36 रुपये ज्यादा कटे तो शख्स ने कर दी ये गलती, लग गई 80 हजार की चपत; कहीं आप भी न हो जाओ शिकार

एक व्यक्ति के खाते से 36 रुपये अधिक कट गए। इस पर उसने गूगल से सर्च कर पेटीएम के टोल फ्री नंबर पर संपर्क किया जहां साइबर ठग ने व्यक्ति को 80 हजार की चपत लगा दी। मामले में पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

Raksha PanthriSat, 04 Dec 2021 11:11 AM (IST)
36 रुपये ज्यादा कटे तो शख्स ने कर दी ये गलती।

जागरण संवाददाता, देहरादून। ट्रेन का टिकट बुक करवाते हुए एक व्यक्ति के खाते से 36 रुपये अधिक कट गए। इस पर उसने गूगल से सर्च कर पेटीएम के टोल फ्री नंबर पर संपर्क किया, जहां साइबर ठग ने व्यक्ति को 80 हजार की चपत लगा दी। मामले में पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

पीड़ित टर्नर रोड निवासी अनिल कुमार ने क्लेमेनटाउन थाना में शिकायत दर्ज करवाते हुए कहा कि उन्होंने बीते 23 नवंबर को आइआरसीटीसी की वेबसाइट से ट्रेन का टिकट बुक करवाया था। टिकट बुक करवाने पर उनके खाते से 3365 की जगह 3401 रुपये कट गए। इस पर उन्होंने आइआरसीटीसी के टोल फ्री नंबर पर फोन किया। उन्हें बताया गया कि रुपये पेटीएम से निकले हैं, इसलिए वहीं संपर्क करें। इसके बाद उन्होंने गूगल से पेटीएम का टोल फ्री नंबर ढूंढा और फोन किया। इस पर अज्ञात व्यक्ति ने उन्हें एनी डेस्क रिमोर्ट एप डाउनलोड करवाया, जिस पर एक पिन नंबर जनरेट हुआ। ठग ने पिन नंबर पता करते हुए कार्ड संबंधी जानकारी ली और खाते से 80 हजार रुपये उड़ा दिए।

फूल व्यवसायी से ठगे 50 हजार

साइबर ठगी के एक अन्य मामले में चुक्खूवाला मोहल्ला निवासी सुरेश कुमार ने बताया कि वह फूलों का बिजनेस करते हैं। नवंबर माह में उन्हें वाट्सएप पर एक व्यक्ति का फोन आया कि वह बेंगलुरु से बोल रहा है और वह फूलों की सप्लाई करता है। उसने फूलों के सस्ते के रेट भी बताए।

झांसे में आकर सुरेश ने 21 नवंबर को फूलों का आर्डर कर दिया और एडवांस में 50 हजार रुपये भी दे दिए। रुपये मिलने के बाद शातिर ने अपना फोन बंद कर दिया। शहर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें- यू-ट्यूबर रेबल सदानंद पती पर महिला को जबरने कार में बिठाने और अश्लील हरकत के गंभीर आरोप, मुकदमा

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.