चम्पावत जिले के लोहाघाट में वाहनों से पानी ढो रहे लोग

लोहाघाट नगर में पेयजल संकट बढ़ता जा रहा है। लोग वाहनों के जरिये दूर दराज से पानी ढो रहे हैं।

JagranPublish:Mon, 29 Nov 2021 09:23 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 09:23 PM (IST)
चम्पावत जिले के लोहाघाट में वाहनों से पानी ढो रहे लोग
चम्पावत जिले के लोहाघाट में वाहनों से पानी ढो रहे लोग

संवाद सहयोगी, लोहाघाट : नगर में पेयजल संकट बढ़ता जा रहा है। लोग वाहनों के जरिये दूर दराज से पानी ढोकर प्यास बुझा रहे हैं। विभिन्न वार्डो में तीसरे या चौथे दिन पानी दिया जा रहा है। इस कारण प्राकृतिक जल स्रोतों में दबाव बढ़ गया है। सुबह से ही प्राकृतिक जल स्रोतों पर लोगों की भीड़ उमड़ रही है।

सबसे अधिक भीड़ अक्कल धारे में लग रही है। वहां घंटों के इंतजार के बाद भी लोगों को पानी नहीं मिल रहा है। ठाडाढुंगा वार्ड निवासी मेघा शाह ने बताया कि पेयजल लाइन में कभी दूसरे दिन तो कभी तीसरे दिन महज आधे घंटे ही पानी आ रहा है। मनोज कुमार ने बताया कि नगर के लोग ग्रामीण क्षेत्रों से पानी लाकर किसी तरह दिनचर्या चला रहे हैं। बजरंग बली वार्ड के सभासद राजकिशोर शाह ने बताया कि जल संस्थान की लापरवाही से गर्मी के साथ अब सर्दी के दिनों में भी नगर में पेयजल संकट होना आम बात हो गई है। उन्होंने कहा कि विभाग पानी की सप्लाई नहीं कर रहा है, लेकिन बिल पूरे थमा रहा है। बताया कि सबसे अधिक दिक्कत ऋषेश्वर वार्ड के लोगों को झेलनी पड़ रही है। हालात ये हैं कि शादी के लिए लोग वाहनों को बुक कराकर पानी मंगवा रहे हैं। नगर वासियों ने शीघ्र पेयजल समस्या का स्थायी समाधान किए जाने की मांग की है।

----

-वर्जन-

नगर के लिए पानी की सप्लाई करने वाले स्रोतों का स्तर लगातार कम हो रहा है। विभाग हर तीसरे दिन पानी की आपूर्ति कर रहा है। पेयजल लाइनों में हवा भरने से कई जगह पानी नहीं आ रहा है। इस समस्या का भी समाधान किया जा रहा है।

-पवन बिष्ट, अपर सहायक अभियंता, जल संस्थान, लोहाघाट