ट्रेंचिग ग्राउंड के लिए केंद्र से मिली स्वीकृति

नगर निगम ऋषिकेश सहित आसपास क्षेत्र के चार अन्य नगर निकायों के कूड़ा निस्तारण की समस्या का जल्द हल निकल जाएगा। शासन स्तर पर पांच निकाय का क्लस्टर बनाकर ऋषिकेश रेंज के तहत लाल पानी में 10 हेक्टेयर भूमि चिह्नित की गई थी।

JagranWed, 01 Dec 2021 03:00 AM (IST)
ट्रेंचिग ग्राउंड के लिए केंद्र से मिली स्वीकृति

जागरण संवाददाता, ऋषिकेश :

नगर निगम ऋषिकेश सहित आसपास क्षेत्र के चार अन्य नगर निकायों के कूड़ा निस्तारण की समस्या का जल्द हल निकल जाएगा। शासन स्तर पर पांच निकाय का क्लस्टर बनाकर ऋषिकेश रेंज के तहत लाल पानी में 10 हेक्टेयर भूमि चिह्नित की गई थी। इस भूमि पर ऋषिकेश सहित चार अन्य निकाय के कूड़े का निस्तारण किया जाएगा। केंद्रीय पर्यावरण व वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय में उप महानिरीक्षक ने उत्तराखंड के अपर मुख्य सचिव वन को इस संबंध में स्वीकृति पत्र जारी कर दिया है।

नगर आयुक्त ऋषिकेश गिरीश चंद्र गुणवंत ने बताया कि पर्यावरण व वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के उप महानिरीक्षक टीसी नौटियाल की ओर से मंगलवार को उत्तराखंड शासन के लिए ट्रेंचिग ग्राउंड के लिए स्वीकृति पत्र जारी कर दिया गया है। ठोस अपशिष्ट प्रबंधन निस्तारण एवं प्रोसेसिग प्लांट के लिए 10 हेक्टेयर भूमि की मंजूरी जारी की गई है। गैर वानिकी कार्यों के लिए केंद्र सरकार की ओर से यह विधिवत स्वीकृति प्रदान की गई है।

उन्होंने बताया कि अमित ग्राम के समीप लाल पानी बीट में ट्रेंचिग ग्राउंड के लिए 10 हेक्टेयर भूमि चिह्नित कर राज्य सरकार ने कूड़ा निस्तारण के लिए पांच निकायों का क्लस्टर शासन की ओर से बनाया गया था। जिसमें नगर निगम ऋषिकेश, नगर पालिका परिषद मुनिकीरेती, नगर पंचायत जौंक, नगर पालिका परिषद नरेंद्र नगर और नगर पालिका परिषद डोईवाला शामिल है। नगर आयुक्त ने बताया कि हमारा प्रयास होगा कि इस कार्य के लिए जल्द से जल्द टेंडर आमंत्रित कर कार्य को आगे बढ़ाया जाए।

----------------------

नगर निगम की तीसरी वर्षगांठ पर केंद्र ने दिया तोहफा

तीन वर्ष पूर्व नगर पालिका को अपग्रेड कर ऋषिकेश को नगर निगम बनाया गया था। दो दिसंबर 2018 को नगर निगम की महापौर अनीता ममगाई सहित 40 पार्षदों ने शपथ ग्रहण की थी। शपथ ग्रहण के दौरान महापौर ने गंदगी से मुक्ति के लिए ट्रेंचिंग ग्राउंड को अपनी प्राथमिकता बताया था। उन्होंने अपने चुनावी घोषणा पत्र में प्रमुख बिदुओं में इस विषय को भी शामिल किया था। नगर निगम के स्तर पर इस दिशा में निरंतर प्रयास जारी थे। अब तक हीरालाल मार्ग स्थित विशाल भूखंड पर पूरी आबादी का कूड़ा एकत्र किया जाता है। हालांकि यहां आधुनिक मशीनें लगाकर जैविक और अजैविक कूड़े को अलग किया जाने का काम तेजी से चल रहा है। लेकिन यहां कूड़े के पहाड़ से जल्द निजात मिलना आसान नहीं है। नगर निगम गठन के तीन वर्ष पूर्ण होने से पूर्व केंद्र सरकार ने नगर निगम की कूड़ा निस्तारण संबंधी महत्वकांक्षी योजना के लिए भूमि की स्वीकृति पत्र जारी करके तोहफा देने का काम किया है।

-------------------

स्वच्छता सर्वेक्षण में नगर निगम ऋषिकेश को अपनी श्रेणी में पूरे देश में 53 वां स्थान मिला। उत्तराखंड में प्रथम स्थान हमने पाया है। नगर को कूड़े के पहाड़ से मुक्ति और आधुनिक सुविधा युक्त ट्रेंचिग ग्राउंड का निर्माण हमारा वायदा ही नहीं बल्कि संकल्प भी था। अब यह संकल्प जल्दी ही धरातल पर नजर आएगा। केंद्र सरकार से मंजूरी के बाद अति शीघ्र ट्रेंचिग ग्राउंड की निर्माण प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

- अनीता ममगाईं, महापौर नगर निगम ऋषिकेश।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.