सुध नहीं ली तो चुनाव का करेंगे बहिष्कार

संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : ग्राम पंचायतों को नगर पालिका क्षेत्र में शामिल किए जाने का विरोध मंगलवार को भी जारी रहा। दुगालखोला, रैलापाली ग्राम पंचायतों के ग्रामीणों ने इसके विरोध में गांधी पार्क में धरना दिया। कहा कि यदि जल्द ग्रामीणों के हितों की सुध नहीं ली गई तो वह आगामी चुनावों का बहिष्कार करने को बाध्य होंगे। कहा हितों की अनदेखी किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

गांधी पार्क में हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि वह लंबे अर्से से इस समस्या का जल्द समाधान किए जाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन इसके बाद भी उनकी कोई सुध नहीं ली जा रही है। इससे ग्रामीणों में रोष बढ़ता जा रहा है। उनका कहना था कि ग्रामीणों को ग्रामीण ही रहने दिया जाए। उन्हें पालिका में शामिल किए जाने से उन पर अनावश्यक करों का बोझ पड़ेगा। उनका कहना था कि पालिका पहले से ही निर्धारित वार्डो के नागरिकों को तो सुविधाएं नहीं दे पा रही है, अब जबरन ग्रामीणों को उनकी इच्छा के विरूद्ध पालिका में शामिल कर दिया गया है। जिसे ग्रामीण कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे। कहा गया कि यदि जल्द सुध नहीं ली गई तो ग्रामीण आगामी चुनावों का बहिष्कार करेंगे। साथ ही प्रदेश सरकार का पुतला दहन कर अपना आक्रोश व्यक्त करेंगे। उनका कहना था कि धरने को 18 दिन हो चुके हैं, अब तक न तो कोई जनप्रतिनिधि पहुंचा और न ही कोई प्रशासन का व्यक्ति, कहना था कि यह सब शासन की हठधर्मिता को ही दर्शाता है। धरने पर महंत योगी सुंदरनाथ, ग्राम प्रधान मीरा देवी, रंजना टम्टा, रिंकू आर्या, पार्वती देवी, चंदन रावत, हर्ष कनवाल, अंबी राम, देवी दत्त लखचौरा, राकेश लोहनी, गिरीश जोशी, संजय थापा, आनंद कनवाल, महेश चंद्र, दीप सुंदर बिष्ट समेत इंदिराकॉलोनी तथा खगमराकोट के ग्रामीण मौजूद थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.