बारिश से मुश्किलें बरकरार, 500 से ज्यादा गांवों का संपर्क अब भी कटा

पहाड़ में बारिश से मुश्किलें बरकरार हैं। भूस्खलन के कारण 250 से ज्यादा ग्रामीण मोटर मार्ग बंद हैं जबकि 500 से ज्यादा गांव का संपर्क मुख्य मार्ग से कटा पड़ा है।

JagranSun, 20 Jun 2021 10:30 PM (IST)
बारिश से मुश्किलें बरकरार, 500 से ज्यादा गांवों का संपर्क अब भी कटा

जागरण टीम, गढ़वाल: पहाड़ में बारिश से मुश्किलें बरकरार हैं। भूस्खलन के कारण 250 से ज्यादा ग्रामीण मोटर मार्ग बंद हैं, जबकि 500 से ज्यादा गांव का संपर्क मुख्य मार्ग से कटा पड़ा है। उधर, यमुनोत्री राजमार्ग जहां सात घंटे बाद खुल सका, वहीं ब्यासी के पास ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे आठ घंटे बाधित रहा। ग्रामीण मोटर मार्गो के बंद होने से ग्रामीणों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

गोपेश्वर: चमोली जिले में बीते चार दिनों से हो रही बारिश थमने का नाम नहीं ले रही है। बारिश से चमोली जिले में 87 संपर्क मोटर मार्ग बाधित चल रहे हैं। बारिश होने के कारण सुदूरवर्ती सड़कों की मरम्मत व मलबा हटाने का कार्य शुरू नहीं हो पा रहा है। हालांकि कई स्थानों पर बारिश के दौरान ही ग्रामीण खुद ही सड़कों से मलबा साफ कर आवाजाही सुचारू करने में जुटे हुए हैं। प्रशासन सड़कों को खोलने के लिए बारिश बंद होने का इंतजार कर रहा है। बारिश से ऋषिकेश बदरीनाथ, कर्णप्रयाग ग्वालदम व जोशीमठ मलारी हाईवे बंद हैं। कर्णप्रयाग ग्वालदम हाईवे नलगांव, पंती, थराली तिराहा, कर्णप्रयाग गैरसैंण हाईवे जंगलचटटी, ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे कंचनगंगा, रड़ांग बैंड, गोविदघाट, टैया पुल तथा जोशीमठ-मलारी हाईवे रैंणी में सड़क टूटने से अवरुद्ध है। रैंणी में वैकल्पिक मार्ग से पैदल आवाजाही कराई जा रही है।

सिमली प्रतिनिधि के अनुसार बारिश से पिडर व आटागाड़ नदियां उफान पर हैं। सिमली में पिडर नदी का जल स्तर बढ़ने से निर्माणाधीन मोटर पुल के गार्डर क्षतिग्रस्त होकर बह गए हैं। राहत की बात यह है कि पुल के ढांचे को किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचा है। यहां पर सुरक्षा दीवार, चैकडैमों को नुकसान हुआ है। नदी के किनारे बसे विद्यापीठ, न्यू डिम्मर, पीपलसेरा, सिमली बाजार, न्यू मार्केट, पेट्रोल पंप बस्ती के निवासी रात्रि को डर के मारे टटेश्वर मंदिर में शरण लेकर रतजगा कर रहे हैं।

रुद्रप्रयाग: जिले में रविवार को बारिश कम हुई, लेकिन क्षतिग्रस्त मोटर मार्गो की संख्या 37 से बढ़कर 40 हो गई। मोटर मार्ग को खोलने का प्रयास तो किया गया, लेकिन बारिश होने से आवाजाही के लिए नहीं खुल सके। मोटर मार्ग अवरुद्ध होने से जिले के 90 से अधिक गांवों का संपर्क जिला मुख्यालय से कटा हुआ है। शीघ्र मोटर मार्ग नहीं खुले तो इन क्षेत्रों में बीमार लोगों की दवा के साथ ही जरूरी सामान की किल्लत पैदा हो जाएगी।

वहीं गौरीकुंड हाईवे भी रविवार को सोनप्रयाग व गौरीकुंड के बीच अवरुद्ध रहा, जबकि रुद्रप्रयाग व तिलबाड़ा के बीच भी भटवाड़ीसैंड में बंद रहा। वहीं बद्रीनाथ हाईवे सुबह नरकोटा में अवरुद्ध था, लेकिन 8 बजे यहां पर आवाजाही सुचारू हो गई। वहीं उप जिलाधिकारी सदर बृजेश तिवारी ने कहा कि लोनिवि, पीएमजीएसवाई के अधिकारियों को ग्रामीण मोटर मार्ग शीघ्र खोलने के निर्देश दिए जा चुके हैं। मार्ग जल्द से जल्द खुलने की उम्मीद है।

पौड़ी: पौड़ी जनपद में 91 मोटर मार्गों पर रविवार को वाहनों की आवाजाही बाधित रही। जगह-जगह मलबा या भूस्खलन होने से यह स्थिति पैदा हुई। बंद हुए मार्गों में सतपुली-एकेश्वर मोटर मार्ग, मैठाणाघाट- ढौर-जाखणी-तकुलसारी, बैंजरो- जोगमंडी-सराईखेत, जिला मार्ग के अलावा मरचूला-सराईखेत-बैंजरों राज्य मार्ग भी बाधित भी शामिल हैं। भारी बारिश के चलते पाबौ ब्लाक के मिलाई गांव में एक आवासीय भवन का पुश्ता टूटने से भवन को व पौड़ी-श्रीनगर हाइवे पर मल्ली में भी एक घर में मलबा घुसने से मकान को खतरा पैदा हो गया। इसके अलावा गडोली गांव में भी एक मकान का पुश्ता ढहने से उसे खतरा पैदा हो गया है। बंद मार्गो को खोलने में बारिश बाधा बन रही है।

नई टिहरी: बारिश के कारण ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे ब्यासी के पास भारी मलबा आने के कारण सुबह करीब सात बजे बंद हो गया। मलबा हटाने के लिए यहां पर दो जेसीबी लगाई गई। दोपहर करीब एक बजे मलबा हटाए जाने पर करीब आठ घंटे बाद हाईवे सुचारू हो पाया। बीती शनिवार को भी ब्यासी के पास घंटों तक हाईवे बंद रहा था। लगातार हो रही बारिश से ग्रामीण क्षेत्रों में सड़कें बंद होने का सिलसिला जारी है। जिले के सीताकोट-बनाली, घुत्तु-गंगी, बागी-सिलारी, सेंदुल-घोंटी, गजा-तमियार, रामपुर-श्यामपुर, बनाली-तल्ली, गहड़ पल्या, डागर-कोठार, सुपाणा-द्वारी, मोलका-कुंडी, खोलधार-पंयाकोटी, नैनीसैण-भटवाड़ा, गड़ ग्रामीण मोटर मार्ग बंद हैं, जिससे ग्रामीणों को आवागमन में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं बारिश से प्रतापनगर के गोदड़ी में विवेक नौटियाल ने नवनिर्मित भवन का आंगन क्षतिग्रस्त हो गया ह,ै जिससे भवन को खतरा बना है। जिले में अभी तक बारिश से नुकसान के समाचार नहीं हैं।

उत्तरकाशी : यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग रविवार को सात घंटे तक बंद रहा। रविवार की सुबह करीब चार बजे खरादी के पास आलवेदर निर्माण क्षेत्र में भारी भूस्खलन हुआ। ऑलवदेर रोड का निर्माण करने वाली कंपनी की टीम मौके पर पहुंची तथा हाईवे को सुचारू करने में जुटी। करीब सात घंटे बाद रविवार दोपहर राजमार्ग सुचारू हुआ। वहीं जनपद में चार संपर्क मार्ग बंद हैं, जिन्हें खोलने के लिए पीएमजीएसवाई और लोनिवि की टीम जुटी हुई है।

------------------------

रुद्रप्रयाग जिले में मोटर मार्ग अवरुद्ध की सूची:-

लोक निर्माण विभाग रुद्रप्रयाग के अंतर्गत-:14 मोटर मार्ग अवरुद्ध

लोक निर्माण विभाग ऊखीमठ के अंतर्गत-:10 मोटर मार्ग अवरुद्ध

पीएमजीएसवाई रूद्रप्रयाग के अंतर्गत-:7 मोटर मार्ग अवरुद्ध

पीएमजीएसवाई जखोली के अंतर्गत-: 9 मोटर मार्ग अवरुद्ध

--------------------

चमोली जनपद की स्थिति

जनपद में बंद संपर्क मोटर मार्गों की संख्या- 87 जनपद में हाईवे की स्थिति

कर्णप्रयाग ग्वालदम हाईवे- नलगांव, पंती, थराली तिराहा में मलबा आने से अवरुद्ध

कर्णप्रयाग गैरसैंण हाईवे- जंगलचटटी में मलबा आने से अवरुद्ध

ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे- कंचनगंगा, रड़ांग बैंड, गोविदघाट, टैया पुल में मलबा आने से अवरुद्ध

जोशीमठ-मलारी हाईवे- रैंणी में सड़क टूटने से अवरुद्ध, वैकल्पिक मार्ग से हो रही है पैदल आवाजाही जनपद में पेयजल की स्थिति

गोपेश्वर,घाट व कर्णप्रयाग में पेयजल योजनाएं क्षतिग्रस्त होने से पेयजल आपूर्ति ठप ------------

नई टिहरी में बंद मार्ग

बंद मार्ग हाईवे- 1 ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे ब्यासी में।

बंद सड़के - 14

संपर्क से कटे गांव - 20

पेयजल प्रभावित क्षेत्र- नहीं

विद्युत प्रभावित क्षेत्र- नहीं

झील का जलस्तर- 751.90

गंगा का जलस्तर 339.80

---------------------

जनपद उत्तरकाशी की स्थिति

रविवार 20 जून

-चारधाम हाईवे की स्थिति- गंगोत्री और यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग सुचारू

-मुख्य मार्गों पर फंसे यात्रियों की संख्या- 00

जिले में कुल सडकें अवरुद्ध- 3

जिले में मार्गों से संपर्क कटे गांवों की संख्या- 4

नदियों का जल स्तर-

भागीरथी का जल स्तर - चेतवानी तल से करीब डेढ़ मीटर नीचे

टौंस नदी का जल स्तर- चेतावनी तल से 0.80 मीटर नीचे है।

यमुना नदी चेतावनी तल 0.50 मीटर नीचे बह रही है

----------------

पौड़ी जनपद में कुल बंद मार्गो की संख्या-91

राज्य मार्ग-1

जिला मार्ग- 4

पौड़ी शहर में बिजली आपूर्ति सुचारु।

पौड़ी शहर में पानी की आपूर्ति बाधित।

---------------- फोटो,,

फोटो। 20 जीओपीपी 2

कैप्शन। भारी बारिश के बाद पिडर नदी में बहे सिमली मोटर पुल के गार्डर। जागरण

उत्तरकाशी फोटो चार,,,,

रुद्रप्रयाग फोटो एक,,,,

फोटो- 20पीएयूपी-1,,,,,

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.