श्रीनगर गढ़वाल क्षेत्र की विद्युत समस्याओं का होगा निराकरण, कैबिनेट मंत्री डा धन सिंह रावत ने दिए निर्देश

क्षेत्रीय विधायक व कैबिनेट मंत्री डा धन सिंह रावत ने कहा कि श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र में विद्युत संबंधी समस्याओं का शीघ्र निराकरण किया जाएगा। उन्‍होंने थलीसैंण के उफरैंखाल में 33 केवी के नए सब स्टेशन का प्रस्ताव शासन को भेजने के निर्देश दिए।

Sunil NegiFri, 17 Sep 2021 12:05 PM (IST)
श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र में विद्युत संबंधी समस्याओं का शीघ्र निराकरण किया जाएगा।

राज्य ब्यूरो, देहरादून। श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र में विद्युत संबंधी समस्याओं का शीघ्र निराकरण किया जाएगा। थलीसैंण के उफरैंखाल में 33 केवी के नए सब स्टेशन का प्रस्ताव शासन को भेजने के निर्देश क्षेत्रीय विधायक व कैबिनेट मंत्री डा धन सिंह रावत ने दिए।

30 नवंबर से पहले शुरू होगा सब स्टेशन

कैबिनेट मंत्री डा धन सिंह रावत ने गुरुवार को विधानसभा स्थित कार्यालय में श्रीनगर क्षेत्र की विद्युत संबंधी समस्याओं को लेकर ऊर्जा निगम के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने चाकीसैंण में निर्माणाधीन विद्युत वितरण सब स्टेशन 30 नवंबर से पहले शुरू करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि श्रीनगर के डांग क्षेत्र से 33 केवी हाईटेंशन लाइन को अगले माह अक्टूबर तक हटाया जाए। श्रीकोट वाल्मीकि बस्ती व तिवारी मोहल्ले के आबादी क्षेत्र से 11 केवीए व 33 केवीए हाईटेंशन लाइन शीघ्र हटाने के निर्देश भी दिए गए।

ट्रांसफार्मर होंगे स्थानांतरित

तय किया गया कि पाबौ विकासखंड के बर्सीला, रिस्ती व चोपड़ा में स्थापित ट्रांसफार्मर स्थानांतरित करने को शीघ्र प्रस्ताव तैयार कर शासन को भेजे जाएंगे। पाबौ व थलीसैंण में 600 कनेक्शन पर एक मीटर रीडर तैनात करने के निर्देश दिए गए। थलीसैंण, पैठाणी व पाबौ के विभिन्न गांवों में सड़े-गले व जर्जर बिजली के पोल बदले जाएंगे। बैठक में ऊर्जा निगम के निदेशक आपरेशन एमएल प्रसाद, निदेशक प्रोजेक्ट सतीश चंद, ऊर्जा संयुक्त सचिव विक्रम सिंह, अधीक्षण अभियंता एमआर आर्य व जसवंत सिंह्र, अधिशासी अभियंता कोटद्वार आरआर सिंह, अधिशासी अभियंता श्रीनगर वाइएस तोमर, अधिशासी अभियंता पौड़ी अभिनव रावत, कनिष्ठ अभियंता अमित बर्त्वाल मौजूद थे।

---------------------------------------- 

मूल विद्यालयों के बजाय डायट में मिली तैनाती

रसूखदार शिक्षकों को मूल विद्यालयों में लौटाने की कवायद पर शिक्षा विभाग को कदम पीछे खींचने पड़े। शासन के निर्देश पर इन शिक्षकों को देहरादून में जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) में तैनाती दी गई है। शिक्षा सचिव राधिका झा ने बीते दिनों आदेश जारी कर सरकारी विद्यालयों में पठन-पाठन सुचारू करने के लिए शिक्षकों की संबद्धता खत्म कर दी थी। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय के निर्देश के बाद शिक्षा निदेशालय में बनाए गए शिकायत प्रकोष्ठ को भी समाप्त कर दिया गया था। इस प्रकोष्ठ में तैनात दो शिक्षिकाओं को उनके मूल उत्तरकाशी जिले के पुरोला और टिहरी जिले के म्याणी स्थित विद्यालयों में लौटने के आदेश दिए गए थे। इसके अतिरिक्त एक शिक्षक को रुद्रप्रयाग लौटना था। शासन ने फिलहाल तीनों शिक्षकों को राहत देते हुए डायट देहरादून में शिक्षकों के रिक्त पदों पर तैनाती दी है। इन शिक्षकों की तैनाती पर इंटरनेट मीडिया पर भी शिक्षक तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें:-देहरादून के एसएसपी जन्मेजय खंडूरी बोले, एक सप्ताह में ठीक करो ट्रैफिक लाइट वरना होगी कार्रवाई 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.