पुलिस महानिदेशक ने कचहरी रोड स्थित निर्माणाधीन बहुउद्देशीय कार्यालय का किया निरीक्षण, दिसंबर अंत तक शिफ्ट होंगे कार्यालय

डीजीपी अशोक कुमार ने कचहरी रोड स्थित निर्माणाधीन बहुउद्देशीय कार्यालय का निरीक्षण किया। उन्होंने पूरे परिसर में सुधार एवं निमार्ण कार्य शीघ्र पूरा करने के लिए दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि दिसंबर माह के अंत तक गढ़वाल परिक्षेत्र यातायात एवं फायर के कार्यालय बहुउद्देशीय भवन में शिफ्ट कर दिए जाएंगे।

Sunil NegiTue, 23 Nov 2021 04:55 PM (IST)
पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कचहरी रोड स्थित निर्माणाधीन बहुउद्देशीय कार्यालय का निरीक्षण किया।

जागरण संवाददाता, देहरादून। दिसंबर महीने के अंत तक गढ़वाल रेंज, यातायात व फायर ब्रिगेड के कार्यालय कचहरी रोड स्थित निर्माणाधीन बहुउद्देश्यीय भवन में शिफ्ट हो जाएंगे। मंगलवार को पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने नए भवन का भ्रमण किया और पूरे परिसर में सुधार व निर्माण कार्य शीघ्र पूरा करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

वर्तमान में डीआइजी रेंज व यातायात का कार्यालय जाखन में है, जहां उच्चाधिकारी बैठते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए कचहरी रोड पर एक बहुमंजिला भवन का निर्माण किया जा रहा है। तीनों विभाग भवन में शिफ्ट होने से फरियादियों को समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। निरीक्षण के दौरान डीजीपी के साथ अमित सिन्हा पुलिस महानिरीक्षक पीएम, मुख्तार मोहसिन निदेशक यातायात, करन सिंह नगन्याल पुलिस उप महानिरीक्षक गढ़वाल रेंज, सेंथिल अबुदेई कृष्ण राज एस पुलिस उप महानिरीक्षक पीएम सहित कई पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।

-------------------------------- 

निर्माणाधीन भवन समेत दुकान सील

मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण (एमडीडीए) ने अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई करते हुए एक निर्माणाधीन भवन समेत एक दुकान को सील कर दिया। एमडीडीए के अनुसार, मसूरी रोड पर मैगी प्वाइंट के पास कविता सेमवाल ने बिना मानचित्र स्वीकृति के दो मंजिला भवन का निर्माण शुरू कर दिया था। एमडीडीए की ओर से चालानी कार्रवाई करने के बाद कविता सेमवाल ने मंडलायुक्त कोर्ट में अपील की। भवन की कंपाउंडिंग कराने के लिए 10 दिन का समय दिया गया था। इस अवधि में कंपाउंडिंग मैप दाखिल नहीं किया गया और निर्माण जारी रखा गया। जिस पर मंगलवार को भवन को सील कर दिया गया। वहीं, डोईवाला में अवतार सिंह व अमरजीत सिंह ने बिना स्वीकृति दुकान का निर्माण शुरू कर दिया था। इस निर्माण को भी सील कर दिया गया है। सीलिंग टीम में सहायक अभियंता अजय मलिक, राजेंद्र बहुगुणा आदि शामिल रहे।

यह भी पढ़ें:- उत्तराखंड: फिर अटके दाखिल खारिज, शासन खपा चुका चार माह, कैसे अपडेट होंगी खतौनी; किसी को फिक्र नहीं

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.