शहीद स्मारक तोड़ने पर कांग्रेसी भड़के

शहीद स्मारक तोड़ने पर कांग्रेसी भड़के
Publish Date:Thu, 22 Oct 2020 06:49 PM (IST) Author: Jagran

जागरण टीम, गढ़वाल: ऋषिकेश में अतिक्रमण हटाने के दौरान शहीद स्मारक तोड़े जाने पर कांग्रेसियों में उबाल है। कांग्रेसियों ने जगह-जगह सरकार का पुतला दहन कर विरोध दर्ज किया।

गोपेश्वर में कांग्रेसियों ने मुख्य कार्यालय से बस स्टेशन तक रैली निकाली। यहां पर प्रदेश सरकार के विरोध में नारेबाजी कर मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। बस स्टेशन पर आयोजित आम सभा में कांग्रेसियों ने कहा कि राज्य आंदोलन के दौरान कई लोग शहीद हुए। उनकी याद में ऋषिकेश में भी शहीद स्मारक बनाया गया था। परंतु सरकार ने अतिक्रमण के नाम पर शहीद स्मारक को ही तोड़ दिया। कहा कि प्रदेश सरकार जन भावनाओं से खिलवाड़ करने पर तुली हुई है। कांग्रेस इस प्रकार की घटनाओं का पुरजोर विरोध करेगी। इस अवसर पर ब्लाक अध्यक्ष आनंद सिंह पंवार, प्रदेश सदस्य अरविंद नेगी, हरेंद्र सिंह राणा, दीवान सिंह बिष्ट, प्रदीप सिंह नेगी, गोपाल सिंह रावत, महेंद्र सिंह नेगी, अरुणा डंडवासी, मयंक बिष्ट समेत अन्य कांग्रेसी शामिल थे।

पौड़ी में भी ऋषिकेश में शहीद स्थल व धार्मिक स्थल पर तोड़फोड़ से आक्रोशित कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी कार्यालय परिसर के बाहर राज्य सरकार का पुतला फूंका। कांग्रेसियों ने मूसागली पुल मामले में कांग्रेस नेताओं पर मुकदमा दर्ज किए जाने पर भी सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध दर्ज कराया। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य मनीष खंडूड़ी ने कहा कि सरकार ने ऋषिकेश में विकास के नाम पर शहीद स्मारक व कुछ धार्मिक स्थल तोड़ दिए हैं, जो सरकार की शहीदों के प्रति उपेक्षापूर्ण कार्यशैली का दर्शाता है। उन्होंने कहा कि भाजपा एक ओर धर्म की राजनीति करती है। लेकिन दूसरी ओर सत्ता में आने पर धार्मिक स्थलों को ही निशाना बनाने का काम करती है। पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष पौड़ी केशर सिंह नेगी, प्रदेश सचिव कांग्रेस कमेटी सरिता नेगी व जिलाध्यक्ष कांग्रेस कमेटी कामेश्वर राणा ने कहा कि पाबौ स्थित मूसागली में पुल निर्माण पर खुशी के कार्यक्रम को लेकर प्रदेश सरकार प्रतिशोध की भावना से काम कर रही है। प्रदेश सरकार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर दर्ज मुकदमें तत्काल वापस लेने चाहिए। इससे पहले वरिष्ठ कांग्रेस नेता मनीष खंडूड़ी ने शहर के बस अड्डा, धारा रोड, अपर बाजार, एजेंसी चौक सहित विभिन्न मोटर मार्गों पर जनसंपर्क किया। साथ ही खंडूड़ी जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन कर रहे राज्य आंदोलनकारियों व नागरिक कल्याण मंच के कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों से मुलाकात कर सहयोग का भरोसा दिया। इस अवसर पर नगर अध्यक्ष विनोद बिष्ट, सेवादल अध्यक्ष युद्धवीर सिंह रावत, जिलाध्यक्ष एनएसयूआई गौरव सागर, जिला उपाध्यक्ष विनोद दनोसी, तामेश्वर आर्य, कमला रावत, उपेंद्र रावत, नितिन बिष्ट, अनूप कंडारी, वीरेंद्र रावत, वीर प्रताप आर्य आदि मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.