चौखुटिया में निकाली गई भव्य जगन्नाथ रथ यात्रा

विकास खंड के प्रयागेश्वर महादेव मंदिर परिसर में चल रहे भगवान जगन्नाथ महोत्सव में धूमधाम से रथ यात्रा निकाली गई।

JagranSun, 19 Sep 2021 10:32 PM (IST)
चौखुटिया में निकाली गई भव्य जगन्नाथ रथ यात्रा

संस, चौखुटिया: विकास खंड के प्रयागेश्वर महादेव मंदिर परिसर में चल रहे भगवान जगन्नाथ महोत्सव के दूसरे दिन रविवार को भगवान की भव्य रथ यात्रा निकाली गई। इसमें भक्तजनों की अटूट श्रद्धा व आस्था का सैलाब उमड़ आया। इस दौरान श्रद्धालुओं ने रथ की रस्सी खींचकर भगवान के प्रति अपनी अटूट विश्वास जगाया। इसमें हरिनाम भजनों की ने ऐसा रंग जमाया कि सभी श्रद्धालु भक्तिभाव में डूब गए। महोत्सव का आयोजन प्रतिवर्ष अंतरराष्ट्रीय श्रीकृष्ण भावना संघ की ओर से किया जाता है।

सुबह से ही आयोजन स्थल पर चहल-पहल शुरू हो गई। इस मौके पर प्रभु जगन्नाथ, बलदेव व सुभद्रा की मूर्तियों की सजावट की गई। पारंपरिक विधि-विधान से उनका पूजन हुआ एवं वृंदावन से आए भक्तजनों ने जगन्नाथ यात्रा का वृतांत सुनाया। कहा कि जो श्रद्धालु भगवान जगन्नाथ के मंदिर का दर्शन नहीं कर पाते हैं, भगवान जगन्नाथ रथ पर आरूढ़ होकर उन्हें दर्शन देते हैं। इसलिए पूरे देश में जगह-जगह पर भगवान की रथ यात्राएं निकाली जाती हैं।

दोपहर करीब 12 बजे भगवान जगन्नाथ, बलदेव व सुभद्रा की आरती उतारी गई एवं उन्हें मंत्रोच्चारण के बीच 56 प्रकार के भोग लगाए गए, फिर विधि-विधान से उन्हें रथ पर आरूढ़ किया गया। 2 बजे शंख ध्वनि के बीच हरे रामा-हरे कृष्णा.के स्वरों के बीच श्रद्धालुओं ने रथ की रस्सी खींचकर रथ यात्रा की शुरूआत की। जो भटकोट, ढ़ौन, रतनपुर होते हुए पूरे चौखुटिया नगर में धूमी। शाम अगनेरी माता मंदिर पहुंचकर समापन हुआ। अंत में संयोजक जय गोबिंद प्रभु ने सभी का धन्यवाद किया।

----------------------------

जगन्नाथ को परोसे गए 56 प्रकार के भोग

भटकोट में आयोजित जगन्नाथ महोत्सव में भगवान को 56 प्रकार के व्यंजन तैयार कर भगवान को परोसे गए। जो काफी आकर्षक रहा। इस दौरान भजनों की प्रस्तुति ने सभी को भक्तिभाव में डूबो दिया। शाम को व्यंजन प्रसाद के रूप में श्रद्धालुओं को बांटे गए।

------------------------------

ग्रामीणो के सहयोग से महोत्सव का आयोजन

चौखुटिया के भटकोट में बीते कई वर्षो से जगन्नाथ महोत्सव का आयोजन होते आ रहा है। कार्यक्रम ग्रामवासियों के सहयोग से स्थानीय भक्त जय गोबिंद दास के संयोजन में होता है। गत वर्ष कोरोना काल में महोत्सव स्थगित रहा, लेकिन इस वर्ष धूमधाम से संपन्न हुआ।

------------------------------

बाहर से इन भक्तों ने की भागीदारी

महोत्सव में देश-विदेश से जगन्नाथ भगवान के भक्त पहुंचते हैं। इस बार विभिन्न क्षेत्रों से आए अभिराम प्रभु, गौर गुणामणी, असीम कृष्णदास, दामोधर प्रभु, सोनू, आशुतोष प्रभु, जय प्रभु, विष्णु प्रभु, विश्वास प्रभु, सुनील प्रभु, तहेदल प्रभु, अरबिंद प्रभु आदि ने भागीदारी की।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.