उत्‍तराखंड : दीपावली पर राज्य के कार्मिकों को डीए और बोनस का तोहफा

राज्य के करीब ढाई लाख कार्मिकों को दीपावली के मौके पर पुष्कर सिंह धामी सरकार तोहफा देने जा रही है। उनके महंगाई भत्ते (डीए) में तीन फीसद की वृद्धि की जाएगी। इसके साथ ही उनका डीए 28 फीसद से बढ़कर 31 फीसद हो जाएगा।

Sunil NegiPublish:Thu, 28 Oct 2021 07:48 AM (IST) Updated:Thu, 28 Oct 2021 07:48 AM (IST)
उत्‍तराखंड : दीपावली पर राज्य के कार्मिकों को डीए और बोनस का तोहफा
उत्‍तराखंड : दीपावली पर राज्य के कार्मिकों को डीए और बोनस का तोहफा

राज्य ब्यूरो, देहरादून। राज्य के करीब ढाई लाख कार्मिकों को दीपावली के मौके पर पुष्कर सिंह धामी सरकार तोहफा देने जा रही है। उनके महंगाई भत्ते (डीए) में तीन फीसद की वृद्धि की जाएगी। इसके साथ ही उनका डीए 28 फीसद से बढ़कर 31 फीसद हो जाएगा। साथ ही कर्मचारियों को इसी माह बोनस भी मिलेगा। इन दोनों प्रस्तावों को गुरुवार को राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में रखा जाएगा।

धामी सरकार राज्य के कार्मिकों पर मेहरबान है। उन्हें दीपावली के मौके पर दोहरी खुशी मिलने जा रही है। केंद्र सरकार कुछ दिन पहले अपने कार्मिकों के लिए डीए में तीन फीसद की वृद्धि कर चुकी है। केंद्र की तर्ज पर राज्य सरकार भी दीपावली पर्व के मौके पर कर्मचारियों को तीन फीसद बढ़े डीए की सौगात देने जा रही है। बीते माह सितंबर में सरकार ने राज्य के सरकारी, अद्र्ध सरकारी व कार्यप्रभारित कार्मिकों और पेंशनर के डीए में 11 फीसद की वृद्धि की थी। इसके बाद कर्मचारियों का डीए बढ़कर 28 फीसद हो गया था। अब डीए में तीन फीसद का इजाफा और होने जा रहा है। बढ़ा हुआ डीए जुलाई माह से दिया जाएगा।

मंत्रिमंडल की बैठक में राज्य कर्मचारियों को बोनस देने पर भी मुहर लगना तय है। राज्य कर्मचारियों के साथ ही तकरीबन 40 हजार कर्मचारी सार्वजनिक निगमों, उपक्रमों, स्थानीय निकायों के 4800 ग्रेड वेतन तक के कर्मचारियों को बतौर बोनस करीब 6908 रुपये मिलेंगे। वहीं दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को 1184 रुपये बोनस दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें:- उत्‍तराखंड : अभी भी जारी हो सकेगा कोरोना से मृत्यु का प्रमाण पत्र, यहां करना होगा आवेदन

विधानसभा अध्यक्ष से मिले प्रशिक्षु आइएएस

विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल से विधानसभा स्थित कार्यालय में दो प्रशिक्षु आइएएस दीपक सैनी व देवेश शासनी ने शिष्टाचार मुलाकात की। इस मौके पर अग्रवाल ने प्रशिक्षु अधिकारियों से कहा कि भविष्य में उत्तराखंड की जनता के समग्र कल्याण के लिए उनकी भूमिका महत्वपूर्ण होने जा रही है। उन्होंने जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों के बीच मधुर संबंधों पर भी जोर दिया। प्रशिक्षु आइएएस ने विधानसभा के प्रभारी सचिव मुकेश सिंघल से भी मुलाकात की।