top menutop menutop menu

किड़ईधार में बच्चे पर झपटा गुलदार, दादा की तत्परता से बची जान

जागरण संवाददाता, बागेश्वर: दुग-नाकुरी तहसील के किडईधार में 6 वर्षीय बच्चे पर गुलदार ने हमला कर दिया। बच्चे के दादा की तत्परता से उसकी जान बच पाई। ग्रामीणों ने जल्द गुलदार को पकड़ने की मांग की है। बीते सोमवार की देर सांय रीमा क्षेत्र के किड़ईधार निवासी दीवानी राम के 6 वर्षी पुत्र नरेंद्र कुमार अपने घर के पास आंगन में खेल रहा था। तभी अचानक घर के पास ही झाड़ियों में छुपे गुलदार ने नरेंद्र पर हमला कर दिया। गुलदार के हमले को देख बच्चा चिल्लाया। वहां पास पर खड़े उसके दादा ने बच्चे की आवाज सुनी। उन्होंने पास पर रखी पानी से भरी बाल्टी गुलदार के ऊपर फेंक दी और शोर मचाने लगे। जिसके बाद गुलदार मौके से भाग गया। गुलदार के हमले में बच्चे के पीठ पर दो घाव आए, अगर कुछ देर हो जाती या बच्चा अकेला होता तो गुलदार उसे आसानी से अपना निवाला बना देता। घटना के बाद घायल बच्चे को परिजन रीमा स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए। चिकित्सकों ने उपचार के बाद बच्चे को घर भेज दिया। घटना की खबर सुनते ही जिला पंचायत सदस्य पूरन गड़िया, पूर्व प्रधान तिलक गोस्वामी, योगेश हरड़िया, जगदीश चौहान, कुंदन रैखोला, रमेश रैखोला आदि मौके पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि वन विभाग अभी तक गुलदार को पकड़ नहीं पाया है। जिससे क्षेत्रवासियों में डर व्याप्त है। कई बार वह हमला कर चुका है। वन विभाग जल्द गुलदार को पकड़े ताकि हमारे बच्चे, महिलाएं, बुजुर्ग सुरक्षित जीवन बसर कर सकें। ========= गुलदार ने बच्चे पर हमला किया है। गांव में पिजड़ा आदि लगाकर गुलदार को पकड़ा जाएगा। इसके लिए टीम कार्रवाई करने लगी है।

- नारायण दत्त पांडे, रेंजर, धमरघर रेंज बागेश्वर

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.