चौमेल बाजार में खाली सिलिंडरों संग गरजे उपभोक्ता

विकास खंड बाराकोट के चौमेल में दो माह से रसोई गैस की आपूर्ति न होने से गुस्साए लोगों ने प्रदर्शन किया।

JagranSun, 05 Dec 2021 10:18 PM (IST)
चौमेल बाजार में खाली सिलिंडरों संग गरजे उपभोक्ता

संवाद सहयोगी, लोहाघाट : विकास खंड बाराकोट के चौमेल में दो माह से रसोई गैस की आपूर्ति न होने से गुस्साए लोगों ने प्रदर्शन किया। चौमेल बाजार में महिलाएं भी खाली सिलिंडरों के साथ पहुंचीं और उन्होंने गैस गोदाम प्रबंधन व सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने शीघ्र रसोई गैस की आपूर्ति न किए जाने पर लोहाघाट गैस गोदाम में तालाबंदी करने की चेतावनी दी।

रविवार को चामी गांव के ग्राम प्रधान प्रकाश महर के नेतृत्व में महिलाओं और ग्रामीणों ने गैस एजेंसी के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की। उन्होंने कहा कि पिछले दो माह से गैस एजेंसी ने क्षेत्र में अपना वाहन नहीं भेजा है। गैस खत्म होने से महिलाएं लकड़ियों पर खाना बना रही हैं। कहा कि एक ओर सरकार उज्ज्वला योजना के तहत ग्रामीणों को रसोई गैस का उपयोग करने के लिए कह रही है वहीं गैस एजेंसी में रसोई गैस की आपूर्ति तक नहीं कर पा रही है। महिलाएं सुबह से जंगलों में जाकर सूखी लकड़ी एकत्रित कर रही हैं। चूल्हे में खाना बनाने के कारण धुएं से परेशान हैं। समस्या का समाधान नहीं किया गया तो वह लोहाघाट आकर गैस एजेंसी में तालाबंदी कर देंगे। प्रदर्शन में भावना देवी, यशोदा देवी, गुड्डी देवी, ममता देवी, कुलदीप, विक्रम सिंह, योगेश, नवीन पाठक मौजूद रहे। इधर गैस गोदाम प्रबंधक गोविद आर्या ने बताया कि चौमेल क्षेत्र में इसी सप्ताह रसोई गैस का वाहन भेजा जाएगा। ======== 147वें दिन भी आंदोलन पर डटे रहे बेलपट्टी के ग्रामीण

गंगोलीहाट: मड़कनाली-सुरखाल पाठक सड़क आंदोलन 147वें दिन भी जारी रहा। लंबे संघर्ष के बाद प्रशासन स्तर पर लोनिवि से सड़क निर्माण को लेकर अब तक हुई कार्रवाई का विवरण तलब करने पर आंदोलनकारियों में उम्मीद जगी है, मगर आंदोलनकारियों ने सड़क निर्माण कार्य शुरू होने के बाद ही आंदोलन वापस लेने का एलान किया है।

रविवार को महेश सिंह व जगत सिंह भंडारी क्रमिक अनशन पर बैठे। इस दौरान हुई गोष्ठी में ग्रामीणों ने पूर्व में निर्धारित दस दिसंबर से शुरू होने वाले आमरण अनशन को लेकर चर्चा की। ग्रामीणों ने कहा कि यदि इस बीच उनकी एक सूत्रीय मांग पूरी नहीं हुई तो वह आमरण अनशन शुरू कर देंगे। जिसकी जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी। इस मौके पर केदार सिंह बिष्ट, सागर सिंह, ठाकुर सिंह बिष्ट, पंकज भंडारी, किशन सिंह भंडारी, हरीश सिंह, कमल सिंह, लाल सिंह, गणेश सिंह, जगत सिंह, कल्याण राम, देव सिंह आदि मौजूद रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.