केदारनाथ धाम में पुनर्निर्माण के कार्यों का CM धामी ने ड्रोन के जरिए किया निरीक्षण, दिए ये निर्देश

Kedarnath Dham मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ड्रोन के माध्यम से केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। सीएम ने कहा कि केदारनाथ धाम पुनर्निर्माण प्रोजेक्ट पीएम मोदी का ड्रीम प्रोजक्ट है। उन्होंने अधिकारियों को कार्यों में और तेजी लाने के निर्देश दिए।

Raksha PanthriWed, 04 Aug 2021 11:07 AM (IST)
केदारनाथ धाम में पुनर्निर्माण के कार्यों का CM धामी ने ड्रोन के जरिए किया निरीक्षण।

राज्य ब्यूरो, देहरादून। Kedarnath Dham प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल केदारपुरी के पुनर्निर्माण कार्यों को लेकर धामी सरकार तेजी से कदम बढ़ा रही है। इस कड़ी में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को ड्रोन के माध्यम से केदारनाथ में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने कार्यों में तेजी लाने के मद्देनजर मानव संसाधन के साथ ही पर्याप्त उपकरणों की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

पिछले दो सप्ताह के दौरान मुख्यमंत्री का दो दिन केदारनाथ जाने का कार्यक्रम तय हुआ, लेकिन भारी बारिश के कारण वह पुनर्निर्माण कार्यों का निरीक्षण करने केदारनाथ जा नहीं पाए। बुधवार को उन्होंने ड्रोन के माध्यम से केदारनाथ पुनर्निर्माण प्रोजेक्ट का निरीक्षण करने के साथ ही कार्यों की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि केदारनाथ श्रद्धालुओं की आस्था का प्रमुख केंद्र है। मास्टर प्लान के तहत केदारपुरी को उसकी भव्यता के अनुरूप संवारा जा रहा है। प्रधानमंत्री के विजन के अनुरूप भव्य केदारपुरी के निर्माण के लिए सरकार कृतसंकल्प है और प्रोजेक्ट की लगातार मानिटरिंग की जा रही है।

मुख्यमंत्री धामी ने केदारनाथ में प्रथम चरण के कार्यों के तहत आदिगुरु शंकराचार्य के समाधि स्थल और मंदाकिनी नदी पर निर्माणाधीन कार्य को जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आगामी दो-तीन महीनों में केदारनाथ में कार्य करने के लिए उपयुक्त परिस्थितियां होंगी, इस दौरान तेजी से कार्य किए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि केदारनाथ में द्वितीय चरण के जो कार्य स्वीकृत हो चुके हैं, उनमें भी तेजी लाई जाए। सरस्वती नदी पर घाट एवं आस्था पथ के निर्माण के कार्य जल्द पूर्ण किए जाएं।

द्वितीय चरण में 116 करोड़ के काम

समीक्षा बैठक में प्रस्तुतीकरण के माध्यम से जानकारी दी गई कि केदारनाथ में प्रथम चरण के पुनर्निर्माण कार्य लगभग पूर्ण हो चुके हैं। द्वितीय चरण के लिए 116 करोड़ रुपये के कार्य स्वीकृत हो चुके हैं। इनमें संगम घाट का नवनिर्माण, आस्था पथ पर रेन शेल्टर, वाटर एटीएम, कमांड एंड कंट्रोल रूम, अस्पताल भवन समेत अन्य कार्य किए जा रहे हैं। बैठक में मुख्य सचिव डा एसएस संधू, अपर सचिव पर्यटन युगल किशोर पंत और वर्चुअल माध्यम से डीएम रुद्रप्रयाग मनुज गोयल मौजूद रहे।

प्रधानमंत्री स्वयं कर रहे मानीटरिंग

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ आपदा के समय से ही केदारपुरी के पुनॢनर्माण के लिए चिंतित हैं। वह स्वयं केदारनाथ जाकर और कई बार ड्रोन के माध्यम से पुनर्निर्माण कार्यों की समीक्षा कर चुके हैं। वर्ष 2013 में केदारनाथ आपदा के समय गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए उन्होंने तत्कालीन उत्तराखंड सरकार को केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण में सहयोग का प्रस्ताव दिया था। प्रधानमंत्री मोदी, केदारनाथ से आध्यात्मिक रूप से भी जुड़े हैं। ध्यान गुफा में बैठकर प्रधानमंत्री ने बाबा केदार के प्रति अपनी आस्था सार्वजनिक रूप से प्रकट की थी।

यह भी पढ़ें- केदारनाथ में रावल और पुजारियों के लिए बनेगा तीन मंजिला भवन, बोर्ड को आवंटित हुई 10 करोड़ की राशि

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.