Anganwadi workers: आंगनबाड़ी कार्यकर्त्‍ताओं ने दी बेमियादी हड़ताल की चेतावनी, जानिए क्‍या है मांग

Anganwadi workers आंगनबाड़ी कार्यकर्त्री सेविका मिनी कर्मचारी संगठन की आनलाइन बैठक हुई। इसमें आंगनबाड़ी कार्यकत्र्ताओं ने सरकार पर उन्हें गुमराह करने का आरोप लगाया। संगठन की प्रदेश अध्यक्ष रेखा नेगी ने कहा कि बीती 16 अगस्त को जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को ज्ञापन भेजा गया था।

Sumit KumarSun, 26 Sep 2021 02:10 PM (IST)
विभिन्न मांगों पर कार्रवाई नहीं होने से नाराज आंगनबाड़ी कार्यकर्त्‍ताओं ने अब बेमियादी हड़ताल की चेतावनी दी है।

जागरण संवाददाता, देहरादून: Anganwadi workers समान मानदेय बढ़ोतरी, सरकारी कर्मचारी घोषित करने समेत विभिन्न मांगों पर कार्रवाई नहीं होने से नाराज आंगनबाड़ी कार्यकर्त्‍ताओं ने अब बेमियादी हड़ताल की चेतावनी दी है। कार्यकर्त्‍ताओं ने कहा कि मुख्यमंत्री और विभागीय मंत्री से आश्वासन मिलने के बाद भी इस दिशा में अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

शनिवार को आंगनबाड़ी कार्यकर्त्री, सेविका, मिनी कर्मचारी संगठन की आनलाइन बैठक हुई। इसमें आंगनबाड़ी कार्यकत्र्ताओं ने सरकार पर उन्हें गुमराह करने का आरोप लगाया। संगठन की प्रदेश अध्यक्ष रेखा नेगी ने कहा कि बीती 16 अगस्त को जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को ज्ञापन भेजा गया था। इसके बाद सात सितंबर को मुख्यमंत्री आवास कूच करने के बाद हुई वार्ता में मुख्यमंत्री ने मानदेय बढ़ाने का आश्वासन दिया। 17 सितंबर को विभागीय मंत्री रेखा आर्य ने भी आंगनबाड़ी कार्यकर्त्‍ताओं को मानदेय बढ़ोतरी का विश्वास दिलाया। इसके चलते कार्यकत्र्ताओं ने कार्य बहिष्कार कार्यक्रम निरस्त कर दिया था। बावजूद इसके उनकी मांगों पर अब तक कोई सकारात्मक फैसला नहीं लिया गया है। इससे कार्यकत्र्ता खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं। यही वजह है कि कार्यकर्त्‍ताओं ने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है। इसकी तिथि शीघ्र ही तय की जाएगी।

यह भी पढ़ें- Smart City Project: डीएम राजेश कुमार ने दिए निर्देश, स्मार्ट सिटी के कार्यों से हो रही परेशानी करें दूर

जबरदस्ती दुकानें बंद करवाई तो होगी कार्रवाई

किसानों की ओर से 27 सितंबर को प्रस्तावित भारत बंद को देखते हुए पुलिस भी अलर्ट हो गई है। डीजीपी ने कानून एवं व्यवस्था का उल्लंघन करने वालों से सख्ती से निबटने का निर्देश अधीनस्थों को दिया है। शनिवार को पुलिस मुख्यालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए डीजीपी ने कहा कि प्रस्तावित भारत बंद को देखते हुए सभी जिला प्रभारी सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद रखें। यदि कोई जबरदस्ती दुकानें बंद कराता है और हिंसा करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई करें।

जिला प्रभारी जिलाधिकारी के साथ समन्वय स्थापित कर जोन एवं सेक्टर में पुलिस अधिकारियों के साथ संबंधित मजिस्ट्रेट की नियुक्ति सुनिश्चित करें। स्थानीय अभिसूचना तंत्र को सतर्क रखते हुए सूचना एकत्र करें और अफवाह को किसी भी दशा में फैलने न दिया जाए। इंटरनेट मीडिया पर निरंतर निगरानी रखें और यदि कोई भ्रामक सूचना फैलाता है तो उसके खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जाए। बैठक में पुलिस महानिरीक्षक अपराध एवं कानून व्यवस्था वी. मुरुगेशन, पुलिस महानिरीक्षक अभिसूचना एवं सुरक्षा संजय गुंज्याल, पुलिस अधीक्षक अपराध एवं कानून व्यवस्था श्वेता चौबे मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- युवा कांग्रेस ने किया प्रदर्शन, कहा- लोक कलाकारों को बढ़े मानदेय के साथ मिले सम्मान

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.