रेलवे सेक्शन का निरीक्षण किया। देहरादून पहुंचे उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने कहा कि देहरादून रेलवे स्टेशन के विस्तारीकरण कार्य में जो भी अड़चन है, उसे शासन से बातचीत कर दूर किया जाएगा। इसके अलावा रेलवे ने हर्रावाला रेलवे स्टेशन के विस्तार का भी प्रस्ताव बनाया है। राज्य सरकार से विचार-विमर्श कर इस पर भी जल्द कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

दिसंबर 2024 तक पूरी होगी ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाइन

महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने बताया कि ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलवे लाइन दिसंबर 2024 तक पूरी होने की संभावना है। कहा कि यह बहुत महत्वपूर्ण और कठिन प्रोजेक्ट है। बताया कि करीब 164 किमी रूट में से 120 किमी टनल हैं। बताया कि उत्तराखंड में कच्चे पहाड़ हैं, ऐसे में टनल बनाने में बहुत सावधानी बरतनी पड़ रही है।

तेजस-राजधानी का संचालन मुश्किल

आशुतोष गंगल से देहरादून से तेजस व राजधानी जैसी ट्रेनों के संचालन पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि इन ट्रेनों को लंबे रूट पर चलाया जाता है। दिल्ली से देहरादून का छोटा रूट है, ऐसे में इनका संचालन मुश्किल नजर आ रहा है। उन्होंने कहा कि इस पर चर्चा की जाएगी। बता दें कि पूर्व रेल मंत्री पीयूष गोयल ने विगत वर्ष देहरादून से दिल्ली के बीच तेजस एक्सप्रेस संचालन के लिए सैद्धांतिक मंजूरी दी थी।

हर्रावाला तक ही आ पाएगी 24 डिब्बों की ट्रेन

दून स्टेशन तक 24 डिब्बों की ट्रेन नहीं आ पाएगी। उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने बताया कि देहरादून तक 24 डिब्बों की ट्रेन लाने के लिए हमारी टेक्निकल टीम ने देहरादून रेलवे स्टेशन का कई दौर का स्थलीय निरीक्षण किया है, लेकिन यहां इसकी कोई संभावना नहीं मिली। ऐसे में हमने हर्रावाला रेलवे स्टेशन तक 24 डिब्बों की ट्रेन लाने का प्रस्ताव बनाया है।

देहरादून से मोतीचूर तक इंजन में बैठकर किया निरीक्षण

आशुतोष गंगल व उनकी टीम ने देहरादून-मोतीचूर सेक्शन का निरीक्षण किया। सुबह नौ बजे देहरादून स्टेशन से आशुतोष गंगल इंजन में बैठकर निरीक्षण पर निकले। उन्होंने हर्रावाला से मोतीचूर रेलवे स्टेशन तक भविष्य में लूप लाइन बनाने को लेकर निरीक्षण किया। हाल ही में इस सेक्शन को विद्युतीकृत किया गया है। इस सेक्शन पर पड़ने वाले स्टेशन रायवाला व डोईवाला का भी विस्तार किया जाएगा।

देहरादून स्टेशन व स्वास्थ्य केंद्र का किया निरीक्षण

मोतीचूर से लौटने के बाद उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने देहरादून रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया। उन्होंने प्लेटफार्म दो से प्लेटफार्म चार तक स्थलीय निरीक्षण किया। इसके बाद प्लेटफार्म चार पर बनी क्रासिंग का निरीक्षण किया। लिफ्ट, स्वचालित सीढ़ि‍यां और मुख्य द्वार पर दिव्यांगों की मदद के लिए ब्रेल लिपि के साइनेज का निरीक्षण किया।

एटीएम व यात्री शेड नहीं होना का लिया संज्ञान

महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने देहरादून रेलवे स्टेशन पर एक भी एटीएम नहीं होने का संज्ञान लेते हुए मंडल रेल प्रबंधक मुरादाबाद अजय नंदन से इसका प्रस्ताव तैयार कर उत्तर रेलवे को भेजना को कहा है। इसके बाद जल्द ही एटीएम की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा तीन नंबर प्लेटफार्म पर छोटे छोटे यात्री शेड बनाए गए हैं, बरसात व तेज धूप में यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। उन्होंने इस पर भी डीआरएम को संज्ञान लेने को कहा है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी व मुख्य सचिव से की मुलाकात

उत्तराखंड में रेलवे की परियोजनाओं को गति देने के लिए प्रदेश सरकार रेलवे का भरपूर सहयोग करेगी। प्रदेश में गतिमान व भविष्य में शुरू होने वाली परियोजनाओं पर उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी व मुख्य सचिव डा. एसएस संधू से मुलाकात कर परियोजनाओं पर विचार विमर्श किया। मुख्य सचिव ने महाप्रबंधक से सभी परियोजनाओं को समय से पूरा करने का अनुरोध किया। साथ ही उन्होंने आश्वस्त किया कि रेलवे की परियोजनाओं को तीव्रता से पूरा करने के लिए राज्य प्रशासन द्वारा हर संभव सहयोग किया जाएगा। मुख्य सचिव ने महाप्रबंधक को आश्वस्त किया कि रेलवे सभी विभागों के साथ मिलकर प्रस्ताव पर कार्य करे। इसमें जो भी अड़चन आएंगी, सरकार उसे दूर करने में पूरा सहयोग करेगी। वहीं, मुख्यमंत्री ने राज्य में हर मौसम में रेल सुविधा उपलब्ध कराने के लिए रेलवे द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की।

यह भी पढ़ें:- देहरादून के हर्रावाला रेलवे स्टेशन का 170 करोड़ रुपये से किया जाएगा कायाकल्प

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.