Cyber Crime In Dehradun: साइबर ठगों का मायाजाल, लोगों को बना रहे कंगाल; ठगे दो लाख 68 हजार रुपये

Cyber Crime In Dehradun राजधानी देहरादून में साइबर क्राइम के मामले बढ़ते जा रहे हैं। दो व्यक्तियों के खाते से दो लाख 68 हजार रुपये उड़ा लिए। वसंत विहार व प्रेमनगर थाना पुलिस ने दोनों मामलों में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Raksha PanthriPublish:Mon, 06 Dec 2021 11:48 AM (IST) Updated:Mon, 06 Dec 2021 11:48 AM (IST)
Cyber Crime In Dehradun: साइबर ठगों का मायाजाल, लोगों को बना रहे कंगाल; ठगे दो लाख 68 हजार रुपये
Cyber Crime In Dehradun: साइबर ठगों का मायाजाल, लोगों को बना रहे कंगाल; ठगे दो लाख 68 हजार रुपये

जागरण संवाददाता, देहरादून। Cyber Crime in Dehradun राजधानी देहरादून में साइबर क्राइम के मामले बढ़ते जा रहे हैं। दो व्यक्तियों के खाते से दो लाख 68 हजार रुपये उड़ा लिए। वसंत विहार व प्रेमनगर थाना पुलिस ने दोनों मामलों में मुकदमा दर्ज कर लिया है। पहले मामले में धर्म सिंह नेगी निवासी केशरबाग बाबूगढ़ विकासनगर ने बताया कि 30 नवंबर को वह अपनी पत्नी के साथ देहरादून से विकासनगर जा रहे थे।

प्रेमनगर के निकट उन्होंने एटीएम से नकदी निकालने की कोशिश की, लेकिन पैसे नहीं निकले। इस दौरान वहां खड़े दो युवकों ने एटीएम निकालकर दोबारा लगाया और पिन नंबर डालने को कहा। इसके बाद भी नकदी नहीं निकली। धर्म सिंह ने अन्य दो जगह भी एटीएम से नकदी निकालने की कोशिश की, लेकिन तब भी रुपये नहीं निकले। घर पहुंचने पर देखा तो उनके मोबाइल पर रुपये निकालने संबंधी मैसेज आए थे।

बैंक जाकर जब उन्होंने स्टेटमेंट निकलवाई तो पता चला कि अज्ञात व्यक्ति ने एटीएम से उनके खाते से 25 हजार रुपये निकाले और 25 हजार दूसरे खाते में ट्रांसफर किए हैं। जबकि 58500 रुपये के गहने खरीदे गए हैं। इस मामले में प्रेमनगर थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

वहीं, दूसरे मामले में मोहन लाल निवासी विजय पार्क एक्सटेंशन ने बताया कि उन्होंने स्नेपडील से सामान आर्डर किया था। सात नवंबर को सामान डिलीवरी करने वाले का फोन आया कि घर पर कोई नहीं है। मोहन लाल ने डिलीवरी ब्वाय से कहा कि वह बाहर हैं, इसलिए सामान गेट के अंदर डाल दो। डिलीवरी ब्वाय ने डिलीवरी कोड मांगा और कहा कि वह सामान गेट के अंदर डाल रहा है।

थोड़ी ही देर में सामान डिलीवरी होने का मैसेज आ गया, लेकिन सामान उनके घर पर नहीं दिया गया। मोहन लाल ने गूगल पर स्नेपडील के डिलीवरी सेंटर का नंबर लिया और फोन किया। व्यक्ति ने उन्हें एक लिंक भेजा और उसमें बैंक डिटेल भरने को कहा। लिंक को क्लिक करने के बाद उनके खाते से एक लाख 60 हजार रुपये उड़ गए। वसंत विहार थाना के एसओ नरेश राठौड़ ने बताया कि अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें- Dehradun Crime News: साइबर ठगों ने चार लोगों को ठगा, साढ़े आठ लाख रुपये उड़ाए