top menutop menutop menu

एडीएम बुदियाल ने टीम के साथ किया इंदिरा कॉलोनी में क्षतिग्रस्त पुश्ते का निरीक्षण

देहरादून, जेएनएन। राजधानी देहरादून स्थित चुक्खूवाला की इंदिरा कॉलोनी में जिस पुश्ते के मकान के ऊपर गिरने से गर्भवती महिला समेत चार लोगों की मौत हो गई थी, उसकी स्थिति का आकलन अब जांच टीम ने शुरू कर दिया है। गुरुवार को अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) बीर सिंह बुदियाल के नेतृत्व में राजस्व, लोनिवि और सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने पुश्ते की मजबूती का आकलन किया। प्रारंभिक आकलन में पुश्ते को कमजोर पाया गया है। इसके और हिस्से के ढहने की आशंका को देखते हुए पांच परिवारों ने दूसरी जगह अस्थायी ठिकाना भी तलाश लिया है।

अपर जिलाधिकारी (एडीएम) बीर सिंह बुदियाल ने बताया कि बुधवार रात दो बजे आसपास इस पुश्ते का 13 मीटर भाग ढह गया था। इसी भाग पर सर्वाधिक पानी भी भर रहा था। पुश्ते की नींव वाला भाग पतला है, जबकि ऊपरी भाग चौड़ा और अधिक भारी है। ऐसे में इस बात की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता कि 30 मीटर से अधिक लंबा यह पुश्ता कभी भी ढह सकता है। 

यहां रह रहे पांच परिवारों ने खतरे को देखते हुए फिलहाल दूसरा ठिकाना ढूंढ लिया है। जिस भूखंड के लिए पुश्ता लगाया गया है, वह निजी भूमि है। हालांकि, अभी भूमि के मालिक से संपर्क नहीं हो पा रहा है। यह भी जानकारी मिली है कि यहां पर की जा रही प्लॉटिंग वैध नहीं है।

यह भी पढ़ें: देहरादून में तेज बारिश से मकान के ऊपर गिरा पुश्ता, मलबे में दबने से गभर्वती समेत चार की मौत

वहीं, तकनीकी एजेंसी इस पर रिपोर्ट तैयारी करेगी और इसके बाद ही तय किया जाएगा कि पुश्ते की सुरक्षा की जा सकती है या फिर इसे पूरी तरह हटाने से ही समाधान हो सकेगा। निरीक्षण टीम में तहसीलदार दयाराम आदि शामिल रहे।

यह भी पढ़ें: मकान मालिक को हो गया था खतरे का अहसास, किरायेदारों को कहा था घर खाली करने को

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.