मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा-भ्रष्टाचार न हो तो गुणवत्तापरक होते हैं कार्य

शुक्रवार को बद्रीपुर में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कई योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि भ्रष्टाचार न हो तो विकास कार्यों की गति और गुणवत्ता दोनों बरकरार रहती है। जीरो टॉलरेंस वाली भाजपा सरकार यह साबित भी कर रही है। पिछले चार वर्ष में प्रदेश में हुए विकास कार्य किसी से छिपे नहीं हैं।

Sunil NegiSat, 27 Feb 2021 08:05 AM (IST)

जागरण संवाददाता, देहरादून। भ्रष्टाचार न हो तो विकास कार्यों की गति और गुणवत्ता दोनों बरकरार रहती है। जीरो टॉलरेंस वाली भाजपा सरकार यह साबित भी कर रही है। पिछले चार वर्ष में प्रदेश में हुए विकास कार्य किसी से छिपे नहीं हैं। राज्य सरकार का एकमात्र लक्ष्य विकास को प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचाना है। यह बातें मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने डोईवाला विधानसभा क्षेत्र के लिए विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास करते हुए कही।

शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने बद्रीपुर में 508.75 लाख रुपये की लागत की योजनाओं का शिलान्यास और 416.06 लाख रुपये की लागत की योजनाओं का लोकार्पण किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन कार्यों का आज शिलान्यास हुआ है, उन्हें गुणवत्ता एवं समयबद्धता के साथ पूर्ण किया जाए। सरकार का प्रयास है कि जनता को पर्याप्त मात्र में पेयजल की आपूर्ति हो। उन्होंने कहा कि आगामी 18 मार्च को राज्य सरकार के चार वर्ष पूर्ण होने जा रहे हैं। इन चार वर्षो में कई क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य किए हैं। सड़क निर्माण के क्षेत्र में राज्य में काफी कार्य हुआ है। चिकित्सा के क्षेत्र में यहां के संस्थानों को कई जगह सम्मानित किया जा चुका है। इस अवसर पर महापौर सुनील उनियाला गामा और मुख्यमंत्री के विशेष कार्य अधिकारी धीरेंद्र पंवार भी उपस्थित रहे।

उल्लेखनीय कार्य करने वाले हुए सम्मानित

आदर्श औद्योगिक स्वायत्तता सहकारी समिति की ओर से लच्छीवाला में आयोजित ’भारतीय संस्कृति एवं उसका महत्व व बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कोरोना काल में उल्लेखनीय कार्य करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को आदर्श संस्था के माध्यम से सम्मानित किया। चमोली आपदा के मृतकों की आत्मशांति के समिति की ओर से आयोजित यज्ञ में भी मुख्यमंत्री शामिल हुए। संचालन संस्था के सचिव हरीश कोठारी ने किया। कार्यक्रम में महामंडलेश्वर स्वामी हरिचेतनानंद महाराज, स्वामी शंकर तिलक महाराज, समिति की अध्यक्ष आशा कोठारी, दायित्वधारी करण बोहरा आदि उपस्थित थे।

इन योजनाओं का हुआ लोकार्पण

हरिपुर नवादा वैभव विहार में नाले पर 9.21 लाख से पुलिया व सीसी मार्ग निर्माण, बद्रीपुर तिलवाड़ी में 12 लाख से आंबेडकर भवन का निर्माण, 105.22 लाख से हरिपुर नवादा पेयजल योजना का सुदृढ़ीकरण, 96.34 लाख से हरिपुर नवादा ग्राम सभा में क्षतिग्रस्त पाइप लाइनों को बदलने का कार्य (भाग 1), 97.17 लाख से बद्रीपुर पेयजल योजना (भाग 2) का सुदृढ़ीकरण , 96.12 लाख से बद्रीपुर पेयजल योजना (भाग 3) का सुदृढ़ीकरण।

इन योजनाओं का हुआ शिलान्यास

151.13 लाख से बद्रीपुर पेयजल योजना (भाग 3) का सुदृढ़ीकरण, बद्रीपुर के समीप 160.27 लाख से 1000 किलोलीटर क्षमता के ओवरहेड टैंक का निर्माण, वैभव विहार नवादा में 99.75 लाख से 600 किलोलीटर क्षमता के ओवरहेड टैंक का निर्माण, 97.60 लाख से हरिपुर नवादा ग्राम सभा में क्षतिग्रस्त पाइप लाइनों को बदलने का कार्य।

यह भी पढ़ें- मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र ने 17 भाजपा नेताओं को दायित्व से नवाजा, सभी को दिया है राज्‍य मंत्री स्‍तर का दर्जा

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.