दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Indo-china Border: चीन सीमा पर अग्रिम चौकी पर पहुंचे आइटीबीपी के डीजी, जवानों के साथ की 18 किलोमीटर की ट्रैकिंग

चीन सीमा पर अग्रिम चौकी पर पहुंचे आइटीबीपी के डीजी, जवानों के साथ की 18 किलोमीटर की ट्रैकिंग। जागरण

Indo- china Border भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल (आइटीबीपी) के महानिदेशक एसएस देसवाल ने बदरीनाथ के पास देश के अंतिम गांव माणा में अग्रिम चौकी का दौरा किया। यहां उन्होंने जवानों से मुलाकात की और उनका मनोबल बढ़ावा।

Raksha PanthariSat, 02 Jan 2021 07:48 AM (IST)

संवाद सहयोगी, गोपेश्वर (चमोली)। Indo-china Border भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल (आइटीबीपी) के महानिदेशक एसएस देसवाल ने बदरीनाथ के पास देश के अंतिम गांव माणा में अग्रिम चौकी का दौरा किया। यहां उन्होंने जवानों से मुलाकात की और उनका मनोबल बढ़ावा। इसके अलावा उन्होंने औली में जवानों के साथ 18 किलोमीटर की ट्रैकिंग भी की।    

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के महानिदेशक एसएस देसवाल 30 दिसंबर को औली पहुंचे। इस दौरान उन्होंने जवानों के साथ समय बिताया। तीन दिन के प्रवास के दौरान उन्होंने सीमावर्ती क्षेत्र का भी जायजा लिया। शुक्रवार को उन्होंने औली में भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल के पर्वतारोहण और स्कीइंग संस्थान का निरीक्षण किया और 80 अधिकारियों और जवानों के साथ औली से 18 किलोमीटर दूर गोरसो तक बर्फीले रास्ते पर ट्रैकिंग की। 

बातचीत के दौरान एसएस देसवाल ने जवानों को नसीहत दी कि उन्हें प्रतिदिन कम से कम आधा घंटा व्यायाम के लिए वक्त निकालना चाहिए। फिट इंडिया कैंपेन के तहत प्रत्येक जवान और अधिकारी को इसे अपने जीवन में आवश्यक रूप से अपनाना चाहिए। 

यहां पढ़ें कुछ और खबरें 

भाजपा ने स्वरोजगार से युवाओं को दी नई दिशा

भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष रघुवीर सिंह बिष्ट ने सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि सरकारी विभागों में रिक्त पदों को भरने के साथ गैरसैंण में पहाड़ों का तेजी से विकास करने का संकल्प लिया। लोनिवि निरीक्षण भवन में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जन भावनाओं के अनुरूप गैरसैंण भराड़ीसैंण को राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाकर और राज्य स्थापना दिवस पर 25000 करोड़ रुपये की विकास अवस्थापना मद की घोषणा करना पहाड़ के प्रति संवेदनशीलता दर्शाता है।  

यह भी पढ़ें- उत्‍तराखंड में हवाई सुरक्षा मजबूत करने को लगेंगे राडार, पढ़ि‍ए पूरी खबर

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.