गंभीर हालत में गर्भवतियां हो रहीं हल्द्वानी रेफर

करोड़ों की लागत से बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए बने मेडिकल कालेज में प्रसव की सुविधा तक शुरू नहीं हो सकी है। आधुनिक तकनीकयुक्त उपकरणों से सुसज्जित कालेज में अब तक प्रसव की सुविधा शुरू नहीं होने से गर्भवतियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

JagranWed, 08 Dec 2021 04:43 PM (IST)
गंभीर हालत में गर्भवतियां हो रहीं हल्द्वानी रेफर

यासिर खान, अल्मोड़ा

करोड़ों की लागत से बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए बने मेडिकल कालेज में प्रसव की सुविधा तक शुरू नहीं हो सकी है। आधुनिक तकनीकयुक्त उपकरणों से सुसज्जित कालेज में अब तक प्रसव की सुविधा शुरू नहीं होने से गर्भवतियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। यहां न ही अब तक आपरेशन और न ही सामान्य प्रसव की सुविधा मिल पा रही है। हाल यह है कि गर्भवतियों को स्वजनों ने बेस ले जाना ही बंद कर दिया है। गर्भवतियां एकमात्र महिला अस्पताल के सहारे हैं।

सरकार के बड़ी-बड़ी इमारतों के बीच विभिन्न सुविधाएं शुरू कराने के दावे खोखले साबित हो रहे हैं। हालांकि बीते दिनों बेस में इमरजेंसी आपरेशन शुरू हुए। लेकिन प्रसव शुरू नहीं होने से गर्भवतियों की जान संकट में हैं। स्थानीय लोगों को अस्पताल में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिलने का इंतजार है।

18 लाख की आबादी का हायर सेंटर मेडिकल कालेज

मेडिकल कालेज अल्मोड़ा के अलावा पिथौरागढ़, चम्पावत, बागेश्वर जिलों का हायर सेंटर भी है। चारों जिलों की आबादी लगभग 18 लाख है। स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव में मेडिकल कालेज में कोई मरीज आना नहीं चाहता है। इन जिलों से सभी लोग हल्द्वानी और बरेली के अस्पतालों का रुख करते हैं। गर्भवतियों की जिदगी पहाड़ में हमेशा ही खतरे में रहती है।

45 बेड के महिला अस्पताल के भरोसे गर्भवतियां

महिला अस्पताल में गर्भवतियों और प्रसूताओं के लिए 39 सामान्य, दो प्राइवेट और चार पेइंग वार्ड हैं। यहां चार स्त्री रोग विशेषज्ञ हैं। इन्हीं के हवाले जिले की आधी आबादी के स्वास्थ्य की जिम्मेदारी है। गंभीर होने से यह भी हायर सेंटर हल्द्वानी ही रेफर करते हैं। सप्ताह भर के अंदर प्रसव की सुविधा भी शुरू हो जाएगी। गर्भवतियों को यहीं बेहतर सुवधाएं मिल सकेंगी। इसके लिए पूरी तरह से प्रयास किए जा रहे हैं।

- डा. सीपी भैसोड़ा, प्राचार्य अल्मोड़ा

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.