मुख्य सचिव डा एसएस संधु कहा- सुरक्षित और सुव्यवस्थित ढंग से होगा चारधाम यात्रा का संचालन

गुरुवार को सचिवालय में मुख्य सचिव डा एसएस संधु ने चार धाम यात्रा से जुड़े विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ चर्चा की। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि चार धाम यात्रा का संचालन सुरक्षित और सुव्यवस्थित ढंग से होगा।

Sunil NegiFri, 17 Sep 2021 04:05 PM (IST)
मुख्य सचिव डा एसएस संधु कहा- सुरक्षित और सुव्यवस्थित ढंग से होगा चारधाम यात्रा का संचालन।

राज्य ब्यूरो, देहरादून। चारधाम यात्रा शुरू करने के लिए अदालत से हरी झंडी मिलने के बाद शासन सक्रिय हो गया है। इस कड़ी में मुख्य सचिव डा एसएस संधु ने गुरुवार को सचिवालय में चारधाम यात्रा से जुड़े विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ मंत्रणा की। साथ ही यात्रा के सुरक्षित, सुव्यवस्थित व कुशल संचालन के मद्देनजर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने यात्रा मार्गों व पैदल मार्गों को दुरुस्त करने के साथ ही जरूरी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद करने पर जोर दिया। मुख्य सचिव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक से जुड़े चमोली, रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी व पौड़ी के जिलाधिकारियों को भी यात्रा के संबंध में दिशा-निर्देश दिए।

मुख्य सचिव ने जिलाधिकारियों से कहा कि वे चारधाम यात्रा मार्गों पर सड़क सुरक्षा, साफ-सफाई, भीड़ प्रबंधन, यातायात व्यवस्था, कोरोना जांच के मद्देनजर टेस्टिंग व कोविड प्रोटोकाल के अनुपालन को तेजी से कदम उठाएं। उन्होंने कहा कि यात्रा मार्गों के जिन संवेदनशील क्षेत्रों में जहां-जहां भी सड़क सुधारीकरण के कार्य होने हैं, उन्हें लोनिवि, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण और सड़क सीमा संगठन से युद्धस्तर पर तत्काल पूरा कराया जाए। इसके अलावा पैदल मार्ग भी साफ-सुथरे व सुरक्षित होने चाहिए। साथ ही वहां पानी, शौचालय समेत अन्य सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि वे व्यवस्था में सुधार के लिए स्थलीय निरीक्षण भी करें।

उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को यात्रा मार्गों पर आवश्यकतानुसार डाक्टरों व एंबुलेंस की व्यवस्था करने, पुलिस को सुरक्षा, यातायात व भीड़ प्रबंधन के मद्देनजर प्रभावी कदम उठाने, ऊर्जा निगम को चारधाम में निर्बाध विद्युत आपूर्ति बनाए रखने, जल संस्थान व पेयजल निगम को पेयजल की व्यवस्था सुचारू करने के निर्देश दिए। बैठक में सचिव अमित नेगी, दिलीप जावलकर, अरविंद ह्यांकी, एसए मुरूगेशन, रंजीत सिन्हा, मंडलायुक्त रविनाथ रमन, प्रभारी सचिव वीके सुमन, अपर सचिव वाईके पंत, डीआइजी नीरू गर्ग आदि मौजूद थे।

अन्य राज्यों से आने वालों का पंजीकरण

मुख्य सचिव ने अन्य राज्यों से आने वाले यात्रियों व पर्यटकों के पंजीकरण की व्यवस्था सुदृढ़ करने को कहा। साथ ही व्यवसायिक वाहनों को ग्रीन कार्ड जारी करने जैसे कार्य व्यवस्थित ढंग से पूर्ण करने के निर्देश भी दिए।

यात्रा मार्गों पर अनाउंसमेंट

चारधाम यात्रा मार्गों पर श्रद्धालुओं को कोरोना जांच, एसओपी का अनुपालन, अच्छे श्रद्धालु का व्यवहार, आपात स्थिति में कंट्रोल रूम से संपर्क, सुरक्षित शारीरिक दूरी से संबंधित सूचनाएं अनाउंसमेंट के माध्यम से मिलेंगी। मुख्य सचिव ने जिलाधिकारियों को इसकी व्यवस्था करने को कहा।

ये भी दिए निर्देश

यात्रा मार्गों पर जरूरत के अनुसार हो डाक्टरों की तैनाती। आपात स्थिति में तत्काल मिले स्वास्थ्य सुविधा। वाहनों की फिटनेस की व्यवस्था दुरुस्त की जाए। यात्रियों के आनलाइन पंजीकरण की हो व्यवस्था। वाट्सएप और मैसेज के माध्यम से भी दी जाएं जरूरी सूचनाएं। यात्रा मार्गों के होटलों, ढाबों में चस्पा हो खान-पान की रेट लिस्ट। महत्वपूर्ण सूचनाएं देेने के लिए मुख्य स्थलों, चौराहों व दुकानों में लगाए जाएं बोर्ड।

कसरत में जुटा देवस्थानम बोर्ड

चारधाम यात्रा के लिए देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड भी चारों धामों के लिए एसओपी को नए सिरे से अंतिम रूप देने की कसरत में जुट गया है। देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के सीईओ रविनाथ रमन ने कहा कि चारों धामों में कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए निरंतर पूजा चल रही है। उच्च न्यायालय के फैसले के मद्देनजर चारों धामों के लिए मानक प्रचालन कार्यविधि (एसओपी) तैयार की जा रही है। इसके तहत कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए यात्री चारधाम में दर्शन के लिए पहुंचेंगे। पंजीकरण प्रक्रिया को जारी रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि देवस्थानों में आवास, खान-पान, स्वास्थ्य, स्वच्छ पेयजल, स्वच्छता पर खास फोकस रहेगा। उधर, बोर्ड के मीडिया प्रभारी डा हरीश गौड़ ने बताया कि यात्रा के संबंध में बोर्ड के एसीईओ बीडी सिंह ने बदरीनाथ धाम में तैयारियों का जायजा लिया।

यह भी पढ़ें:- Chardham Yatra 2021: उत्‍तराखंड में कल से शुरू होगी चारधाम यात्रा, आज जारी हो सकती है इसकी SOP

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.