समन्वय बनाकर समस्याओं का करें निस्तारण

जागरण संवाददाता, अल्मोड़ा: जनपद में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति में रेखीय विभाग के अधिकारियों को केन्द्रीय कपड़ा राज्यमंत्री अजय टम्टा ने निर्देश दिये कि वे आपसी समन्वय बनाकर ग्रामीण क्षेत्रों की समस्याओं का निस्तारण करना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि वन भूमि अधिनियम से सम्बन्धित जो मामले जनपद के लम्बित है उनका निस्तारण वनाधिकारी व कार्यदायी संस्था मिलकर करेंगे।

इस महत्वपूर्ण बैठक में घुरसों-छाना मोटर मार्ग की शिकायत जो पूर्व में हुयी थी उसकी जॉच केन्द्रीय टीम द्वारा करायी गयी है। टीम द्वारा अपनी जॉच रिर्पोट में कहा गया है कि मोटर मार्ग में आ रहे मोड़ को बनाने के साथ ही सुरक्षा दीवार, कलमठ व अन्य की मरम्मत किया जाना है। उन्होंने ग्रामीण निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे तुरन्त इस रोड में कार्य प्रारम्भ करा दें। इसी तरह तोली-मल्ली तोली रोड जो प्रधानमंत्री सड़क योजना द्वारा बनायी जा रही है उसमें ग्रामीणों से मिलकर आपसी सहमति बनाकर उस पर कार्य किया जाय। रेलाकोट मोटर मार्ग को आरटीओ कार्यालय जोड़ने के निर्देश देते हुए उन्होंने लोक निर्माण विभाग व प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना से जुड़े अधिकारियों से कहा कि इस कार्य को प्राथमिकता से किया जाय। केन्द्रीय कपड़ा राज्यमंत्री ने खैरना पुल से एक नई वैकल्पिक सड़क बनाने का प्रस्ताव भी तैयार किया जाय ताकि आपदा के समय उसका उपयोग हो सके।

...........

क्षतिग्रस्त पेयजल लाइन की मरम्मत शुरू कराएं

केंद्रीय राज्यमंत्री ने उन्होंने निर्देश दिए कि सड़क निर्माण के दौरान जो पेयजल योजना क्षतिग्रस्त हुई थी उसमें यदि पैसा कार्यदाय संस्था से दे दिया गया है तो उसका काम शुरू कर दिया जाए। उन्होंने डीएम को निर्देश दिये कि वे अपने स्तर पर बैठक बुलाकर समस्याओं का निस्तारण कर दें। इस बैठक में महात्मा गॉधी ग्रामीण रोजगार गारण्टी योजना अन्तर्गत किये व्यय पर संतोष व्यक्त किया और कहा कि इसी तरह कामो में तेजी लायी जाए। जो पेयजल योजनायें क्षतिग्रस्त हुई हैं उनका कार्य प्रारम्भ कर दिया जाए। उन्होंने देवलीखान प¨म्पग योजना के बारे में जानकारी ली। जनपद में जो भी बड़ी पेयजल योजनायें चल रही है उसमें यदि बजट की कमी है तो उसका प्रस्ताव बना कर दें ताकि उसमें बजट उपलब्ध कराया जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि इन योजनाओं का लोकार्पण केन्द्रीय जल संशाधन मंत्री से कराया जायेगा। केन्द्रीय कपड़ा राज्यमंत्री ने जनपद की सभी पेयजल योजनाओं की विस्तृत जानकारी ली।

इस समीक्षा बैठक में केन्द्रीय कपड़ा राज्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना अन्तर्गत अभी तक कितने लोगो को चिन्हित किया गया है तथा नये शासनादेशों के अनुसार कितने लोगो को चिन्हित किया जाना है इस सम्बन्ध में भी जानकारी प्राप्त की।

बैठक में डीएम नितिन ¨सह भदौरिया, मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित ने आश्वस्त किया कि उनके द्वारा दिये गये निर्देशों का पालन कर कार्रवाई की जायेगी। इस बैठक में परियोजना निदेशक ग्राम्य विकास नरेश कुमार,

जिला विकास अधिकारी केके पंत, सीएमओ डा. विनीता शाह, प्रभागीय वनाधिकारी पंकज कुमार, विधायक द्वाराहाट महेश नेगी, ब्लॉक प्रमुख हवालबाग सूरज सिराड़ी, धौलादेवी पीताम्बर पाण्डे, जिलाध्यक्ष भाजपा गो¨वद ¨सह पिलखवाल आदि मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.