कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए शाम सात बजे के बाद सभी प्रतिष्ठान रहेंगे बंद, रात्रि व साप्ताहिक कर्फ्यू में इन्हें हैं छूट

बुधवार को देहरादून में नाइट कर्फ्यू के दौरान कुछ इस तरह दिखा दर्शनलाल चौक।

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लॉकडाउन लगाए बिना अधिकतर प्रतिबंध लागू कर दिए गए हैं। शासन के निर्देश के क्रम में जिलाधिकारी ने आदेश जारी करते हुए बाजार के समय व रात्रि कर्फ्यू के संशोधित आदेश जारी कर दिए गए हैं।

Sunil NegiThu, 22 Apr 2021 07:54 AM (IST)

जागरण संवाददाता, देहरादून। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लॉकडाउन लगाए बिना अधिकतर प्रतिबंध लागू कर दिए गए हैं। शासन के निर्देश के क्रम में जिलाधिकारी ने आदेश जारी करते हुए बाजार के समय व रात्रि कर्फ्यू के संशोधित आदेश जारी कर दिए गए हैं। नई व्यवस्था बुधवार से ही लागू कर दी गई है और अब बाजार सिर्फ दोपहर दो बजे तक खुल रहे हैं, जबकि रात्रि कर्फ्यू रात सात बजे से लागू हो चुका है।

जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव के आदेश के मुताबिक, सिर्फ आवश्यक सेवाओं को छोड़कर बाकी प्रतिष्ठान दोपहर दो बजे तक खुलेंगे। इसके बाद रात्रि कर्फ्यू तक फल-सब्जी, डेयरी व गैस आपूर्ति के प्रतिष्ठान शाम सात बजे तक खोले जा सकेंगे। हालांकि, पेट्रोल/डीजल पंप व दवा की दुकानों को रात्रि कर्फ्यू से छूट रहेगी। इनके वाहनों का भी पूरे समय संचालन किया जा सकेगा। इसके अलावा टिफिन सर्विस की होम डिलीवरी को भी रात्रि कर्फ्यू छूट दी गई है। आदेश में टिफिन सेवा का ही जिक्र है, लिहाजा कई रेस्तरां भी खुद को छूट के दायरे में मान रहे थे, मगर सात बजते ही पुलिस ने उन्हें बंद करा दिया।

साप्ताहिक कर्फ्यू का आदेश बरकरार

देहरादून नगर निगम समेत क्लेमेनटाउन व कैंट बोर्ड क्षेत्र में शनिवार व रविवार को पूरे समय साप्ताहिक कोविड कर्फ्यू का आदेश यथावत रखा गया है। इस दौरान उन्हीं प्रतिष्ठानों को छूट रहेगी, जिन्हें रात्रि कर्फ्यू में छूट दी गई है।

रात्रि व साप्ताहिक कर्फ्यू में इन्हें भी छूट

हवाई जहाज, ट्रेन, बस से बाहर से आने वाले यात्रियों को छूट रहेगी।  सार्वजनिक हित के निर्माण जारी रहेंगे, इनसे संबंधित श्रमिकों, ठेकेदार, कार्मिकों व वाहनों को भी छूट रहेगी। औद्योगिक प्रतिष्ठान खुले रहेंगे और इनके कार्मिक भी संबंधित रूट पर आवाजाही कर सकेंगे। ऐसे कार्मिकों को आइकार्ड साथ रखना होगा। मालवाहक वाहनों का आवागमन व माल की लोडिंग-अनलोडिंग प्रतिबंध से बाहर रहेगी। विवाह समारोह और संबंधित विवाह स्थल जैसे-वेडिंग प्वाइंट, होटल, सामुदायिक भवनों पर प्रतिबंध नहीं होगा और समारोह में शामिल होने वाले व्यक्तियों व वाहनों को भी छूट रहेगी।

यह प्रतिष्ठान बंद और इन पर 50 फीसद क्षमता लागू

सार्वजनिक वाहन (बस, बिक्रम, ऑटो भी) 50 फीसद यात्री क्षमता के साथ संचालित होंगे। सिनेमाघर व रेस्तरां 50 फीसद क्षमता के साथ संचालित होंगे। जिम/फिटनेस सेंटर, स्पा व स्वीमिंग पूल पूरी तरह बंद रहेंगे। अग्रिम आदेश तक सभी शिक्षण संस्थान बेसिक, जूनियर, इंटरमीडिएट, बोर्डिंग, डिग्री कॉलेज, पॉलीटेक्निक, आइटीआइ, कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। ऑनलाइन कक्षाएं संचालित की जा सकेंगी। सभी धार्मिक, राजनीतिक, सामाजिक व विवाह आयोजनों में व्यक्तियों की संख्या 100 से अधिक नहीं होगी।

बाहर से आने वालों को कराना होगा पंजीकरण

जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव के मुताबिक, जो व्यक्ति बाहर से दून आ रहे हैं, उन्हें स्मार्ट सिटी कंपनी के पोर्टल पर पंजीकरण कराना होगा। साथ ही कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट लानी होगी। जो भी व्यक्ति दून आएंगे, उन्हें एक सप्ताह सेल्फ क्वारंटाइन में रहना होगा। यदि इस बीच उनमें किसी तरह के लक्षण नजर आते हैं तो स्वास्थ्य विभाग को उसकी जानकारी देनी होगी।

यह भी पढ़ें-उत्‍तराखंड में अब रात्रि कर्फ्यू शाम सात बजे से, बाजार दोपहर दो बजे होंगे बंद; शासन ने जारी की संशोधित गाइडलाइन

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.