पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का अनिल बलूनी पर पलटवार, भाजपा अपना घर संभाले

पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस चुनाव अभियान समिति अध्यक्ष हरीश रावत ने भाजपा नेता अनिल बलूनी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा को अपना घर संभाल कर रखना चाहिए। उन्‍होंने कहा उज्याड़ू बल्द से अनिल बलूनी घबरा गए हैं।

Sunil NegiSat, 25 Sep 2021 08:52 AM (IST)
पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस चुनाव अभियान समिति अध्यक्ष हरीश रावत। फाइल फोटो

राज्य ब्यूरो, देहरादून। पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस चुनाव अभियान समिति अध्यक्ष हरीश रावत ने भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी के भाजपा में हाउसफुल होने संबंधी बयान पर चुटकी ली। उन्होंने कहा कि भाजपा को अपना घर संभाल कर रखना चाहिए।

एक बयान में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि उज्याड़ू बल्द (खेत में फसल चट करने वाले बैल) से अनिल बलूनी घबरा गए हैं। वह दलबदल कराने में पारंगत हो गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने भाजपा के दलबदल के पाप को देखा है। सर्वोच्च न्यायालय ने भी इसे पाप माना था। भाजपा भले ही नोटों और ईडी के दम पर राजनीति कर रही हो, लेकिन उसके मंसूबे अब पूरे होने वाले नहीं हैं। भाजपा का कार्यकर्त्‍ता ही इस खेल का जमकर विरोध कर रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बलूनी की दलबदल वाली छवि पर उन्हें अफसोस है।

भाजपा में शामिल अब कांग्रेस में आने को रगड़ रहे नाक: गोदियाल

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने भी राज्यसभा सदस्य व वरिष्ठ भाजपा नेता अनिल बलूनी के बयान पर पलटवार किया। उन्होंने कहा कि भाजपा में शामिल हुए लोग कांग्रेस में आने को नाक रगड़-रगड़ कर थक चुके हैं। उनकी नाक घायल हो गई है। गोदियाल ने कहा कि अनिल बलूनी बड़े बयान देने के लिए मशहूर हैं। उन्होंने बलूनी से पूछा कि कांग्रेस के कौन से नेता हैं, जिनके लिए भाजपा को हाउसफुल का बोर्ड लगाना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस जल्द इसका जवाब देगी। सिर्फ 15 दिन का समय में यह साफ हो जाएगा कि हाउसफुल का बोर्ड कहां लग रहा है और जगह कहां खाली हो रही है।

-------------------------

मीडिया सेंटर में पंखा गिरा, बाल-बाल बचे पत्रकार

सचिवालय स्थित मीडिया सेंटर में शुक्रवार दोपहर हादसा होने से टल गया। मीडिया सेंटर में बने विश्राम कक्ष में चलता पंखा गिर गया। वहां बैठे पत्रकार और सूचना विभाग के अधिकारी इसकी जद में आने से बाल-बाल बचे। दरअसल शुक्रवार दोपहर कैबिनेट बैठक की ब्रीफिंग के लिए पत्रकार सरकार के प्रवक्ता व कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल का इंतजार कर रहे थे। इस दौरान यह घटना घटी।

यह भी पढ़ें :- जानें- क्यों बलूनी बोले, हरदा का कहीं पर निगाहें कहीं पर निशाना, कांग्रेस नेताओं के भाजपा में शामिल होने पर दिया बड़ा बयान

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.